--Advertisement--

बहराइच: बिना नोटिस के तोड़ी गई व्यापारी की 100 साल पुरानी दुकान, 20 लाख का नुकसान

व्यापारी का कहना है कि बिना किसी नोटिस के मेरी दुकान गिरा दी गई है।

Dainik Bhaskar

May 11, 2018, 03:21 PM IST
व्यापारी का कहना है कि सांसद के दबाव में आकर दुकान तोड़ी गई है। व्यापारी का कहना है कि सांसद के दबाव में आकर दुकान तोड़ी गई है।

बहराइच. जिले के नानपारा में सफाई अभियान के नाम पर कुछ दुकानों की टीन हटाने के बाद स्थानीय प्रशासन एवं पालिका प्रशासन ने व्यापारी एके श्रीवास्तव को कोई नोटिस दिये बिना ही उसकी दुकान जेसीबी से तोड़वा दी। जिससे व्यापारी का करीब 20 लाख रुपए का नुकसान हुआ। इस सिलसिले में धर्मेन्द्र कान्त श्रीवास्तव पुत्र कृष्ण कान्त श्रीवास्तव ने जिलाधिकारी बहराइच, प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री, राज्यपाल, प्रेस परिषद, मुख्य न्यायधीश हाईकोर्ट इलाहाबाद, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा, मंत्री अनुपमा जायसवाल, मुकुट बिहारी वर्मा, राज्य मानवाधिकार आयोग, नानपारा विधायक माधुरी वर्मा, पुलिस अधीक्षक और एसडीएम को लेटर लिखा है।


- लेटर में लिखा है कि उनके पूर्वजों ने लगभग 100 वर्ष पूर्व नानपारा कोतवाली के निकट विश्वनाथ मन्दिर एवं कुएं का निर्माण कराया था। मेरे पिता स्व केके श्रीवास्तव ने 1990 में अपनी बहुमुल्य भूमिदान करके मिथलेश नन्दनी रेशमा आरिफ स्नातक महाविद्यालय की नींव रखी थी।
- इस समय मैं सतरूपा अष्टभुजा दुर्गा मन्दिर का निर्माण कर रहा हूं मेरा परिवार सदैव जनसेवा में तन मन धन से लगे रहे हैं। श्रीवास्तव का आरोप है कि मुख्यमंत्री के पोर्टल का दुरूपयोग करके दुकान तोड़वाई गयी है।

क्या कहा व्यापारी ने
- 63 वर्षीय व्यापारी का कहना है कि वह अपनी बहन के इलाज के लिए पीजीआई गया था। तभी 20 साल पुरानी फर्म को बिना नोटिस दिये सार्वजनिक कुआ हटाने के नाम पर जेसीबी से दुकान को ध्वस्त कर दिया गया जबकि कुंआ जहां भी वहीं स्थित है।
- नानपारा निवासी राकेश तिवारी सांसद दहन मिश्रा के करीबी रिश्तेदार जिनसे मेरा एक वाद एसडीएम नानपारा के यहां विचारधीन है। पुरानी रंजिश में मुख्यमुत्री को पोर्टल पर 21 बार राजस्व विभाग सहित कई विभागों में शिकायत डाली गई और सांसद के दबाव में नियम कानून को ताक पर रखकर दुकान को तोड़ दिया गया।

नियम कानून को ताक पर रखकर तोड़ी गयी व्यापारी की दुकान। नियम कानून को ताक पर रखकर तोड़ी गयी व्यापारी की दुकान।
X
व्यापारी का कहना है कि सांसद के दबाव में आकर दुकान तोड़ी गई है।व्यापारी का कहना है कि सांसद के दबाव में आकर दुकान तोड़ी गई है।
नियम कानून को ताक पर रखकर तोड़ी गयी व्यापारी की दुकान।नियम कानून को ताक पर रखकर तोड़ी गयी व्यापारी की दुकान।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..