--Advertisement--

सदन में खुद नहीं खड़े हो पाते राहुल, बोलने के समय कांग्रेस नेताओं के पढ़ते हैं लेटर; मायावती डूबता जहाज हैं: साध्वी निरंजन ज्योति

राहुल ने अमेठी में कहा था- सदन में 10 मिनट हमें मिल जाए तो पीएम मोदी खड़े नहीं हो पाएंगे।

Dainik Bhaskar

Apr 19, 2018, 06:07 PM IST
साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा कि 60 सालों में कुछ भी नहीं किया अब सपने देख रहे हैं। साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा कि 60 सालों में कुछ भी नहीं किया अब सपने देख रहे हैं।

फतेहपुर. यूपी के फतेहपुर जिले में एक कार्यकम में शिरकत करने पहुंची जिले सांसद और केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर जमकर हमला बोला। उन्होंने राहुल गांधी के संसद में 15 मिनट भाषण देने का मौका मिल जाए तो पीएम खड़े नहीं हो पाए के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि- "खड़े होने की स्थिति राहुल की नहीं है। राहुल गांधी जब सदन में बोल नहीं पाते हैं तो अपने नेताओं की लिखी हुई चिट्ठी (लेटर) सदन में पढ़ते हैं। सदन से 10 बार अंदर-बाहर करते हैं।

- साध्वी ने कहा कि अगर इनमे हिम्मत होती तो सदन को बाधित नहीं करते और सरकार इनके सवाल का जवाब देने को तैयार थी। यह खुद नहीं चाहते सदन में बहस हो चर्चा हो जिससे कांग्रेस कटघरे में खड़ी होगा। बाहर बोलना सरल है कांग्रेस ने इस बजट सत्र को बाधित किया है। जनता ने कांग्रेस को नकारा है और राहुल के अध्यक्ष बनने के बाद हमारी पार्टी ने तीन और राज्यों में सरकार बनाई है।

60 सालों में नहीं किया विकास अब सपने देख रहे हैं
- वहीं, राहुल द्वारा अमेठी को 15 साल में सिंगापुर व कैलिफ़ोर्निया बना दिये जाने के बयान पर उन्होंने कहा कि जो 60 साल में नहीं बना पाए अब बनाने का सपना देख रहे हैं। आजादी के बाद से हमारे प्रधानमंत्री ने जो काम किया है अगर इन्होंने किया होता तो यह सब कहने की जरूरत नहीं पड़ती। राहुल सिंगापुर तो नहीं बना पाएंगे लेकिन इस देश का माहौल जरूर खराब करेंगे। साधु संतों को कांग्रेस द्वारा आतंकी घोषित कर जेल में डाला गया था। हिन्दू आतंकवाद को एक रंग देने का काम किया था। राहुल गांधी देश का ध्यान भटका रहे हैं राहुल देश से माफी मांगे और ऐसे लोगों पर एफआईआर होनी चाहिए जिन लोगों ने साधु संतों को फर्जी दस्तावेज बनाकर आतंकवादी घोषित किया था।


फांसी और मानसिकता दोनों में तालमेल नहीं
- केंद्र सरकार व राज्य सरकार द्वारा नाबालिग के साथ रेप के मामले में फांसी का कानून बनाए जाने के मामले में साध्वी निरंजना ज्योति ने कहा कि कानून बनाना और मानसिकता दोनों में तालमेल नहीं होगा। इस तरह के घृणित अपराध रोकना बहुत कठिन होता जा रहा है। बेटियों के साथ हो रहे घृणित कार्य हमारे संस्कारों की कमी है।
- कानून बनना चाहिए ताकि लोगों में भय बना रहे। उन्होंने उमा भारती द्वारा लड़कियों के साथ छेड़खानी करने वाले लोगों का समाज से बहिष्कार करने वाले बयान का समर्थन करते हुए कहा कि कानून अपना काम करे और समाज को आगे आकर ऐसा घृणित कार्य करने वालों का बहिष्कार करना चाहिए और दंड देना चाहिए।

मायावती डूबता जहाज
-मायावती व आईएनएलडी हरियाणा में दोनों साथ मिलकर चुनाव लड़ने के सवाल पर निरंजना ज्योति ने कहा कि मायावती डूबती हुई जहाज है। डूबते हुए को तिनके का सहारा ही काफी होता है इसलिए मायावती अपनी पार्टी की साख बचाने के लिए गठबंधन करते फिर रही हैं।
- विश्व हिन्दू परिषद द्वारा अयोध्या में मस्जिद नहीं बनने के मामले पर सासंद ने कहा कि हमारे देश का जो कोर्ट व न्यायालय हैं। प्रमाण पर आधारित न्याय करते हैं वहां पर सारे प्रमाण मौजूद हैं राम मंदिर होने के। राम मंदिर के पक्ष में फैसला होगा और मुझे पूरा विश्वास है कि वहां पर राम मंदिर बनेगा।

राहुल गांधी ने अमेठी दौरे पर कहा था हमें सदन में बोलने का मौका नहीं मिलता। राहुल गांधी ने अमेठी दौरे पर कहा था हमें सदन में बोलने का मौका नहीं मिलता।
X
साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा कि 60 सालों में कुछ भी नहीं किया अब सपने देख रहे हैं।साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा कि 60 सालों में कुछ भी नहीं किया अब सपने देख रहे हैं।
राहुल गांधी ने अमेठी दौरे पर कहा था हमें सदन में बोलने का मौका नहीं मिलता।राहुल गांधी ने अमेठी दौरे पर कहा था हमें सदन में बोलने का मौका नहीं मिलता।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..