--Advertisement--

GF को इम्प्रेस करने के ल‍िए BF ने क‍िया ये काम, पकड़े जाने पर खोला राज

लखनऊ. राजधानी की पारा पुल‍िस ने एक फर्जी दारोगा को अरेस्ट क‍िया है, जो गर्लफ्रेंड के ल‍िए ऐसा क‍िया।

Danik Bhaskar | Jan 05, 2018, 10:22 PM IST
3 महीने से फर्जी दारोगा बनकर रौब जमाता था ये युवक। 3 महीने से फर्जी दारोगा बनकर रौब जमाता था ये युवक।

लखनऊ. राजधानी की पारा पुल‍िस ने गुरुवार की शाम एक फर्जी दारोगा को अरेस्ट क‍िया है। पुल‍िस ने शुक्रवार को इसका खुलासा क‍िया। पूछताछ में आरोपी युवक ने बताया, उसकी गर्लफ्रेंड को पुल‍िस की वर्दी काफी पसंद थी। ऐसे में उसकी पसंद को पूरा करने के ल‍िए वर्दी और प‍िस्टल खरीदा। कुछ द‍िन बाद उससे कहा, ''मेरा दारोगा में सलेक्शन हो गया है। इसके बाद वर्दी में उसके पास पहुंचा तो काफी खुश हो गई। इसके बाद मैं वर्दी पहनकर घूमने लगा।'' आगे पढ़‍िए पूरा मामला...

- सीओ आलमबाग संजीव कुमार सिन्हा ने बताया, आरोपी की पहचान दिनेश सिंह पुत्र रामेश्वर पाल इटावा ज‍िले के ब‍िठौरी के रूप में हुई है।

- गुरुवार की देर शाम को पारा पुलिस ने काकोरी मोड़ नहरिया से चेकिंग के दौरान गिरफ्तार किया।

- आरोपी वर्दी में था। गाजियाबाद से कार से लखनऊ आ रहे तीन युवक कपिल गुप्ता, जोगिंदर और आदित्य से लखनऊ तक आने के लिए लिफ्ट मांगा।

- युवकों ने भी वर्दी देख कर लिफ्ट दे दी। जब आगरा एक्सप्रेस-वे होते हुए काकोरी मोड़ पर पहुंचे, तभी पारा पुलिस ने काली फिल्म चढ़ी होने के कारण उनकी गाड़ी रोक ली। इस पर दिनेश ने बताया कि वह गाजियाबाद क्राइम ब्रांच में कार्यरत है।
- बातचीत के दौरान पुलिस की नजर जब उसकी पिस्टल पर पड़ी तो प‍िस्टल कुछ अलग प्रकार का द‍िखा। इसके बाद पुल‍िस को शक हुआ।

- फ‍िर गाजियाबाद क्राइम ब्रांच से संपर्क क‍िया गया तो पता चला क‍ि इस नाम का कोई व्यक्ति विभाग में नहीं है। ऐसे में उसे थाने लाया गया। पूछताछ में उसने सारे राज खोल द‍िए।

आरोपी बोला- गर्लफ्रेंड को खुश करने के ल‍िए क‍िया ऐसा

-सीओ संजीव सिन्हा ने बताया क‍ि गिरफ्तारी के बाद आरोपी दिनेश पाल ने कहा, वो अपने एक परिचित के यहां जाता था, जो यूपी पुलिस में तैनात था। वहीं उसकी मुलाकात एक युवती से हुई और धीरे-धीरे दोनों के बीच प्रेम प्रसंग हो गया।
-इसके बाद पता चला क‍ि उसकी प्रेमिका को पुलिस की वर्दी पसंद है। इसके बाद उसकी ख्वाह‍िश को पूरी करने के ल‍िए 1700 रुपए में वर्दी खरीदी और 17 हजार का पिस्टल। फ‍िर उसे बताया क‍ि वह यूपी पुल‍िस में दारोगा बन गया है।

- आरोपी ने पूछताछ में बताया, वह मूलरूप से इटावा का रहने वाला है। उसकी गर्लफ्रेंड बाराबंकी में रहती है। उसी से म‍िलने आया था।
- पारा पुलिस ने 32 बोर के पिस्टल और दो जिंदा कारतूस बरामद करने के साथ ही विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज करके जेल भेज दिया है। फ‍िलहाल पुल‍िस मामले की जांच में जुटी है क‍ि इसका मुख्य मकसद क्या था।

-आरोपी भिंड के डिग्री कॉलेज से बीएससी है। इसके पिता किसान हैं। 4 भाइयों में सबसे छोटा है।

गर्लफ्रेंड को इम्प्रेस करने के ल‍िए खरीदा वर्दी और प‍िस्टल। (आरोपी बीच में) गर्लफ्रेंड को इम्प्रेस करने के ल‍िए खरीदा वर्दी और प‍िस्टल। (आरोपी बीच में)
बीएससी पास है आरोपी। बीएससी पास है आरोपी।
इसके पास से वर्दी, प‍िस्टल और दो ज‍िंदा कारतूत बरामद। इसके पास से वर्दी, प‍िस्टल और दो ज‍िंदा कारतूत बरामद।