न्यूज़

--Advertisement--

निर्भया कांड से कम नहीं था ये केस, गैंगरेप के बाद लड़की का किया ऐसा हाल

निर्भया कांड(16 दिसंबर 2012) का देश 5वीं बरसी मना रहा है।

Danik Bhaskar

Dec 17, 2017, 04:52 PM IST
11 फरवरी 2016 को लड़की लाश मिलने के बाद पोस्टमॉर्टम के लिए ले जाते पुलि‍सवाले। (फाइल फोटो) 11 फरवरी 2016 को लड़की लाश मिलने के बाद पोस्टमॉर्टम के लिए ले जाते पुलि‍सवाले। (फाइल फोटो)

लखनऊ. निर्भया कांड (16 दिसंबर 2012) को 5 साल हो चुके हैं। ऐसी ही एक वारदात यूपी की राजधानी लखनऊ में 11 फरवरी 2016 को सामने आई थी। सीएम आवास के सामने जंगल में 12वीं क्लास की छात्रा की गैंगरेप के बाद हत्या कर दी गई थी। शव पेड़ से लटकता मिला था। दरिंदगी की शर्मशार करने वाली वारदात की गूंज सड़क से लेकर विधान सभा तक पहुंची थी। सीएम से लेकर पुलिस के जिम्मेदार अधिकारियों को जवाब देने पड़े थे। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 4 लोगों को अरेस्ट कर जेल भेज दिया था।

 

DainikBhaskar.com क्राइम सीरीज में इन्फोग्राफिक के जरिए पूरा घटनाक्रम बताने जा रहा है...

 

- जानकीपुरम गार्डन में रहने वाले निजी कंपनी के इंजीनियर की बेटी 10 फरवरी 2016 की सुबह 8 बजे साइकल से कॉलेज के लिए निकली थी। इसके बाद न वो स्कूल पहुंची और न ही घर।
- पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर तलाश शुरू की। छात्रा के फोन की लोकेशन के हिसाब से उसे ढूंढा जाने लगा, लेकिन सुराग नहीं मिला।
- अगले दिन सीएम आवास के सामने जंगल में लड़की की लाश है। पोस्टमॉर्टम में गैंगरेप की बात आती है।
- पुलिस के मुताबिक, जानकीपुरम थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ अपहरण, हत्या और रेप का केस दर्ज हो गया। छात्रा के नाखून में खाल और बाल फंसे हुए मिले थे, जिन्हें फॉरेंसिक लैब भेजा गया।

 

छात्रा का फोन महिला के पास से मिला, फिर खुला राज
- लड़की का फोन 13 फरवरी 2016 को बाराबंकी में एक महिला के पास से मिलता है। पूछने पर वो बताती है कि ये उसे उसके पति सतगुरू ने दिया है, जो लखनऊ हजरतगंज में रिक्शा चलाता है।
- इससे पहले लड़की की लाश 11 फरवरी को सतगुरू की मदद से ही मिली थी। उसके साथ उसका एक दोस्त दीपू भी था। पुलिस को दोनों पर शक होता है।
- पुलिस दोनों को पूछताछ के लिए थाने लाती है। कड़ाई से पूछताछ करने पर वो सच बोल देते हैं और दो रिक्शेवालों का नाम बताते हैं। वो बताते हैं कि उन चार लोगों ने मिलकर पहले लड़की को किडनैप किया फिर गैंगरेप के बाद उसकी हत्या कर दी।     

 

करेंट स्टेटस
- मृतका के मामा के मुताबिक, घटना के बाद से बच्ची की मां की तबीयत अक्सर खराब रहती है।
- मामले की पैरवी हम खुद कर रहे हैं। 4 आरोपी अरेस्ट हैं। हमारी कोशिश है कि हम मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाकर आरोपियों को जल्द से जल्द सजा दिला सकें।
- तत्कालीन एसएसपी राजेश पांडेय मुताबिक, मामले में 4 ओरोपियों की गिरफ्तारी हुई है। नार्को टेस्ट के बाद ये तय हो गया था कि रेपिस्ट 4 ही थे।

फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है। फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है।
फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है। फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है।
फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है। फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है।
फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है। फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है।
फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है। फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है।
फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है। फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है।
फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है। फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है।
फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है। फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है।
फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है। फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है।
फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है। फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है।
फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है। फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है।
फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है। फोटो प्रेजेंटेशन के लिए है।
Click to listen..