--Advertisement--

नदवी पर आरोप: मस्जिद का दावा छोड़ने के लिए चाहते थे RS की सदस्यता, 1,000 करोड़ की डील

नदवी को AIMPLB ने निष्कासित कर दिया है।

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2018, 08:32 AM IST
अमरनाथ मिश्रा को श्रीश्री रविशंकर का करीबी माना जाता है। फाइल अमरनाथ मिश्रा को श्रीश्री रविशंकर का करीबी माना जाता है। फाइल

लखनऊ. अयोध्या सद्भावना समन्वय महासमिति के अध्यक्ष अमरनाथ मिश्रा ने ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के एग्जिक्यूटिव मेंबर रहे मौलाना सलमान नदवी पर आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि नदवी मस्जिद का दावा छोड़ने के एवज में 5,000  हजार करोड़ की डील चाहते थे। मिश्रा ने कहा कि जिस फार्मूले को लेकर सलमान नदवी और सुन्नी सेंट्रल बोर्ड के अध्यक्ष श्रीश्री रविशंकर से मिलने गए थे। उस फार्मूले के पीछे एक बड़ी डील करने की तैयारी थी। अमरनाथ मिश्र श्रीश्री रविशंकर के सबसे करीबी माने जाते हैं। मामले में मिश्रा ने हसनगंज थाने में मौलाना नदवी के खिलाफ रिश्वत लेने की शिकायत दर्ज कराई है। 

 

मिश्रा ने आरोप लगाया कि, 'मैंने 5 फरवरी को नदवी से मुलाकात की थी। हमने बाबरी मस्जिद-राम जन्मभूमि के मुद्दे पर चर्चा की। उन्होंने मुझसे इस मुद्दे पर एक लिखित प्रस्ताव देने के लिए कहा था। वह अयोध्या में मक्का की तरह एक और मस्जिद बनाना चाहते थे। इसके लिए उन्होंने 200 एकड़ जमीन, राज्यसभा में सदस्यता और 5,000 करोड़ रुपये की मांग की थी। "

 

क्या कहा नदवी ने?

- नदवी ने अमरनाथ मिश्रा के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि मैं किसी भी मिश्रा को नहीं जानता हूं। हम देश में शांति और समृद्धि का संदेश फैलाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि मिश्रा का आरोप  हिंदुओं और मुसलमानों के बीच तनाव बनाए रखने के लिए ऐसे मुद्दों को उठाए जा रहे हैं। 
- नदवी ने कहा कि मुझे दुबई और कुवैत नहीं खरीद सका ये लोग क्या खरीदेंगे। नदवी ने कहा कि मैं उन बाबाओं में नहीं हूं जो जेल में जाते हैं। हमारा काम आल्हा  और इंसानियत का काम है। खुदा उसे सजा देगा।

 

AIMPLB ने नदवी को किया था निष्कासित

- अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए सुलह का फॉर्मूला देने वाले मौलाना सैयद सलमान हुसैनी नदवी को ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) ने निकाल दिया है।
-आपको बता दें कि मौलाना नदवी ने कुछ दिन पहले आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर के साथ बेंगलुरु में बैठक के बाद अयोध्या विवाद सुलझाने के लिए फॉर्मूला दिया था।

फाइल। फाइल।
अमरनाथ ने हसनगंज थाने में शिकायत दर्ज कराई है। अमरनाथ ने हसनगंज थाने में शिकायत दर्ज कराई है।
X
अमरनाथ मिश्रा को श्रीश्री रविशंकर का करीबी माना जाता है। फाइलअमरनाथ मिश्रा को श्रीश्री रविशंकर का करीबी माना जाता है। फाइल
फाइल।फाइल।
अमरनाथ ने हसनगंज थाने में शिकायत दर्ज कराई है।अमरनाथ ने हसनगंज थाने में शिकायत दर्ज कराई है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..