--Advertisement--

देवारिया के बाद हरदोई के शेल्टर होम से गायब मिलीं 19 लड़कियां, रजिस्टर में 21 की थी उपस्थिति

डीएम पुलकित खरे ने मंगलवार को सुधार गृह का अचानक निरीक्षण किया

Danik Bhaskar | Aug 08, 2018, 12:27 PM IST

हरदोई. देवरिया के मां विंध्यवासिनी बालिका संरक्षण गृह में खुलासे के बाद हरदोई जिले के शेल्टर होम से महिलाओं के गायब होने का मामला सामने आया है। जांच में बालिका संरक्षण गृह से 21 महिलाओं में से 19 महिलाएं गायब मिले जबकि रजिस्टर पर सभी महिलाओं की उपस्थिति दर्ज थी। डीएम पुलकित खरे ने मंगलवार को सुधार गृह का अचानक निरीक्षण किया और पूछताछ किया। जीएम ने बताया कि यहां पर 21 महिलाएं उपस्थित होने चाहिए लेकिन सिर्फ दो महिलाएं मिली और बाकी गायब थी जिनका अभी कोई पता नहीं चल पाया है।

जबरन बैठाई गईं महिलाएं: जब प्रशासन ने पूरे मामले पर जांच बैठाई तो सुधार गृह के संचालिका और सहायिका ने क्षेत्र के अन्य महिलाओं और किशोरियों को किसी काम के बहाने बुलाकर वहां बैठा लिया। बाद में पता चला कि इन महिलाओं को जबरन कुछ काम बता कर 1 घंटे के लिए यहां लाया गया था लेकिन जब वहां टाइम ज्यादा लग गया तो महिलाओं और किशोरियों को घबराहट होने लगी क्योंकि सुधार गृह को प्रशासन ने अपने कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी थी। एक लड़की ने बताया कि इस सुधार गृह में नीरू तिवारी नाम की महिला हैं जो कि इस संस्था की सहायिका हैं। वह यह कह कर इसे लाई थीं कि कुछ काम है हमारे साथ चलो और 1 घंटे में चली जाना।

ग्रामोद्योग समिति द्वारा किया जा रहा है संचालन: बताया जा रहा है कि इस शेल्टर होम का संचालन आयशा ग्रामोद्योग समिति द्वारा किया जाता है। जिलाधिकारी ने जब पूरे शेल्टर होम का निरीक्षण किया तो उन्हें यहां कई कमियां मिलीं। वहीं, 19 महिलाओं के गायब होने की बात जिलाधिकारी ने वहां मौजूद अधीक्षिका से पूछी तो उनके पास कोई संतोषजनक जवाब नहीं था।