--Advertisement--

कोई फॉरेन से पढ़ कर रहा खेती, किसी ने खुद बनाई 2Cr. के टर्नओवर वाली कंपनी

DainikBhaskar.com आपको यूथ डे पर यूपी के 20 खास यूवाओं के बारे में बताने जा रहा है।

Dainik Bhaskar

Jan 11, 2018, 06:21 PM IST
Youth day special story

लखनऊ. 12 जनवरी को देश भर में यूथ डे मनाया जाएगा। इस खास मौके पर DainikBhaskar.com आपको यूपी के 20 खास यूथ के बारे में बताने जा रहा है। जिन्होंने अपने काम से अपनी एक अलग पहचान बनाई है। साथ ही वे लोगों के लिए इन्सि‍पि‍रेशन का केंद्र बने हैं।

क्यों मनाते हैं यूथ डे ?
- इंडिया में स्वामी विवेकानंद की बर्थ एनवर्स‍िरी 12 जनवरी को पहर साल राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है।
- संयुक्त राष्ट्र संघ के निर्णय के मुताबिक, 1984 को 'अंतरराष्ट्रीय युवा ईयर' घोषित किया गया था। इसके महत्व का विचार करते हुए भारत सरकार ने घोषणा की कि सन 1984 से 12 जनवरी यानि स्वामी विवेकानंद के बर्थडे का दिन राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में देशभर में मनाया जाए।
- भारत सरकार का विचार था- ''स्वामी जी का दर्शन-स्वामी जी के जीवन में निहित उनका आदर्श, यही भारतीय युवकों के लिए प्रेरणा का बहुत बड़ा स्रोत हो सकता है।''

इन्सपिरेशन- पिता डॉक्टर बनना चाहते थे, नहीं बन पाए। उनका सपना मैंने पूरा किया। जब भी फ्रेस्टेट होती तो मोटिवेशनल बुक पढ़ती थी। मैंने अब्राहम वर्गीज की नोबेल ‘कटिंग ऑफ स्टोंस’ भी पढ़ी है। उससे मैं बहुत इंस्पायर हुई हूं। इन्सपिरेशन- पिता डॉक्टर बनना चाहते थे, नहीं बन पाए। उनका सपना मैंने पूरा किया। जब भी फ्रेस्टेट होती तो मोटिवेशनल बुक पढ़ती थी। मैंने अब्राहम वर्गीज की नोबेल ‘कटिंग ऑफ स्टोंस’ भी पढ़ी है। उससे मैं बहुत इंस्पायर हुई हूं।
इन्सपिरेशन- कंपनी में जॉब के दौरान बाहर चाय पीते थे, लेकिन चाय बहुत गंदी मिलती थी। अनहाइजीनिक तरीके से चाय दी जाती थी। तभी आइडिया आया। इन्सपिरेशन- कंपनी में जॉब के दौरान बाहर चाय पीते थे, लेकिन चाय बहुत गंदी मिलती थी। अनहाइजीनिक तरीके से चाय दी जाती थी। तभी आइडिया आया।
इन्सपिरेशन- बचपन में सीढ़ियों से मैं गिर गया था। प्लास्टर हटने के बाद कलाई थोड़ी टेढ़ी हो गई थी। तो इनके कोच ने स्पिनर बनने की राय दी। इन्सपिरेशन- बचपन में सीढ़ियों से मैं गिर गया था। प्लास्टर हटने के बाद कलाई थोड़ी टेढ़ी हो गई थी। तो इनके कोच ने स्पिनर बनने की राय दी।
इन्सपिरेशन- 11 साल की उम्र में शहीद मनोज पाण्डेय से मुलाकात थी। मैंने सेना में जाने की इच्छा जाहिर की तो उन्होंने कहा- काम करना है तो शहीद फैमिली के लिए काम करो, जिनका कोई बेटा नहीं रह गया। तब से यही काम कर रहा हूं। इन्सपिरेशन- 11 साल की उम्र में शहीद मनोज पाण्डेय से मुलाकात थी। मैंने सेना में जाने की इच्छा जाहिर की तो उन्होंने कहा- काम करना है तो शहीद फैमिली के लिए काम करो, जिनका कोई बेटा नहीं रह गया। तब से यही काम कर रहा हूं।
इन्सपिरेशन- पिता एक डेली वेजेज लेबर थे। वे हमें पढ़ाने के लिए घंटों मजदूरी करते थे। उनसे हार्ड वर्क की प्रेरणा मिली। इन्सपिरेशन- पिता एक डेली वेजेज लेबर थे। वे हमें पढ़ाने के लिए घंटों मजदूरी करते थे। उनसे हार्ड वर्क की प्रेरणा मिली।
इन्सपिरेशन- विदेश में लोगों को साफ पानी के लिए जूझते देखा था, वहीं इंडिया में पानी की वेस्टेज भी देखी। तब मुझे लगा- इंडिया को वाटर ट्रीटमेंट के लिए जागरूक करना होगा। इन्सपिरेशन- विदेश में लोगों को साफ पानी के लिए जूझते देखा था, वहीं इंडिया में पानी की वेस्टेज भी देखी। तब मुझे लगा- इंडिया को वाटर ट्रीटमेंट के लिए जागरूक करना होगा।
इन्सपिरेशन- मेरे बिजनेस पार्टनर ने मेरा मजाक उड़ाया था कि ये लड़की कभी काम नहीं कर पाएगी। उसके ताने का जवाब देने के लिए खुद का काम शुरू किया। इन्सपिरेशन- मेरे बिजनेस पार्टनर ने मेरा मजाक उड़ाया था कि ये लड़की कभी काम नहीं कर पाएगी। उसके ताने का जवाब देने के लिए खुद का काम शुरू किया।
इन्सपिरेशन- पिता को गाय पालना पसंद रहा है। एजुकेशन पूरा करने के बाद घर लौटी तो फादर ने खेती और डेयरी का आइडिया दिया। इन्सपिरेशन- पिता को गाय पालना पसंद रहा है। एजुकेशन पूरा करने के बाद घर लौटी तो फादर ने खेती और डेयरी का आइडिया दिया।
इन्सपिरेशन- ग्रेजुएशन की पढ़ाई के दौरान छेड़छाड़ हुई थी। शिकायत पर पुलिस ने कुछ नहीं किया। वहीं से पुलिस सर्विस ज्वाइन करने की प्रेरणा मिली। इन्सपिरेशन- ग्रेजुएशन की पढ़ाई के दौरान छेड़छाड़ हुई थी। शिकायत पर पुलिस ने कुछ नहीं किया। वहीं से पुलिस सर्विस ज्वाइन करने की प्रेरणा मिली।
इंस्पिरेशन- ट्रेन एक्सीडेंट के बाद लोग मुझसे ऐसे मिलते थे जैसे मैं कोई असहाय हूं। एवरेस्ट फतह करने की प्रेरणा हॉस्पिटल के बेड पर मिली। इंस्पिरेशन- ट्रेन एक्सीडेंट के बाद लोग मुझसे ऐसे मिलते थे जैसे मैं कोई असहाय हूं। एवरेस्ट फतह करने की प्रेरणा हॉस्पिटल के बेड पर मिली।
इन्सपिरेशन- योगेश (आईईएस) ने बताया- सिविल सर्विसेस में आने से पहले जॉब करता था। भाई-बहन सिविल की तैयारी कर रहे थे। रक्षाबंधन के समय रिजल्ट आया था, जिसमें कोई सेलेक्ट नहीं हुआ। मैंने फैसला किया कि अब सबसे पहले मैं सिविल सर्विसेस निकालूंगा। उसके बाद भाई-बहन को मोटिवेट करूंगा। इन्सपिरेशन- योगेश (आईईएस) ने बताया- सिविल सर्विसेस में आने से पहले जॉब करता था। भाई-बहन सिविल की तैयारी कर रहे थे। रक्षाबंधन के समय रिजल्ट आया था, जिसमें कोई सेलेक्ट नहीं हुआ। मैंने फैसला किया कि अब सबसे पहले मैं सिविल सर्विसेस निकालूंगा। उसके बाद भाई-बहन को मोटिवेट करूंगा।
इन्सपिरेशन- यूपी की दंगल गर्ल के नाम से जानी जाती हैं. भाई रेसलिंग में कामयाब न हुआ तो पिता ने 10 साल की एज में अखाड़े में उतार दिया. बाल बॉय कट करा दिया गया. भाई ने प्रैक्टिस के लिए साथ जाने से मना किया तो पिता साथ साथ रहे। इन्सपिरेशन- यूपी की दंगल गर्ल के नाम से जानी जाती हैं. भाई रेसलिंग में कामयाब न हुआ तो पिता ने 10 साल की एज में अखाड़े में उतार दिया. बाल बॉय कट करा दिया गया. भाई ने प्रैक्टिस के लिए साथ जाने से मना किया तो पिता साथ साथ रहे।
इन्सपिरेशन- ये खुद यौन हिंसा का शिकार हो चुकी हैं। इन्होंने 7 लड़कियों के साथ रेड ब्रिगेड बनाई। स्कूलों में जाकर गुड टच-बैड टच के बारे में बताती हैं। इन्सपिरेशन- ये खुद यौन हिंसा का शिकार हो चुकी हैं। इन्होंने 7 लड़कियों के साथ रेड ब्रिगेड बनाई। स्कूलों में जाकर गुड टच-बैड टच के बारे में बताती हैं।
इन्सपिरेशन- पिता रियल स्टेट कारोबारी हैं। क्रिकेट और बैडमिन्टन में फेल हुआ, लेकिन शूटिंग में मेडल ले आया। देश के सबसे कम उम्र के शूटर हैं। प्रैक्टिस के लिए रोज जाते थे 100 किमी। इन्सपिरेशन- पिता रियल स्टेट कारोबारी हैं। क्रिकेट और बैडमिन्टन में फेल हुआ, लेकिन शूटिंग में मेडल ले आया। देश के सबसे कम उम्र के शूटर हैं। प्रैक्टिस के लिए रोज जाते थे 100 किमी।
इन्सपिरेशन- डीएसपी मोनिका यादव की 6 महीने की वर्किंग हिस्ट्री से ऐसा लगता है कि उनके जैसे डेडिकेटेड ऑफिसर्स को पुलिस फोर्स की काफी जरूरत है। इन्सपिरेशन- डीएसपी मोनिका यादव की 6 महीने की वर्किंग हिस्ट्री से ऐसा लगता है कि उनके जैसे डेडिकेटेड ऑफिसर्स को पुलिस फोर्स की काफी जरूरत है।
Youth day special story
इन्सपिरेशन- मां सिलाई मशीन चलाकर घर का खर्च उठाती हैं। जब सिलेक्शन हुआ तो उसने टीका लगाकर मुझे खेलने भेजा। मां की मेहनत की वजह से मैं सफल रही। इन्सपिरेशन- मां सिलाई मशीन चलाकर घर का खर्च उठाती हैं। जब सिलेक्शन हुआ तो उसने टीका लगाकर मुझे खेलने भेजा। मां की मेहनत की वजह से मैं सफल रही।
इन्सपिरेशन- तीनों दोस्तों को एक ढाबे पर खाना खाते समय यह आइडिया आया। जुलाई 2017 में उन्होंने लखनऊ में आउटलेट शुरू किया। इन्सपिरेशन- तीनों दोस्तों को एक ढाबे पर खाना खाते समय यह आइडिया आया। जुलाई 2017 में उन्होंने लखनऊ में आउटलेट शुरू किया।
इन्सपिरेशन- पिता की मेहनत देखकर उन्होंने 9th क्लास से ठान लिया था कि उन्हें अमेरिका से हायर स्टडीज करनी है। 2014 में यूएस के वेलेसली कॉलेज में एडमिशन लिया। इन्सपिरेशन- पिता की मेहनत देखकर उन्होंने 9th क्लास से ठान लिया था कि उन्हें अमेरिका से हायर स्टडीज करनी है। 2014 में यूएस के वेलेसली कॉलेज में एडमिशन लिया।
X
Youth day special story
इन्सपिरेशन- पिता डॉक्टर बनना चाहते थे, नहीं बन पाए। उनका सपना मैंने पूरा किया। जब भी फ्रेस्टेट होती तो मोटिवेशनल बुक पढ़ती थी। मैंने अब्राहम वर्गीज की नोबेल ‘कटिंग ऑफ स्टोंस’ भी पढ़ी है। उससे मैं बहुत इंस्पायर हुई हूं।इन्सपिरेशन- पिता डॉक्टर बनना चाहते थे, नहीं बन पाए। उनका सपना मैंने पूरा किया। जब भी फ्रेस्टेट होती तो मोटिवेशनल बुक पढ़ती थी। मैंने अब्राहम वर्गीज की नोबेल ‘कटिंग ऑफ स्टोंस’ भी पढ़ी है। उससे मैं बहुत इंस्पायर हुई हूं।
इन्सपिरेशन- कंपनी में जॉब के दौरान बाहर चाय पीते थे, लेकिन चाय बहुत गंदी मिलती थी। अनहाइजीनिक तरीके से चाय दी जाती थी। तभी आइडिया आया।इन्सपिरेशन- कंपनी में जॉब के दौरान बाहर चाय पीते थे, लेकिन चाय बहुत गंदी मिलती थी। अनहाइजीनिक तरीके से चाय दी जाती थी। तभी आइडिया आया।
इन्सपिरेशन- बचपन में सीढ़ियों से मैं गिर गया था। प्लास्टर हटने के बाद कलाई थोड़ी टेढ़ी हो गई थी। तो इनके कोच ने स्पिनर बनने की राय दी।इन्सपिरेशन- बचपन में सीढ़ियों से मैं गिर गया था। प्लास्टर हटने के बाद कलाई थोड़ी टेढ़ी हो गई थी। तो इनके कोच ने स्पिनर बनने की राय दी।
इन्सपिरेशन- 11 साल की उम्र में शहीद मनोज पाण्डेय से मुलाकात थी। मैंने सेना में जाने की इच्छा जाहिर की तो उन्होंने कहा- काम करना है तो शहीद फैमिली के लिए काम करो, जिनका कोई बेटा नहीं रह गया। तब से यही काम कर रहा हूं।इन्सपिरेशन- 11 साल की उम्र में शहीद मनोज पाण्डेय से मुलाकात थी। मैंने सेना में जाने की इच्छा जाहिर की तो उन्होंने कहा- काम करना है तो शहीद फैमिली के लिए काम करो, जिनका कोई बेटा नहीं रह गया। तब से यही काम कर रहा हूं।
इन्सपिरेशन- पिता एक डेली वेजेज लेबर थे। वे हमें पढ़ाने के लिए घंटों मजदूरी करते थे। उनसे हार्ड वर्क की प्रेरणा मिली।इन्सपिरेशन- पिता एक डेली वेजेज लेबर थे। वे हमें पढ़ाने के लिए घंटों मजदूरी करते थे। उनसे हार्ड वर्क की प्रेरणा मिली।
इन्सपिरेशन- विदेश में लोगों को साफ पानी के लिए जूझते देखा था, वहीं इंडिया में पानी की वेस्टेज भी देखी। तब मुझे लगा- इंडिया को वाटर ट्रीटमेंट के लिए जागरूक करना होगा।इन्सपिरेशन- विदेश में लोगों को साफ पानी के लिए जूझते देखा था, वहीं इंडिया में पानी की वेस्टेज भी देखी। तब मुझे लगा- इंडिया को वाटर ट्रीटमेंट के लिए जागरूक करना होगा।
इन्सपिरेशन- मेरे बिजनेस पार्टनर ने मेरा मजाक उड़ाया था कि ये लड़की कभी काम नहीं कर पाएगी। उसके ताने का जवाब देने के लिए खुद का काम शुरू किया।इन्सपिरेशन- मेरे बिजनेस पार्टनर ने मेरा मजाक उड़ाया था कि ये लड़की कभी काम नहीं कर पाएगी। उसके ताने का जवाब देने के लिए खुद का काम शुरू किया।
