--Advertisement--

राहुल गांधी के लिए मंगवाए गए 10 कुंतल गुलाब, रास्ते में खाई चाय-पकौड़ी

राहुल गांधी कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनने के बाद पहली बार अमेठी दौरे पर हैं।

Danik Bhaskar | Jan 15, 2018, 04:14 PM IST

अमेठी (यूपी). कांग्रेस प्रेसिडेंट राहुल गांधी सोमवार को दो दिवसीय दौर पर अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी पहुंचे। गुजरात की तर्ज पर राहुल गांधी ने यूपी में मंदिर जा कर भगवान के दर्शन किए। अमेठी वासियों का आज अपने सांसद राहुल गांधी को कांग्रेस के नेशनल प्रेसीडेंट के रूप में देखने के बाद खुशी का ठिकाना नहीं रहा। जगह-जगह पुष्प वर्षा भी की गई। बताया जा रहा है कि उनके स्वागत के लिए अमेठी भर में 10 कुंतल फूलों का ऑर्डर दिया गया है।

मकर संक्रांति पर की पूजा
- बता दें, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लखनऊ एयरपोर्ट से मोहनलालगंज, सलोन होते हुए अमेठी जिले में पहुंचे। यहां कांग्रेस के लोगों ने उनका जोरदार स्वागत किया।
- कांग्रेस नेता दीपक सिंह ने बताया, राहुल गांधी ने अपने अमेठी दौरे के दौरान मकर संक्रांति का दान और पूजा भी की।

भगवान के दर्शन के साथ उठाया चाय-पकौड़ी का लुत्फ
- अमेठी में एंट्री से पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का काफिला अमौसी एयरपोर्टी से निगोहा होते हुए सलोन पहुंचा था। इस दौरान रायबरेली जाते वक्त दर्शन के लिए वो हनुमान मंदिर भी गए।
- यहां चुरवा हनुमान मंदिर में राहुल ने पूजा-अर्चना की। वहीं निगोहा स्थित एक ढाबे में उन्होंने चाय-पकौड़ी का भी लुत्फ उठाया। राहुल गांधी के साथ इस दौरान प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर, सांसद प्रमोद तिवारी आदि वरिष्ठ नेता मौजूद रहे।

गौरीगंज में 2 कुंतल फूलों का हुआ ऑर्डर
- कांग्रेस प्रवक्ता अनिल सिंह ने बताया, मंगलवार को राहुल गांधी अमेठी में रोड शो और पदयात्रा करेंगे। इस दौरान कई जगहों पर उनका सम्मान भी होगा।
- करीब 10 कुंतल गुलाब के फूल राहुल गांधी पर बरसाए जाने के लिए ऑर्डर किए जा चुके हैं। इसमें केवल गौरीगंज में 2 कुंतल फूल ऑर्डर किए गए हैं।
- इसके अलावा राहुल गांधी की पसंदीदा मिठाइयां भी बांटने की तैयारी की गई है। लोकगीतों और लोकनर्तकों की टोलियों को भी प्रस्तुतियों के लिए तय कर लिया गया है। फिलहाल तय कार्यक्रम के मुताबिकख, रोड शो और पदयात्राओं से राहुल गांधी जनता से संपर्क करेंगे।
- दौरे के दूसरे दिन वो मुसाफिरखाना में जनसंपर्क करते हुए गौरीगंज पहुंचेंगे। गौरीगंज में उनकी पदयात्रा का कार्यक्रम है। जगदीशपुर, मोहनगंज, रायबरेली-लखनऊ मार्ग से वो दिल्ली वापस होंगे। जगह-जगह फूलों की वर्षा के कार्यक्रम भी तय किए गए हैं।