--Advertisement--

चर्चा में है ये अंडरगारमेंट डिवाइस, ऐसे करेगा महिलाओं की सेफ्टी

मैनपुरी में एक BSC फाइनल ईयर की छात्रा ने एक रेप प्रूफ अंडरगारमेंट तैयार किया है।

Dainik Bhaskar

Dec 17, 2017, 06:56 PM IST
girl developed device for women safety

मैनपुरी(यूपी).   यहां बीएससी फाइनल ईयर की एक छात्रा शीनू ने एक रेप प्रूफ अंडरगारमेंट बनाया है। करीब 1 महीने में तैयार किए गए इस अंडरगारमेंट में सेंसर और रिकॉर्डर लगा है। छात्रा के मुताबिक, ''इसे पहनने से काफी हद तक महिलाओं की सुरक्षा हो सकती है। लेडीज के लिए यह डिवाइस एक सुरक्षा कवच की तरह काम करेगा। DainikBhaskar.com को छात्रा ने डिवाइस के बारे में बताया। ऐसी है इस डिवाइस की खूबियां...

 

 

 

- छात्रा शीनू कुमारी मूल रूप से फर्रुखाबाद के गांव नगला सबल की रहने वाली हैं। वर्तमान में मैनपुरी में रह रही हैं। 
- शीनू ने बताया, ''4 हजार की लागत से मोबाइल और एक अंडरगारमेंट के जरिए इस डिवाइस को बनाया गया है। इसमें ब्लड प्रूफ कपड़े का इस्तेमाल किया है, जिसे चाकू से काटा या फाड़ा नहीं जा सकता है।'' 
- ''डिवाइस इलेक्ट्रॉनिक लॉक सिस्टम से लैस है। अगर आपको पासवर्ड पता है तभी इसे खोल सकते हैं। इसमें लगा इमरजेंसी बटन दबाने से सीधा 100 पर डायल होगा और पुलिस को इन्फॉर्मेशन मिल जाएगी।''
- ''इसमें जीपीआरएस सिस्टम भी लगा हुआ है। साथ ही, इसमें एक रिकॉर्डर भी लगा हुआ है।''

 

ऐसे आया डिवाइस बनाने का आइडिया 
- छात्रा के मुताबिक, ''महिलाओं और लड़कियों के साथ बढ़ती रेप की घटनाओं को देखते हुए मेरे मन में कुछ करने का ख्याल आया। सेल्फ स्टडी और रिसर्च की बदौलत यह अंडरगारमेंट तैयार किया है।''
- ''4 दिसंबर को दिल्ली में केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी से मुलाकात की। उन्होंने डिवाइस को अहमदाबाद के प्रोफेसर अनिल गुप्ता को रेफर किया है, लेकिन अभी कोई जवाब नहीं आया है।''

 

 

girl developed device for women safety
girl developed device for women safety
girl developed device for women safety
X
girl developed device for women safety
girl developed device for women safety
girl developed device for women safety
girl developed device for women safety
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..