कानपुर / कांग्रेस के युवा नेता की गोली मारकर हत्या, पैसे के लेन देन में हुई घटना



कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर के साथ शोएब खान (फाइल फोटो) कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर के साथ शोएब खान (फाइल फोटो)
Young Congressman shot dead in broad daylight,
X
कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर के साथ शोएब खान (फाइल फोटो)कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर के साथ शोएब खान (फाइल फोटो)
Young Congressman shot dead in broad daylight,

  • घटना के बाद से ही आरोपी फरार, पुलिस तलाश में जुटी
  • आरोपी के पिता पुलिस में चालक के पद पर हैं तैनात

Dainik Bhaskar

Oct 09, 2019, 05:54 PM IST

कानपुर. जिले के चकेरी इलाके में बुधवार को दिनदहाड़े एक युवा कांग्रेस नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्या का आरोपी रवि यादव पुलिसकर्मी का बेटा बताया जा रहा है। वारदात के बाद से ही वो फरार है।

आरोपी ने लाइसेंसी रायफल से युवक को गोली मारी है। पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।

 

पुलिस को मिली शुरुआती जानकारी के अनुसार रवि यादव के पिता यशवंत यादव उन्नाव के हसनगंज थाने में चालक पद पर तैनात हैं। उन्होंने घर पर टीनशेड लगाने के लिए प्रशांत के पिता को 80 हजार रुपए का ठेका दिया था। मामले में 50 हजार रुपए एडवांस दिए जाने की भी बात सामने आई है। आरोप है कि काम नहीं होने पर रवि यादव ने बुधवार को प्रशांत को पकड़कर घर में बंधक बना लिया था।

 

सूचना मिलने पर प्रशांत के समर्थन में युवा कांग्रेस के एक स्थानीय नेता शोएब खान अपने साथियों के साथ वहां आ पहुंचे। आरोप है कि इन लोगों ने रवि के घर पर बवाल शुरू कर दिया, जिसके बाद रवि अपने घर में रखी लाइसेंसी रायफल ले आया और उसने शोएब पर गोली चला दी। गोली लगने से शोएब की मौके पर ही मौत हो गई।

 

पुलिस के अनुसार मामले में आरोपी पक्ष से दो लोगों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस मामला दर्ज कर फरार रवि यादव की तलाश कर रही है।

 

एसपी ने बताया कि लेनदेन के विवाद में प्रशांत की तरफ से शोएब आया था, जिसकी गोली लगने से मौत हुई है। आरोपित रवि की तलाश कराई जा रही है। 

मृतक शोएब खान कांग्रेस युवा संगठन का सचिव था। पिछले तीन वर्षो से पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के संपर्क में था। 

बस्ती में भाजपा नेता की गोली मारकर हत्या
इससे पहले यूपी के बस्ती में बुधवार सुबह भाजपा के एक नेता कबीर तिवारी की दो हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। कबीर गोली लगने के बाद गंभीर रूप से घायल हुए थे, उन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां से लखनऊ ट्रॉमा सेंटर के लिए रेफर कर दिया था। लेकिन लखनऊ ले जाने के दौरान रास्ते में ही कबीर की मृत्यु हो गई। पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना