Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Centre Government Present Triple Talaq Bill Today

तीन तलाक बिल पेश होने पर बांटेगें मिठाई : शाइस्ता अंबर, AIMPLB ने सरकार को लिखा लेटर

तीन तलाक बिल पर सरकार ने किसी संगठन की राय नहीं ली है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Dec 28, 2017, 09:35 AM IST

लखनऊ. तीन तलाक को क्रिमिनल ऑफेंस के दर्जे में लाने के लिए केन्द्र सरकार ने आज (गुरुवार) को लोकसभा में पास हो गया है। सरकार ने इस बिल को ‘द मुस्लिम वुमन प्रोटेक्शन ऑफ राइट्स ऑन मैरिज’नाम दिया है। वहीं, मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने सरकार से बिल न पेश करने की बात कही थी। इस बिल को लेकर तीन तलाक पीड़िताओं ने खुशी जाहिर की है। आगरा की एक पीड़िता ने फैजा खान ने कहा- "हम बहुत खुश हैं। मोदीजी और योगीजी द्वारा मुस्लिम महिलाओं के लिए शुरू की गई प्रक्रिया सफल हो रही है। ईद और बकरीद की तुलना में मुस्लिम महिलाओं के जीवन में यह दिन और अधिक महत्वपूर्ण होगा।"

-वहीं, लोकसभा में ट्रिपल तलाक पर बिल पेश होने के बाद कानपुर में मुस्लिम महिलाओं ने जश्न मनाया। जाजमऊ इलाके में ट्रिपल तलाक बिल पेश होने के बाद मुस्लिम महिलाओं ने मिठाईयां बांटी और पीएम मोदी के जिंदाबाद के नारे लगाते हुए मोदी के पोस्टर को मिठाई भी खिलाई। मुस्लिम महिलाएं मोदी भैया जिंदाबाद के नारे लगाए।
-नाज वारसी ने बताया- "हम लोगों ने आज जश्न मनाया है। केंद्र सरकार ने जिस तरह बिल पेश किया उससे हमें लगता है की हम महिलाओं को अब न्याय मिलेगा। जिसको लेकर हम लोगों ने मिठाईयां भी बांटी हैं। मोदी सरकार ने महिलाओं के दर्द को समझा और यह बिल पेश किया है।"

क्या कहना है पीड़िता का

-लखनऊ की एक पीड़िता ने बताया- "यदि तीन तलाक पर बिल बनता है तो हमें राहत मिलेगी।" कई मुस्लिम संगठनों ने इस बिल का विरोध किया है तो कई संगठनों ने सरकार द्वारा पेश किए जा रहे बिल का समर्थन किया है।

कई मुस्लिम संगठनों ने किया समर्थन

-ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड के प्रवक्ता मौलाना यासूब अब्बास ने कहा- "ट्रिपल तलाक बिल पर हम केंद्र सरकार के इस बिल का समर्थन करते हैं। हमे नहीं लगता कि केंद्र सरकार किसी के दबाव में आएगी। हमने ट्रिपल तलाक को लेकर खुद एक ड्राफ्ट तैयार कर AIMPLB को दिया था। अगर हमारी बात बोर्ड ने मानी होती तो आज इस तरह की नौबत नहीं आती। सभी राजनितिक पार्टियों को सियासत से ऊपर उठकर इस बिल का समर्थन करना चाहिए।"

-महिला महिला मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की अध्यक्ष शाइस्ता अंबर ने कहा- "सरकार द्वारा पेश किए जा रहे इस बिल का हम समर्थन करते हैं। बिल के पास होने पर हम मिठाइंया बांटेगे और पीएम मोदी का धन्यवाद देंगे।"

AIMPLB ने बिल पेश न करने के लिए पीएम मोदी को लिखा था लेटर

-AIMPLB के सचिव जफरयाब जिलानी ने कहा- "तीन तलाक बिल पर हमें जो करना था वो हमने सरकार को खत लिखकर कर दिया है। अब सरकार को जो करना है वो कर रही है। हम अभी बिल पेश होने तक इंतजार कर रहे हैं। इसके बाद कुछ फैसला लेंगे। जहां तक रही बात जनता में जाने की वो हम जा चुके हैं और लोगों को अवेयर कर रहे हैं।"

-"हमने कई और पार्टियों को खत लिखा है। ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड अभी बिल आने का इंतजार कर रहा है।"

रविवार को हुई थी बैठक


-ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ( AIMPLB) ने रविवार को लखनऊ में आज इमरजेंसी मीटिंग बुलाई थी। इसमें असदउद्दीन ओवैसी और जफरयाब जिलानी समेत तमाम बड़े नेता शामिल हुए थे।
-मीटिंग के बाद बोर्ड के सज्जाद नोमानी ने कहा- ट्रिपल तलाक पर लाए जाने वाले कानून के मसौदे पर हमसे कोई सलाह-मश्विरा नहीं किया गया। AIMPLB के प्रेसिडेंट प्रधानमंत्री से मिलेंगे और उनसे अपील करेंगे कि इस बिल को संसद में पेश ना किया जाए।
-बता दें कि सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के एक बार में ट्रिपल तलाक को गैर कानूनी करार दिए जाने के बाद अब इस पर कानून बनाने का फैसला किया है।

India Result 2018: Check BSEB 10th Result, BSEB 12th Result, RBSE 10th Result, RBSE 12th Result, UK Board 10th Result, UK Board 12th Result, JAC 10th Result, JAC 12th Result, CBSE 10th Result, CBSE 12th Result, Maharashtra Board SSC Result and Maharashtra Board HSC Result Online
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Lucknow News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: à¤à¥à¤°à¤¿à¤ªà¤² तलाठबि&a
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×