--Advertisement--

11 महीने की देरी से शुरु होगा मेदांता हॉस्पिटल, सीएम योगी आज करेंगे शुरुआत

15 अक्टूबर 2015 को इस हॉस्पिटल के निर्माण की शुरुआत की गई थी।

Danik Bhaskar | Dec 09, 2017, 11:55 AM IST
सीएम योगी ने लखनऊ में मेदांता सीएम योगी ने लखनऊ में मेदांता

लखनऊ. सीएम योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को मेदान्ता हास्पिटल की ओपीडी का शुभारम्भ किया। इनके साथ स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह और मेदांता हॉस्पिटल डॉ नरेश त्रेहन भी मौजूद थे। इनॉगरेशन स्पीच में हेल्थ मिनिस्टर सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा, "मेदान्ता हॉस्पिटल का पहला चैप्टर यूपी में शुरू हुआ है। ये अभी ओपीडी लेवल का है। 6 से 8 महीने में ये एक हजार का बेड का अस्पताल के तौर पर काम करने लगेगा। मेदांता में गरीबों का इलाज होगा: सिद्धार्थ नाथ सिंह

- "लखनऊ में खुलने वाला मेदांता टर्सरी लेबल का हास्पिटल है। यहां पर गंभीर बीमारियों के मरीजों का इलाज हो सकेगा। योगी सरकार ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना(आरएसवीवाई) के लिए टेंडर निकाला है। साढ़े सात करोड़ लोगों को आरएसवीवाई योजना का लाभ मिलने वाला है।"


- "प्रदेश सरकार मेदांता हास्पिटल को भी आरएसवाई योजना से जोड़ेगी। इससे गरीब भी मेदांता में मुफ्त इलाज करा सकेंगे। गोरखपुर, वाराणसी और इलाहाबाद में भी मेदांता हास्पिटल खोलने पर विचार किया जा रहा है। अगर प्राइवेट हास्पिटल सरकार के साथ मिलकर काम करना चाहते है, तो उन्हें आगे आना होगा। सरकार उनकी मदद करेगी। केजीएमयू में जांच की फीस को कंट्रोल करने के लिए जल्द एक कमेटी बनाई जाएगी।"

स्वास्थ्य मंत्री ने बोला कांग्रेस पर हमला
कांग्रेस के लीडर मणि शंकर अय्यर द्वारा पीएम नरेंद्र मोदी पर अभद्र टिप्पणी करने के सवाल पर स्वास्थ्य मंत्री सिद्दार्थ नाथ सिंह ने कहा, "कांग्रेस के नेता चाहे वो मणि शंकर अय्यर रहे हो या पूर्व में हमने गुजरात चुनाव में सोनिया गांधी को देखा है।"


-"सोनिया गांधी ने पीएम मोदी के लिए मौत का सौदागर शब्द का इस्तेमाल किया था। 2012 में उनकी बेटी प्रियंका गांधी ने भी इस प्रकार के 'नीच' शब्द का इस्तेमाल किया। अब तो मणि शंकर अय्यर ने भी किया है। और अब सलमान निजामी ने भी इस प्रकार के शब्दों का इस्तेमाल किया है। ये कांग्रेस पार्टी को शोभा नहीं देता है। हार के कारण और एक के बाद इतनी ज्यादा हार हो चुकी है। उनके पास कोई मुद्दे नहीं रह गये है। इस प्रकार की भाषा का इस्तेमाल कर रहे है। मैं इसकी निंदा करता हूं।"

नरेश त्रेहन से मिले थे अखिलेश

-यूपी के सीएम रहते अखिलेश यादव ने 15 अक्टूबर 2015 को डॉ. नरेश त्रेहन से मुलाकात की थी। तब उस वक्त भरोसा मिला था कि जनवरी 2017 तक लखनऊ में मेदांता हॉस्पिटल की शुरुआत हो जाएगी। समय पर निर्माण नहीं होने की वजह से 11 महीने लेट से शुरु हो पाया।


ये होगी मेदान्ता की खासियत
- लखनऊ में नवनिर्मित अवध मेदांता करीब 12 एकड़ में बना है। इसके लिए पूर्वांचल, बुंदेलखंड और प्रदेश के दूर-दराज क्षेत्रों में पहुंच बढ़ाने के लिए सेंटर भी बनाए जाएंगे। नवनिर्मित अवध मेदांता हास्पिटल अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त विश्वस्तरीय चिकित्सा संस्थान होगा। इस अस्पताल में 20 से अधिक विशिष्ट रोगों का इलाज होगा।


- वहां मरीजों के लिए 30 ऑपरेशन थिएटर, 1 हजार बेड, 300 क्रिटिकल केयर बेड होंगे। अस्पताल का निर्माण 12 एकड़ क्षेत्र में किया गया है। अस्पताल के खुलने से लगभग 25 हजार लोगों के लिए रोजगार भी उपलब्ध होगा।