--Advertisement--

घर से उठी पिता और बेटे की अर्थी, फिर एक ही चिता में हुआ अंतिम संस्कार

Dainik Bhaskar

Dec 18, 2017, 08:14 AM IST

अमरनाथ की 2 किडनी फेल हो गईं थी।

बाप औऱ बेटे की एक साथ मौत हुई थी। बाप औऱ बेटे की एक साथ मौत हुई थी।

अमेठी. जिले मुंशीगंज कोतवाली क्षेत्र पूरे तिवारी सोरांव गांव में एक दर्दनाक मामला सामने आया। यहां रविवार को बाप-बेटे की एक साथ लाश को देख लोग सदमे में थे। राम भजन (52) की लाश लेकर परिजन लखनऊ से निकले और त्रिवेदीगंज पहुंचने वाले थे कि मृतक रामभजन के बेटे अमरजीत को बताया गया की उसके भाई अमरनाथ (30) की भी मौत हो गई है। इसके बाद अमरजीत दोबारा लखनऊ पहुंचा और भाई की लाश को लेकर पहुंचे। उसके बाद एक ही घर से पिता और बेटे की अर्थी उठी और चिता भी जली।

अचानक खराब हुई पिता की तबियत

-आपको बता दें कि मृतक रामभजन के बेटे अमर नाथ की 2 किडनी 3 महीने पहले खराब हो गई थी। परिजन उन्हें लेकर लखनऊ के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में ट्रीटमेंट के लिये लेकर आये।
-दिन प्रतिदिन बेटे की बीमारी बढ़ती देख बीते शुक्रवार को पिता रामभजन की तबियत बिगड़ गई। परिजन भी उन्हें लेकर मेडिकल कॉलेज पहुंचे। जहां बेटे का इलाज बेड 9 पर तो वहीं, बाप का इलाज बेड नंबर 10 पर इलाज चल रहा था। रविवार को बाप और बेटे ने अंतिम सांस ली।
-मृतक अमरनाथ के दो लड़के एर एक लड़की है।

किड़नी फेल होने से हुई मौत

-2 किडनी फेल होने के कारण अमरनाथ जिंदगी और मौत से जूझ रहा था। बेटे की इस हालत को बाप बर्दाशत नहीं कर सका।

परिवार में हाकाकार मत हुआ है। परिवार में हाकाकार मत हुआ है।
Funeral of father and son in Amethi
X
बाप औऱ बेटे की एक साथ मौत हुई थी।बाप औऱ बेटे की एक साथ मौत हुई थी।
परिवार में हाकाकार मत हुआ है।परिवार में हाकाकार मत हुआ है।
Funeral of father and son in Amethi
Astrology

Recommended

Click to listen..