5वीं पास चपरासी के 62 पोस्ट के लिए 3,700 पीएचडी, बी.टेक और एमबीए छात्रों ने भी किया APPLY

Bhaskar News | Aug 31,2018 18:28 PM IST

लखनऊ। पुलिस विभाग में चपरासी संदेशवाहक के 62 पदों के लिए योग्यता पांचवी पास और साइकिल चलाना आना जरूरी है। इस पद के लिए आये 93 हजार आवेदनों में बड़ी संख्या उच्च शिक्षितों की है। लगभग 50 हजार ग्रेजुएट, 28 हजार मास्टर डिग्री वालों ने भी आवेदन किया है। चपरासी बनने की कतार में 3700 पीएचडी, बी.टेक और एमबीए कर चुके छात्रों ने भी आवेदन किया हैं। कुल आवेदकों में से सिर्फ 7400 ही ऐसे हैं जो पांचवीं से 12वीं तक ही पढ़े हुए है। एडीजी (टेलिकॉम) पीके तिवारी ने कहा है कि बीटेक, एमबीए और पीएचडी वालों के आवेदनों को देखते हुए इस बार से टेस्ट का पैटर्न बदला जा रहा है। टेस्ट में जनरल नॉलेज, बेसिक मैथ्स और रीजनिंग के सवाल होंगे।

उत्तर प्रदेश: अब सुल्तानपुर जिले का नाम बदलने की शुरू हुई कवायद, विधानसभा सत्र में चर्चा के लिए प्रस्ताव हुआ पास

DainikBhaskar.com | Aug 31,2018 16:48 PM IST

बीजेपी विधायक देवमणि का कहना है कि अयोध्या से सटे सुल्तानपुर जिले को भगवान श्रीराम के पुत्र कुश ने बसाया था और इसे कुशभवनपुर नाम से जाना जाता था। यहीं सीताजी ठहरी थीं, उनकी याद में आज भी सीताकुंड घाट है। सुल्तानपुर के गजेटियर में भी इस बात का उल्लेख है कि इसका नाम कुशभवनपुर ही था। उस समय मुगलों ने इसका नाम बदल दिया था। ऐसे में इसका पुराना नाम होने से जहां गर्व की अनुभूति होगी वहीँ सांस्कृतिक महत्व भी बढ़ेगा।

बदायूं: भीड़ ने चोरों को पीटा फिर कराया मुंडन; पुलिस के सामने ही गांव में घुमाया

DainikBhaskar.com | Aug 31,2018 15:19 PM IST

कुंवरगाँव थाना क्षेत्र स्थित गंज गाँव में रहने वाले नत्थूलाल का ट्रैक्टर बुधवार रात घर के बाहर खड़ा था। रात में किसी समय चोर उनके ट्रैक्टर की बैटरी चोरी करके ले गए। गुरुवार सुबह नत्थूलाल सोकर उठे तो उन्हें बैटरी चोरी का पता चला। उसके बाद उन्होंने थाने में तहरीर दी।

यूपी पुलिस में प्यून के 62 पद के लिए आए 93 हजार आवेदन, इनमें 3700 पीएचडी धारक भी

Bhaskar News | Aug 31,2018 04:46 AM IST

उत्तर प्रदेश में पुलिस विभाग में चतुर्थ श्रेणी संदेशवाहक (प्यून) के 62 पदों पर भर्ती के लिए 93 हजार आवेदन आए हैं। इनमें करीब 50 हजार ग्रेजुएट, 28 हजार पोस्ट ग्रेजुएट के अलावा 3700 पीएचडी धारक भी शामिल हैं। कुल आवेदकों में से सिर्फ 7400 ही ऐसे हैं जो पांचवीं से 12वीं तक ही पढ़े हुए हैं।