इटावा / शिवपाल का रामगोपाल पर तंज, छह साल पहले बन गया होता मुख्यमंत्री पर मुंशी ने परिवार को अलग कर दिया

सैफई में शिवपाल ने मनाया मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन। सैफई में शिवपाल ने मनाया मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन।
X
सैफई में शिवपाल ने मनाया मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन।सैफई में शिवपाल ने मनाया मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन।

  • शिवपाल यादव ने सैफई में मनाया मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन
  • कहा- मैंने परिवार को एक करने की हर कोशिश की, लेकिन एक ने ऐसा करने नहीं दिया

दैनिक भास्कर

Nov 22, 2019, 07:24 PM IST

इटावा. सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का 81वां जन्मदिन शुक्रवार लखनऊ में मनाया गया, जिसमें परिवार व पार्टी के तमाम नेता शामिल हुए। वहीं, प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने मुलायम का जन्मदिन सैफई में मनाया। यहां उन्होंने चन्दगीराम स्टेडियम में दंगल कुश्ती का आयोजन किया। इस मौके पर शिवपाल पुरानी बातों को याद कर बोले कि, अगर मैं चाहता तो 2003 में मुख्यमंत्री बन गया होता। जब तक नेताजी दिल्ली से लौटकर आते, मैं शपथ ले चुका होता। अगर मैं नेताजी से उस समय बोल देता तो भी वो मुझे मुख्यमंत्री बना देते। लेकिन हमने कभी नही चाहा।

शिवपाल ने सपा महासचिव राम गोपाल यादव पर तंज कसते हुए कहा- नेताजी (मुलायम) प्रधानमंत्री बन जाते, लेकिन उनकी भूल समझो या गलती। एक कहावत है अगर आप बिजनेस में मुनीम को मालिक बना देंगे तो भट्ठा बैठेगा ही। कुछ ऐसा ही नेताजी ने भी किया। कहा- मैंने परिवार को एक करने के लिए हमेशा से प्रयास करता रहा, लेकिन लिखिया मुंशी ने पार्टी का भट्ठा बैठा दिया। कहा- जब मैं मंत्री था तो किसानों, नौजवानों व मजदूरों के लिए बहुत किया। लोहिया जी की विचारधारा समाजवादी थी, आज लोग लोहिया की विचाराधारा भूलते जा रहे हैं। लोहिया जी की विचारधारा त्याग की थी। 

शिवपाल ने कहा-  मैं झुकने को तैयार हूं, अगर आप लोग चाहो तो हम कार्यकर्ता बनकर काम करने को तैयार हैं। लेकिन नेता जी का सम्मान करना पड़ेगा। आप सभी जनता एक मंच पर पंच बैठा कर जो बोल दोगे हम उसके लिए भी तैयार हैं। 

परिवार को एक करने की पहल अखिलेश को करनी चाहिए

युवजन सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित जानी ने कहा- भतीजा चाचा की पगड़ी के लिए क्या कुछ नहीं कर देता। लेकिन पहल शिवपाल सिंह ने की। कितनी बेइज्जती सही, उसके बाद भी परिवार को एक करने की पहल की। अगर शकुनि का तिलिस्म टूट जाता तो परिवार को एक करने की पहल अखिलेश जी की तरफ से होती। लेकिन, माया जाल टोना टोटका जारी है। तिलिस्म जब टूटेगा तब उनको पता चलेगा कि हमारी साख को खराब कर दिया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना