--Advertisement--

बस एक मिस्ड कॉल से ऑन-ऑफ होगी बिजली, 1400 रु. में बनी ये डिवाइस

यशपाल ने DainikBhaskar.com से बात की और अपने डिवाइस और उससे होने वाले फायदे के बारे में जानकारी शेयर किया।

Dainik Bhaskar

Dec 19, 2017, 11:21 AM IST
ये डिवाइस किसानों के लिए बड़ी ही फायदेमंद है। खेतों में लगे ट्यूबवेल को ध्यान में रखकर इसे तैयार किया गया है। ये डिवाइस किसानों के लिए बड़ी ही फायदेमंद है। खेतों में लगे ट्यूबवेल को ध्यान में रखकर इसे तैयार किया गया है।

लखनऊ. यूपी के आगरा शहर के रहने वाले दसवीं के छात्र यशपाल ने 16 साल की उम्र में एक मिस्ड कॉल इलेक्ट्रिसिटी सेवर डिवाइस बनाया है। जिसे 'वायरलेस ऑन ऑफ सिस्टम फार ट्यूबेल' का नाम दिया गया है। मोबाइल की एक मिस्ड काल पर ये डिवाइस ट्यूबबेल को दूर से ही चालू और बंद कर सकती है। इससे और भी इक्यूपमेंट्स को कनेक्ट कर सकते हैं। यशपाल ने DainikBhaskar.com से बात की और अपने डिवाइस और उससे होने वाले फायदे के बारे में जानकारी शेयर किया।

फसल बेचकर जमा होती है फीस
- यशपाल बताते हैं, ''मेरा जन्म 14 अक्टूबर 2001 को टूंडला शहर के एक छोटे से गांव में हुआ था। पिता राम निवास किसान और मां रेखा देवी हाउस वाइफ हैं।''
- ''मेरे घर में दो भाई और दो बहन हैं। मैं सबसे बड़ा हूं। फसल बेचकर भाई-बहनों की फ़ीस जमा होती है। पापा की कोई फिक्स इनकम नहीं है।''
- ''फाइनेंसियल प्रॉब्लम के कारण घर की जरूरतें पूरा करने में प्रॉब्लम होती है। टीचर कापी किताब और अन्य जरूरतें पूरी करने में हेल्प करते है।''

ऐसे आया ये डिवाइस बनाने का IDEA
- ''मैं जब 14 साल का था तब पुराने मोबाइल से खेला करता था। एक दिन पुराने मोबाइल से खेलते टाइम मोबाइल को अंदर से खोलकर देखना शुरू किया। तभी मेरी नजर एक छोटी सी मोटर पर पड़ी।''
- ''मैंने देखा कि मोबाइल में बेल बजने पर मोटर घूमने लग रही है। मैंने उसी जगह पर तार से एक बड़ा मोटर जोड़कर मोबाइल पर मिस्ड काल देकर देखा, तब वो भी चलने लगा। मुझे मिस्ड कॉल इलेक्ट्रिसिटी सेवर डिवाइस बनाने का वहीं से आइडिया आया।''

किसानों के लिए है बड़े काम की है ये डिवाइस
- ''ये डिवाइस किसानों के लिए बड़ी ही फायदेमंद है। खेतों में लगे ट्यूबवेल को ध्यान में रखकर इसे तैयार किया गया है। इससे किसान घर पर बैठे हुए खेत का ट्यूबवेल चालू और बंद कर सकते हैं।''
- ''खेती के लिए इस मशीन का सबसे ज्यादा यूज किया जा सकता है। हांलाकि इससे और भी इक्यूपमेंट्स कनेक्ट किए जा सकते हैं। इस डिवाइस को बनाने के लिए 1400 रुपए का खर्च आता है। इसे कोई भी घर पर बना सकता है।''

ऐसे बनती है ये डिवाइस
- ''इस डिवाइस को बनाने के लिए दो चालू मोबाइल की कीपैड, डीवीडी कार्ड, दो मोबाइल सिम कार्ड एक प्लाई बोर्ड तार और पानी की पाइप की जरूरत पड़ती है।''
- ''प्लाई बोर्ड पर डीवीडी कार्ड और मोबाइल कीपैड को फिट करने के बाद उसे तार द्वारा आपस में जोड़ देते हैं। उसके बाद मोबाइल के नंबर पर मिस्ड काल देते हैं।''
- ''मोबाइल पर मिस्ड कॉल देते ही मोटर चालू हो जाता है और पाइप से पानी बाहर आने लगता है। उसके बाद दोबारा से उसी नंबर पर मिस्ड कॉल देने से मोटर काम करना बंद कर देता है। उसके बाद से पाने का निकलना बंद हो जाता है।''

किसान घर पर बैठे हुए खेत का ट्यूबवेल चालू और बंद कर सकते हैं। किसान घर पर बैठे हुए खेत का ट्यूबवेल चालू और बंद कर सकते हैं।
इससे और भी इक्यूपमेंट्स कनेक्ट किए जा सकते हैं। इससे और भी इक्यूपमेंट्स कनेक्ट किए जा सकते हैं।
Amazing device made by farmers son
Amazing device made by farmers son
X
ये डिवाइस किसानों के लिए बड़ी ही फायदेमंद है। खेतों में लगे ट्यूबवेल को ध्यान में रखकर इसे तैयार किया गया है।ये डिवाइस किसानों के लिए बड़ी ही फायदेमंद है। खेतों में लगे ट्यूबवेल को ध्यान में रखकर इसे तैयार किया गया है।
किसान घर पर बैठे हुए खेत का ट्यूबवेल चालू और बंद कर सकते हैं।किसान घर पर बैठे हुए खेत का ट्यूबवेल चालू और बंद कर सकते हैं।
इससे और भी इक्यूपमेंट्स कनेक्ट किए जा सकते हैं।इससे और भी इक्यूपमेंट्स कनेक्ट किए जा सकते हैं।
Amazing device made by farmers son
Amazing device made by farmers son
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..