Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Daughter Meet Father After 23 Days In Lucknow

बेटी को देख नहीं रोक पाया आंसू, 23 दिन बाद कांस्टेबल ने पिता से मिलाया था

वन विभाग में कांस्टेबल के तौर पर तैनात वीरेन्द्र ने उसके पिता राजकुमार से

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 02, 2018, 12:00 AM IST

  • बेटी को देख नहीं रोक पाया आंसू, 23 दिन बाद  कांस्टेबल ने पिता से मिलाया था
    +2और स्लाइड देखें
    राजकुमार अपनी बेटी शबनम को लेकर चले मेरठ वापस लौट गए हैं।

    लखनऊ. मेरठ शहर से 23 दिन पहले लापता हुई शबनम से उसके पिता राजकुमार जब मिले, तो अपने आंसू रोक नहीं पाए। अपनी बेटी को देखते ही गले लगाकर रोने लगे। यह देखकर आसपास के लोग भावुक हो गए। फिलहाल, राजकुमार अपनी बेटी शबनम को लेकर चले मेरठ वापस लौट गए हैं। अकेली टहलती मिली थी शबनम...

    - जानकारी के मुताबिक, 9 दिसंबर को शहीद पथ पर एक मानसिक तौर पर बीमार एक लड़की टहलती हुई मिली। 181 हेल्पलाइन के कर्मचारियों ने किशोरी को एल्डिको उद्यान-2 में बने सीएफआई संस्था के सुपुर्द कर दिया था।
    - संस्था में देखरेख करने वाले ओवी पाल और उनकी पत्नी बिंसी किशोरी की देखरेख कर रहे थे। उन्होंने उसका इलाज कराया। करीब हफ्ते भर बाद शबनम की हालत सामान्य हो पाई।


    पुलिस कांस्टेबल ने की मदद
    - शबनम जिस एनजीओ के पास थी। उसके लोगों की पहचान वन विभाग में सिपाही के पोस्ट पर तैनात वीरेन्द्र से थी। वीरेन्द्र भी मेरठ के रहने वाले थे। इस वजह से उन लोगों ने उससे संपर्क किया।
    -वीरेंद्र ने किशोरी के गांव भीमनगर में रहने वाले अपने कुछ परिचितों को शबनम के बारे में जानकारी दी। पता चला कि शबनम भीमनगर गली नंबर दो की रहने वाली है।


    घर में लौट आई खुशियां

    -शबनम के पिता राजकुमार ने बताया, " 23 दिन से बेटी के लापता होने के बाद से वह लगातार उसकी खोजबीन कर रहे थे। जब उन्हें जानकारी मिली, उन्हें लगा कि घर में खुशियां लौट आईं है। उसके बाद अपनी बेटी को मेरठ से लखनऊ लेने के लिए

  • बेटी को देख नहीं रोक पाया आंसू, 23 दिन बाद  कांस्टेबल ने पिता से मिलाया था
    +2और स्लाइड देखें
    23 दिन बाद बेटी अपने पिता से मिली है।
  • बेटी को देख नहीं रोक पाया आंसू, 23 दिन बाद  कांस्टेबल ने पिता से मिलाया था
    +2और स्लाइड देखें
    वन विभाग में कांस्टेबल के तौर पर तैनात पुलिस कांस्टेबल ने मुलाकात कराई थी।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Lucknow News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Daughter Meet Father After 23 Days In Lucknow
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×