Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Hardoi Cmo Torcher Allegation On Bjp Mla In Uttar Pradesh

सरकार में बैठे लोगों की गाली खाने के लिए बने हैं अफसर: हरदोई के CMO ने सुनाया दर्द

सीएमओ पीएन चतुर्वेदी ने एसपी को चिट्ठी लिखकर सुरक्षा की मांग की है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Dec 17, 2017, 10:44 AM IST

सरकार में बैठे लोगों की गाली खाने के लिए बने हैं अफसर: हरदोई के CMO ने सुनाया दर्द

हरदोई. यहां के सीएमओ पीएन चतुर्वेदी ने बिलग्राम मल्लावां से बीजेपी विधायक आशीष सिंह पर ऑफिस में बंधक बनाकर मारपीट का आरोप लगाया है। सीएमओ ने डीएम और सरकार दोनों को चिट्ठी भेजकर मामले की जानकारी दी है। यहीं नहीं एसपी से उन्होंने सुरक्षा की मांग की है।ये है मामला...


-बीजेपी विधायक आशीष सिंह एएनएम का तबादला अपने इलाके में कराना चाहते थे। इसको लेकर विधायक आशीष सिंह ने सीएमओ पीएन चतुर्वेदी से सिफारिश की थी। जब उस पर कार्रवाई नहीं हुई, तब उन्होंने अपने लेटर पैड पर सीएमओ से एएनएम का ट्रांसफर करने के लिए लिखा। इस बीच कानून मंत्री बृजेश पाठक की सिफारिश पर उस एएनएम का ट्रांसफर कहीं और कर दिया। इस बात से नाराज विधायक सीएमओ दफ्तर पहुंच गए।


- बता दें कि आशीष सिंह और कानून मंत्री बृजेश पाठक एक ही क्षेत्र के रहने वाले हैं। एएनएम के ट्रांसफर में बृजेश पाठक की सिफारिश काम आई है। विधायक आशीष सिंह के सीएमओ ऑफिस पहुंचने के बाद गेट पर ताला करीब आधे अंदर से बंद रहा। सीएमओ पीएन चतुर्वेदी का आरोप है कि विधायक ने उन्हें बंधक बनाया और मारपीट की।


CMO ने बयां किया दर्द
-अपना दर्द बयां करते हुए सीएमओ ने कहा, "अफसर सत्ता पर काबिज लोगों को गाली और मार खाने के लिए बने हैं।" वहीं, विधायक आशीष सिंह आशु ने कहा, " किस ने किस को बंधक बनाया है, यह सबको पता है। सीएमओ ने उनको बंधक बनाया था। बिलग्राम मल्लावां विधानसभा सीट से विधायक है, लिहाजा जवाबदेही उनकी भी बनती है।


विधायक आशीष सिंह से माफी की मांग
-इस मामले में यूपी चिकित्सा संघ और यूपी मेडिकल एंड पब्लिक हेल्थ सीएमओ के समर्थन में आ गए है। उन्होंने कहा है कि रविवार तक विधायक लिखित माफी मांगें। अगर उन्होंने ऐसा नहीं किया, तो सोमवार से इमरजेंसी सेवा छोड़कर हेल्थ सर्विस बंद की जाएगी।


एसपी से सुरक्षा की मांग
- सीएमओ पीएन चतुर्वेदी ने डीएम को चिट्ठी लिखी है। इसमें विधायक के द्वारा की गई अभद्रता को बताया गया है। कानून मंत्री बृजेश पाठक की सिफारिश पर कराए गए तबादले का जिक्र है। ये चिट्ठी सरकार को भेजा गया है। एसपी विपिन कुमार मिश्रा को भी चिट्ठी लिखकर उन्होंने सुरक्षा की मांग की है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Lucknow News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: srkar mein baithe logon ki gaaali khaane ke liye bane hain afsr: CMO ne sunaayaa apnaa dard
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×