--Advertisement--

योगी-मोदी के नोएडा जाने पर अखिलेश का तंज; अच्छा हुआ, नोएडा गए...अब असर दिखाई देगा

नोएडा और लखनऊ मेट्रो को लेकर अखिलेश यादव ने तंज कसा।

Danik Bhaskar | Jan 07, 2018, 12:31 PM IST
योगी और मोदी के नोएडा दौरे को ल योगी और मोदी के नोएडा दौरे को ल

लखनऊ. सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने नरेंद्र मोदी और योगी सरकार पर तंज कसा। उन्होंने कहा, "अच्छा हुआ, हमें नोएडा मेट्रो के इनॉगरेशन प्रोग्राम में नहीं बुलाया गया। तस्वीरों में हमने देखा सीएम भी मेट्रो को झंडी नहीं दिखा पाए। हम लोगों के लिए एक और अच्छी बात है कि दोनों लोग नोएडा गए थे। नोएडा जाने के बाद इसका असर दिखाई देगा, आप समझ सकते हैं।" बता दें कि 25 दिसंबर को नोएडा में मेजेंटा लाइन के इनॉगरेशन के वक्त मोदी और योगी वहां गए थे।

नोएडा जाने वाले सीएम की सरकार चली जाती है

- 29 साल से नोएडा को लेकर ये मिथक चल रहा था कि नोएडा का दौरा करने वाले सीएम को दोबारा सत्ता नहीं मिलती। योगी ने इस मिथक को तोड़ा।

- सत्ता संभालने के बाद पहली बार 23 दिसंबर को योगी नोएडा गए। उसके दो दिन बाद 25 दिसंबर को योगी मेजेंटा लाइन के इनॉगरेशन के वक्त पहुंचे थे।

धोखे की राजनीति करने वालों से हमारा मुकाबला: अखिलेश

- अखिलेश ने कहा, "हम हर तरह से जनता के लिए लड़ने को तैयार है। हमारा मुकाबला धोखे की राजनीति करने वालों से हैं। हम विकास की राह पर हैं। हम इसे लेकर चल रहे हैं। हमारी लड़ाई जाति और धर्म की राजनीति करने वालों से है। बीजेपी को जातिवादी पार्टी बताते हुए कहा कि हम सामाजिक न्याय की लड़ाई लड़ेंगे।"

EVM से वोटिंग पर बोले अखिलेश

- ईवीएम से वोटिंग को लेकर अखिलेश ने कहा, " हम चाहते हैं कि 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले होने वाले उपचुनाव में वोटिंग ईवीएम के बजाए बैलट पेपर से हो।"

- "हम तकनीकी की अच्छी समझ रखते हैं, लेकिन हम ये जानना चाहते हैं कि अगर ईवीएम खराब हो जाती है, तो उसे कैसे ठीक किया जाता है। चिप के जरिए पेट्रोलपंप पर तेल चोरी की शिकायतें मिली है। जब चिप से तेल चोरी हो सकता है, क्या कोई ईवीएम में चिप के जरिए ऐसा कुछ नहीं कर सकता।"

- "हमने शनिवार (6 जनवरी) को इसलिए सभी बीजेपी विरोधी पार्टियों की बैठक बुलाई थी, ताकि ऐसा माहौल बने कि 2019 से पहले होने वाले उपचुनाव ईवीएम के बजाए बैलट पेपर से हों।"

स्वेटर को लेकर तंज कसा

- अखिलेश ने कहा, "सर्दी में स्वेटर बंटने चाहिए थे। सबसे बड़ी पार्टी की प्रदेश सरकार है। एक करोड़ पार्टी के वर्कर है। एक-एक स्वेटर इस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने अगर बुना होता तो प्रदेश के स्कूल में बच्चों को स्वेटर मिल जाते।"

- "सुना है सैफई महोत्सव के बाद अब गोरखपुर महोत्सव हो रहा है। नया साल है, आप मीडिया के लोग है पता करिए । कितना खर्च हो रहा है। किसका महोत्सव बेहतर हुआ है।"

- बता दें कि योगी सरकार ने गोरखपुर में होने वाले इस महोत्सव के लिए 33 करोड़ रुपए जारी किए हैं।

- "योगी सरकार आलू की जांच करा रही है। जो काम सरकार करना चाहिए था, वो नहीं कर रही है। अगर सरकार आलू खरीदती, तो सड़कों पर आलू नहीं होता। सरकार हिमाचल में जाकर बता रही है, हमने सारा आलू खरीद लिया है। जिन बातों का जवाब यहां देना चाहिए, उसका जवाब कहीं और दिया जा रहा है।"

कब तक गुजरात मॉडल पर ठगते रहोगे: अखिलेश

अखिलेश ने कहा- योगी सरकार ने आगरा एक्सप्रेस-वे पर चलने वाली कारों के अलावा बाइक पर भी टोल टैक्स लगा दिया है। हमारी सरकार आएग, तब एक्सप्रेस-वे पर 20 लाख तक गाड़ियों पर टोल टैक्स नहीं देना होगा।
-गुजरात मॉडल पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा- इसके नाम कब तक ठगते रहोगे। एक्सप्रेस वे हमने बनाया कोई टैक्स जनता से नहीं लिया। लेकिन आपने तो बाइक चलने पर भी टैक्स लगा दिया है। इनका बस चले, तो ये साइकिल वालों को सड़क पर चढ़ने ही नहीं देंगे। बता दें कि आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर टोल टैक्स लगाने का फैसला योगी सरकार ने लिया है।