--Advertisement--

11Yr की लड़की ने बच्चे का किया ये हाल, मनोवैज्ञानिक ने बोली ये बातें

DainikBhaskar.com ने मनोवैज्ञानिक से चाकू मारने वाली लड़की के सिम्टम समझने की कोश‍िश की।

Dainik Bhaskar

Jan 18, 2018, 03:11 PM IST
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School

लखनऊ. राजधानी के ब्राइटलैंड स्कूल में मंगलवार को जो बच्चा चाकू के हमले से घायल हुआ था। उसने गुरुवार को पुलिस को बयान दिया। लड़के के मुताबिक, उसको चाकू स्कूल की ही एक सीनियर स्टूडेंट गर्ल ने मारा था। 7 साल के इस स्टूडेंट ने पुलिस को बताया- ''जब दीदी मुझे मार रहीं थीं, तब उन्होंने कहा था कि अगर तुम मर जाओगे तो स्कूल की छुट्टी हो जाएगी।'' इस मामले में DainikBhaskar.com ने मनोवैज्ञानिक से चाकू मारने वाली लड़की के सिम्टम समझने की कोश‍िश की।

क्या था मामला?
- मंगलवार (16 जनवरी) को ब्राइटलैंड स्कूल में क्लास फर्स्ट का 7 साल का बच्चा घायल हालत में मिला। बच्चे पर धारदार हथियार हमले किया गया था। बाद में उसे बाथरूम में बंद किया गया। बाथरूम बच्चे की क्लास से 200 मीटर दूर है।
- घटना का पता तब चला, जब प्रेयर के लिए डिस्पलिन हेड बच्चों को कॉल करने पहुंचे। बाथरूम के पास से गुजरते वक्त दरवाजा पीटने की आवाज आई।
- स्कूल के डिसिप्लिन हेड अमित सिंह ने बताया, "दरवाजा खोलने पर बच्चा खून से लथपथ मिला। उसके मुंह में लाल रंग का कपड़ा ठूंसा गया था। बच्चे को किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में भर्ती कराया गया।"

दो बार भागी है-हाथ की नस काट चुकी है छात्रा
- एसएसपी दीपक कुमार के मुताबिक, ''क्लास एक के छात्र को जिस छात्रा द्वारा पीटे जाने का आरोप है, वो बीते छह महीने में दो बार घर से भाग चुकी है। अलीगंज पुलिस ने दोनों बार छात्रा को बरामद किया था।''
- ''छात्रा ने दो महीने पहले अपने हाथ की नस भी काट ली थी, जिसके बाद छात्रा ने स्कूल में बहुत हंगामा भी किया था। इसके अलावा वो 6th क्लास के पेपर के दौरान स्कूल से कॉपी लेकर घर चली गई थी।''

- प्रिंसिपल की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है। मामले की जांच जारी है। एसपी टीजी हरेंद्र कुमार ने कहा- केस दर्ज कर लिया गया है। बच्चे के बयान लिए गए हैं। जल्द ही मामले में खुलासा होगा।

क्या कहती है मनोवैज्ञानिक?
- नेशनल पीजी कॉलेज की असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ नेहाश्री श्रीवास्तव, ''ये एक तरह की मानसिक बीमारी है। उस बच्ची में एग्रेशन का लेवेल बहुत ज्यादा हो सकता है और ये पेरेंट्स की लापरवाही से बच्चों में बढ़ जाता है। ऐसे बच्चे देखने में तो फिजिकली फिट होते हैं, लेकिन वो अपनी खुशी के लिए किसी को भी नुकसान पहुंचाने से पीछे नहीं हटते हैं।''
- ''जैसा मैंने सुना कि उस बच्ची(11) ने केवल छुट्टी पाने के लिए एक छोटे से बच्चे (7) को चाकू से मारा। 11 साल की लड़की को ये पता होता है कि चाकू लगेगा तो दर्द होगा और खून निकलेगा। ये सिम्टम्स उन बच्चों में ज्यादा देखने को मिलते हैं, जिनके घरों में मम्मी-पापा लड़ते झगड़ते हैं। सभी मां-बाप को मनोवैज्ञानिक से काउंसलिंग के लिए जरूर मिलना चाहिए।''

Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
X
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Girl Student Attacked In Lucknow Brightland School
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..