--Advertisement--

प्रेग्नेंट थी वाइफ, फिर भी नहीं डरा था ये शख्स- ऐसे किया था राम रहीम का स्टिंग

11 साल पहले इस जर्नलिस्ट ने अपने साथी के साथ मिलकर किया था डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम का स्टिंग ऑपरेशन।

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 10:48 AM IST
तब तहलका मैगजीन के रिपोर्टर रहे जर्नलिस्ट अनुराग त्रिपाठी ने किया था गुरमीत राम रहीम का स्टिंग। तब तहलका मैगजीन के रिपोर्टर रहे जर्नलिस्ट अनुराग त्रिपाठी ने किया था गुरमीत राम रहीम का स्टिंग।

लखनऊ. रेप के दोषी साबित हो चुके गुरमीत राम रहीम के खिलाफ सीबीआई ने केस्ट्रेशन केस में चार्जशीट दाखिल की है। दो डॉक्टरों समेत डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख पर आरोप है कि उन्होंने 400 फॉलोअर्स का जबरदस्ती केस्ट्रेशन करवाया। बता दें कि राम रहीम फिलहाल रेप मामले में 20 साल जेल की सजा काट रहा है।

राम रहीम बाबा की आड़ में गोरखधंधे कर रहा है, इसका खुलासा 2007 में दो सीनियर जर्नलिस्ट ने स्टिंग ऑपरेशन के जरिए किया था। बाबा को बेपर्दा करने वाले जर्नलिस्ट अनुराग त्रिपाठी ने DainikBhaskar.com से खास बातचीत में उस स्टिंग ऑपरेशन से जुड़ी डिटेल्स शेयर कीं।


लोकल अखबार ने छापा था बाबा का सच

- अनुराग बताते हैं, "2002 में डेरा सौदा की एक साध्वी ने तत्कालीन पीएम अटल बिहारी वाजपेयी के नाम एक लेटर लिखा था। उस लेटर को सिरसा के एक लोकल अखबार के संपादक रामचंद्र छत्रपति ने छापा था। उसी साल 21 नवंबर को उसका मर्डर हो गया। उसकी फैमिली की पुलिस भी मदद नहीं कर रही थी। ऐसे में, वे सीनियर पत्रकारों से मदद मांगने आए।"
- "मैंने अपने सीनियर एडिटर से इस खबर पर डिस्कशन किया और हमने 'झूठा सौदा' नाम से स्टिंग ऑपरेशन करने का फैसला किया। इस केस में मेरे साथ एत्माद खान भी थे।"
- "तब मेरी वाइफ प्रेग्नेंट थी। वाइफ की प्रेग्नेंसी के बावजूद मैं उस स्टिंग को करने के लिए तैयार हो गया।"

आगे पढ़ें, कैसे इस जर्नलिस्ट ने किया था बाबा को बेपर्दा...

Gurmeet Ram Rahim Singh dera chief was exposed by journalist in sting

ब्लैक कैट कमांडो के घेरे में रहता था बाबा

 

- अनुराग बताते हैं, "हमें डेरा के अंदर पहुंचने के लिए बहुत स्ट्रगल करना पड़ा। मेन क्रॉसिंग से लगभग 1 किमी दूर महलनुमा बिल्डिंग है, जिसकी खिड़कियों में गार्ड्स गन रखकर तैनात रहते थे।" 
- "बाबा की सुरक्षा में ब्लैक कैट कमांडो जैसे गार्ड्स तैनात रहते थे, जो हथियारों से लैस रहते थे। आगे वाली बिल्डिंग में सिर्फ गार्ड्स रहते थे। अंदर एक और नई बिल्डिंग थी, जिसमें एक कमरे को गुफा का रूप दे रखा था। वहीं राम रहीम रहता था। गुफा के अंदर बाबा को साध्वियां सिक्युरिटी देती थीं।"
- "डेरा की तरफ जाने वाली रोड पर बनी हर दुकान पर 'धन्य धन्य सद्गुरु, तेरा ही आसरा' लिखा था।"

Gurmeet Ram Rahim Singh dera chief was exposed by journalist in sting

डेरे में एंट्री के लिए बढ़ाई दाढ़ी, बेलने पड़े ऐसे पापड़

 

