Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» 18 Thousands PAC Will Recruited In Uttar Pradesh

दो साल में PAC को मिलेंगे 18 हजार जवान, SDRF का होगा गठन, सोशल वेलफेयर में रहेंगे सक्रिय

एसडीआरएफ के गठन को लेकर पीएससी मुख्यालय में डीजी की अध्यक्षता में एक सेमि‍नार का आयोजन हुआ।

dainikbhaskar.com | Last Modified - Nov 06, 2017, 11:43 PM IST

  • दो साल में PAC को मिलेंगे 18 हजार जवान, SDRF का होगा गठन, सोशल वेलफेयर में रहेंगे सक्रिय
    +4और स्लाइड देखें
    लखनऊ.ऊंचाहार में एनटीपीसी में हुए हादसे के बाद नेशनल ड‍िजास्टर र‍ि‍पॉन्स फोर्स (SDRF) के गठन को लेकर पीएससी मुख्यालय में डीजी की अध्यक्षता में एक सेमि‍नार का आयोजन हुआ। इसमें अगले दो सालों में पीएसी को 18 हजार नए जवान मिलेंगे। पीएसी आईजी ए सतीश गणेश ने प्रेजेंटेशन के दौरान बताया, सिपाहियों की कमी से जूझ रही पीएसी को नए जवान मिलने से मजबूती मिलेगी। इसके जरिये सामाजिक कार्यों में पीएसी की भागीदारी बढ़ेगी। इसके अलावा नए पीएसी जवानों की एक अलग बटालियन बनाकर एसडीआरएफ को और भी प्रभावशाली बनाया जा सकेगा। अगले दो साल में करीब 18 हजार जवान पीएसी में भर्ती किए जाएंगे, जो सोशल वेलफेयर के मामलों में सक्रिय रहेंगे। इससे यूपी पुलिस के तनाव को भी कम किया जा सकेगा। डीजीपी बोले, कल्याणकारी योजनाएं चलाई जाएंगी...
    -डीजीपी सुलखान सिंह ने कहा, आने वाले दो साल के भीतर पीएसी में 18 हजार जवानों की भर्ती की जाएगी।
    -उन्होंने पीएसी जवानों के लिए कल्याणकारी योजनाएं चलाए जाने पर जोर दिया। डीजीपी ने कहा, पीएसी में प्राथमिकता के आधार पर एसडीआरएफ बटालियन का गठन किया जाएगा। ये बातें उन्होंने सोमवार को पीएसी मुख्यालय में आयोजित पीएसी कमांडेंट की समीक्षा बैठक को संबोधित करने के दौरान कही।
    -बता दें, आगामी 16 और 17 दिसंबर को पीएसी दिवस मनाया जाएगा। इससे पहले समीक्षा बैठक आयोजित की गर्ई थी।
    -इस मौके पर डीजीपी ने कहा, पीएसी बल के जवान जिस परिश्रम, लगन और निष्ठा से अपने कर्तव्यों को अंजाम देते हैं, जो सराहनीय है।

    एडीजी पीएससी ने की कार्यों की समीक्षा
    -एडीजी पीएसी राज कुमार विश्वकर्मा ने एजेंडा के विभिन्न बिंदुओं पर पीएसी कमांडेट्स की कार्यप्रणाली की समीक्षा की।
    -इनमें प्रमुख रूप से वाहिनियों में वृक्षारोपण, भोजनालयों की व्यवस्था, मृतक आश्रितों के सेवायोजन के मामले, वाहिनियों में आवासीय और अनावासीय भवनों के संबंध में, डेंगू, मलेरिया की बीमारियों के बचाव, प्राविजनिंग एवं बजट, निर्माण कार्यों की स्थिति, मेट्रो सुरक्षा, हाउस गार्द, भर्ती एवं प्रोन्नति, बैरकों और मार्डन स्कूलों की स्थिति, पीएसी दिवस की तैयारियों और जीएसटी आदि बिन्दुओं पर समीक्षा की गई।
    -पीएसी कमांडेंट्स को निर्देशित किया गया कि वह कम्युनिटी पुलिसिंग की दिशा में गंभीर प्रयास करें। मसलन हेल्थ कैंप आयोजित किए जाएं। ग्रामीण इलाकों में स्पोर्ट कैंप लगाए जाएं।
    -पीएसी जवानों के परिवारों के कल्याण के लिए कैंप और कम्प्यूटर सेंटर खोले जाएं। इस मौके पर आईजी पीएसी ने पीएसी अधिष्ठान, वित्त और कानूनी मामलों के संबंध में प्रस्तुतीकरण दिया। कामर्शियल टैक्स विभाग के अफसरों ने जीएसटी से संबंधित मामलों पर प्रस्तुतीकरण दिया।
  • दो साल में PAC को मिलेंगे 18 हजार जवान, SDRF का होगा गठन, सोशल वेलफेयर में रहेंगे सक्रिय
    +4और स्लाइड देखें
  • दो साल में PAC को मिलेंगे 18 हजार जवान, SDRF का होगा गठन, सोशल वेलफेयर में रहेंगे सक्रिय
    +4और स्लाइड देखें
  • दो साल में PAC को मिलेंगे 18 हजार जवान, SDRF का होगा गठन, सोशल वेलफेयर में रहेंगे सक्रिय
    +4और स्लाइड देखें
  • दो साल में PAC को मिलेंगे 18 हजार जवान, SDRF का होगा गठन, सोशल वेलफेयर में रहेंगे सक्रिय
    +4और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×