गंगा यात्रा के समापन पर बोले सीएम योगी- फर्रुखाबाद में दरिंदे को मारकर पुलिस ने अच्छा काम किया

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • कानपुर में यात्रा का समापन गृहमंत्री अमित शाह को करना था, लेकिन उनका दौरा निरस्त हो गया
  • बिजनौर और बलिया से होते हुए कानपुर आई यात्रा का गंगा के अटल घाट पर हुआ समापन

कानपुर. बिजनौर और बलिया से शुरू होकर कानपुर पहुंची गंगा यात्रा का सीएम योगी ने स्वागत किया। उन्होंने फर्रुखाबाद की घटना का जिक्र करते हुए कहा- 1 दरिंदा 23 बच्चों को कब्जे में लिए था, लेकिन मां गंगा के अशीर्वाद से सभी बच्चे सकुशल हैं और दरिंदे को पुलिस ने मार गिराया गया है। पुलिस ने सराहनीय काम किया है।

नमामि गंगे प्रोजेक्ट से अविरल हुई गंगा: योगी
योगी ने कहा कि कहा कि कानपुरवासी जानते हैं कि नमामि गंगे का सबसे क्रिटिकल प्वाइंट यही था, लेकिन यहां पर बदलाव हुआ है। उसकी रिपोर्ट प्रधानमंत्री को दी तो उन्होंने राष्ट्रीय गंगा परिषद की पहली बैठक यहीं पर रखी। पहले जाजमऊ में मछलियां मर जाती थीं, लेकिन अब स्थिति सुधरी है। नमामि गंगे परियोजना से लोग गंगा में डुबकी लगा रहे हैं। 5 दिनों की 1338 किलोमीटर की गंगा यात्रा में विभिन्न तरह के रचनात्मक कार्यक्रम हुए।

क्या है गंगा यात्रा
यह यात्रा देश के 87 विधानसभा क्षेत्रों, 26 लोकसभा क्षेत्रों और 27 जिलों से होते हुए कानपुर पहुंची। दोनों यात्राएं सड़क मार्ग से 1,238 और नाव से 150 किमी की दूरी तय करती हुई यहां तक पहुंची। 27 जनवरी को राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने बलिया से और सीएम योगी आदित्यनाथ ने बिजनौर इस यात्रा की शुरुआत की थी।