- अनुराग ने बताया, "डेरा में एंट्री मिलना आसान नहीं था। अंदर जाने के लिए डेरा वालों का भरोसा जीतना पड़ता था। हम दोनों डेरा पहुंचे और बोला कि हम भी बाबा की शरण में रहना चाहते हैं, लेकिन गार्ड्स नहीं माने। हम कई दिनों तक डेरा के बाहर बैठे रहे। आइडेंटिटी छुपाने के लिए दाढ़ी बढ़ाई थी। रात को वहीं सड़क पर सो जाते थे। हमारी निष्ठा देख उन्हें हम पर भरोसा हो गया और तब हमें अंदर एंट्री मिली।"
- "एंट्री के बाद हमें चेंबर में बैठाकर कई सवाल किए गए। बाबा की सिक्युरिटी 6-7 लेयर में थी। हमने डेरा पर कई लोगों से बात की कि कोई अपनी परेशानी शेयर कर ले, लेकिन डर की वजह से वे कुछ नहीं बोले। इसी दौरान हमें बाबा के ड्राइवर खट्टा सिंह के बारे में पता चला। हमने उसका नंबर अरेंज किया और उसे ट्रेस करना शुरू किया।"

Gurmeet Ram Rahim Singh dera chief was exposed by journalist in sting

खौफ के साए में हुआ था स्टिंग

 

- अनुराग ने बताया, "मैं बाबा को बेपर्दा चाहता था, लेकिन मन में पत्नी की चिंता लगी रहती थी। वो प्रेग्नेंट थी। मैं पहली बार पिता बनने वाला था और मैं पत्नी से दूर था।"
- "हमेशा ख़तरा बना रहता था। हम कभी रेंटेड रूम तो कभी होटल में ऑरिजिनल आईडी के साथ रहते थे। हमने खट्टा सिंह को छोड़ कर किसी को नहीं बताया कि हम जर्नलिस्ट हैं।" 
- "कई बार घर से फोन आता था। संपादक भी रोज फोन पर हाल-चाल लेते थे। वो कहते थे कि अगर खतरा हो तो लौट आओ, लेकिन उसी डर ने हमें आत्मबल दिया। वो मेरी जिंदगी की सबसे बड़ी स्टोरी थी और आज वह मुकाम तक पहुंच गई है।"

Gurmeet Ram Rahim Singh dera chief was exposed by journalist in sting

स्पाई कैमरे में कैद हुआ था सच

 

- अनुराग त्रिपाठी बताते हैं, "खट्टा सिंह को ट्रेस करने में हमें 2 महीने लगे। वो बाबा का ड्राइवर था और उनका सच सामने लाना चाहता था। वो कभी किसी चौराहे पर बुलाता, कभी किसी रेस्टोरेंट में। चंडीगढ़ के एक होटल में हमारी फाइनल मुलाकात हुई।"
- "उसने स्पाई कैमरे पर बताया- रंजीत सिंह बाबा का ख़ास आदमी था, लेकिन बाबा ने उसकी बहन से भी रेप किया। हमने पूछा- रंजीत को क्यों मरवाया? खट्टा सिंह बोला- CBI जांच जारी थी। बाबा को डर था, रंजीत CBI के पास चला गया तो? तो सच सामने आ जाएगा। रंजीत ने डेरे पर आना कम कर दिया तो बाबा डर गया। उसे शक भी था कि साध्वी का लेटर रंजीत ने लीक किया है।"

Gurmeet Ram Rahim Singh dera chief was exposed by journalist in sting

डेरा में ही बॉडी डंप करवा देता था राम रहीम

 

 

- "रंजीत की बहन की शादी नहीं हुई थी, बाबा को लगा डॉक्टरी जांच करवा दी गई तो वो बेनकाब हो जाएगा। पहले रंजीत को मनाने के लिए लोग भेजे गए। नहीं माना तो उसका मर्डर करवा दिया गया। खट्टा सिंह ने बाबा पर 7 मर्डर करने का आरोप भी लगाया था। बाबा मर्डर कर डेरा में ही बॉडी डंप करवा देता था।"
- अनुराग ने बताया कि साध्वियों के लेटर पर सीबीआई ने मुकदमा दर्ज कर जांच तो शुरू कर दी थी, लेकिन उसे कई पुख्ता सबूत स्टिंग ऑपरेशन के वीडियो से मिले। न्यूज चैनल पर स्टिंग ऑपरेशन टेलिकास्ट होने के बाद सीबीआई ने तेजी दिखाई थी। कई बार स्टिंग करने वाले पत्रकारों से भी पूछताछ की गई।

X
तब तहलका मैगजीन के रिपोर्टर रहे जर्नलिस्ट अनुराग त्रिपाठी ने किया था गुरमीत राम रहीम का स्टिंग।तब तहलका मैगजीन के रिपोर्टर रहे जर्नलिस्ट अनुराग त्रिपाठी ने किया था गुरमीत राम रहीम का स्टिंग।
Gurmeet Ram Rahim Singh dera chief was exposed by journalist in sting
Gurmeet Ram Rahim Singh dera chief was exposed by journalist in sting
Gurmeet Ram Rahim Singh dera chief was exposed by journalist in sting
Gurmeet Ram Rahim Singh dera chief was exposed by journalist in sting
Gurmeet Ram Rahim Singh dera chief was exposed by journalist in sting
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..