--Advertisement--

संस्कृत मां है, वो बहू-बेटी नहीं हो सकती है; इसके प्रचार के लिए जो भी धन लगेगा हम लगाएंगे: CM योगी

लखनऊ. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ बुधवार को उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थानम सम्मान समारोह में शिरकत करने पहुंचे।

Dainik Bhaskar

Feb 07, 2018, 02:55 PM IST
सीएम योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थानम सम्मान समारोह में शिरकत करने पहुंचे। सीएम योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थानम सम्मान समारोह में शिरकत करने पहुंचे।

लखनऊ. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ बुधवार को उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थानम सम्मान समारोह में शिरकत करने पहुंचे। यहां सीएम ने कहा, ''मुझे आश्चर्य है कि संस्कृत माध्यमिक परिषद का गठन सूबे में 17 साल बाद हुआ। पूरे प्रदेश में सभी विद्यालयों में संस्कृत की कार्यशाला अभियान के रूप में चलाई जाए। संस्कृत मां है, वो बहू-बेटी नहीं हो सकती है।''आगे पढ़िए सीएम ने और क्या कहा...

- सीएम ने कहा- ''संस्कृत से जुड़ी पांडुलिपियों को संग्रहित करना और फिर संस्कृत के विद्यार्थियों को शोध के लिए प्रेरित करना होगा। संस्कृत सनास्थान का बजट दुगने से ज्यादा बढ़ाया है। संस्कृत के प्रचार प्रसार के लिए जितने भी धन की जरूरत होगी हम लगाएंगे।''
- ''कोई संस्कृत का विरोध नहीं करता। लेकिन इसका विरोध तब आता है, जब अनुदान मिलने के बाद भी विद्यालयों में संस्कृत पढ़ाई नहीं जाती। संस्कृत के आचार्य अपने बच्चों को कॉन्वेंट में पढ़ाते हैं। संस्कृत के विद्वान ऐसा करेंगे तो दूसरों को कौन सिखा पाएंगे। संस्कृति की तुलना किसी चीज से मत करिए। संस्कृत मां है, वो बहू-बेटी नहीं हो सकती है।''

- बता दें, कार्यक्रम लोक भवन में आयोजित किया गया। इस दौरान यूपी के राज्यपाल राम नाईक भी सम्मान समारोह में मौजूद रहे।

सीएम ने कहा- मुझे आश्चर्य है कि संस्कृत माध्यमिक परिषद का गठन सूबे में 17 साल बाद हुआ। संस्कृत मां है, वो बहू-बेटी नहीं हो सकती है। सीएम ने कहा- मुझे आश्चर्य है कि संस्कृत माध्यमिक परिषद का गठन सूबे में 17 साल बाद हुआ। संस्कृत मां है, वो बहू-बेटी नहीं हो सकती है।
कार्यक्रम लोक भवन में आयोजित किया गया। इस दौरान यूपी के राज्यपाल राम नाईक भी सम्मान समारोह में मौजूद रहे। कार्यक्रम लोक भवन में आयोजित किया गया। इस दौरान यूपी के राज्यपाल राम नाईक भी सम्मान समारोह में मौजूद रहे।
X
सीएम योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थानम सम्मान समारोह में शिरकत करने पहुंचे।सीएम योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थानम सम्मान समारोह में शिरकत करने पहुंचे।
सीएम ने कहा- मुझे आश्चर्य है कि संस्कृत माध्यमिक परिषद का गठन सूबे में 17 साल बाद हुआ। संस्कृत मां है, वो बहू-बेटी नहीं हो सकती है।सीएम ने कहा- मुझे आश्चर्य है कि संस्कृत माध्यमिक परिषद का गठन सूबे में 17 साल बाद हुआ। संस्कृत मां है, वो बहू-बेटी नहीं हो सकती है।
कार्यक्रम लोक भवन में आयोजित किया गया। इस दौरान यूपी के राज्यपाल राम नाईक भी सम्मान समारोह में मौजूद रहे।कार्यक्रम लोक भवन में आयोजित किया गया। इस दौरान यूपी के राज्यपाल राम नाईक भी सम्मान समारोह में मौजूद रहे।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..