इन्सपिरेशन- पिता को गाय पालना पसंद रहा है। एजुकेशन पूरा करने के बाद घर लौटी तो फादर ने खेती और डेयरी का आइडिया दिया।इन्सपिरेशन- पिता को गाय पालना पसंद रहा है। एजुकेशन पूरा करने के बाद घर लौटी तो फादर ने खेती और डेयरी का आइडिया दिया।
इन्सपिरेशन- ग्रेजुएशन की पढ़ाई के दौरान छेड़छाड़ हुई थी। शिकायत पर पुलिस ने कुछ नहीं किया। वहीं से पुलिस सर्विस ज्वाइन करने की प्रेरणा मिली।इन्सपिरेशन- ग्रेजुएशन की पढ़ाई के दौरान छेड़छाड़ हुई थी। शिकायत पर पुलिस ने कुछ नहीं किया। वहीं से पुलिस सर्विस ज्वाइन करने की प्रेरणा मिली।
इंस्पिरेशन- ट्रेन एक्सीडेंट के बाद लोग मुझसे ऐसे मिलते थे जैसे मैं कोई असहाय हूं। एवरेस्ट फतह करने की प्रेरणा हॉस्पिटल के बेड पर मिली।इंस्पिरेशन- ट्रेन एक्सीडेंट के बाद लोग मुझसे ऐसे मिलते थे जैसे मैं कोई असहाय हूं। एवरेस्ट फतह करने की प्रेरणा हॉस्पिटल के बेड पर मिली।
इन्सपिरेशन- योगेश (आईईएस) ने बताया- सिविल सर्विसेस में आने से पहले जॉब करता था। भाई-बहन सिविल की तैयारी कर रहे थे। रक्षाबंधन के समय रिजल्ट आया था, जिसमें कोई सेलेक्ट नहीं हुआ। मैंने फैसला किया कि अब सबसे पहले मैं सिविल सर्विसेस निकालूंगा। उसके बाद भाई-बहन को मोटिवेट करूंगा।इन्सपिरेशन- योगेश (आईईएस) ने बताया- सिविल सर्विसेस में आने से पहले जॉब करता था। भाई-बहन सिविल की तैयारी कर रहे थे। रक्षाबंधन के समय रिजल्ट आया था, जिसमें कोई सेलेक्ट नहीं हुआ। मैंने फैसला किया कि अब सबसे पहले मैं सिविल सर्विसेस निकालूंगा। उसके बाद भाई-बहन को मोटिवेट करूंगा।
इन्सपिरेशन- यूपी की दंगल गर्ल के नाम से जानी जाती हैं. भाई रेसलिंग में कामयाब न हुआ तो पिता ने 10 साल की एज में अखाड़े में उतार दिया. बाल बॉय कट करा दिया गया. भाई ने प्रैक्टिस के लिए साथ जाने से मना किया तो पिता साथ साथ रहे।इन्सपिरेशन- यूपी की दंगल गर्ल के नाम से जानी जाती हैं. भाई रेसलिंग में कामयाब न हुआ तो पिता ने 10 साल की एज में अखाड़े में उतार दिया. बाल बॉय कट करा दिया गया. भाई ने प्रैक्टिस के लिए साथ जाने से मना किया तो पिता साथ साथ रहे।
इन्सपिरेशन- ये खुद यौन हिंसा का शिकार हो चुकी हैं। इन्होंने 7 लड़कियों के साथ रेड ब्रिगेड बनाई। स्कूलों में जाकर गुड टच-बैड टच के बारे में बताती हैं।इन्सपिरेशन- ये खुद यौन हिंसा का शिकार हो चुकी हैं। इन्होंने 7 लड़कियों के साथ रेड ब्रिगेड बनाई। स्कूलों में जाकर गुड टच-बैड टच के बारे में बताती हैं।
इन्सपिरेशन- पिता रियल स्टेट कारोबारी हैं। क्रिकेट और बैडमिन्टन में फेल हुआ, लेकिन शूटिंग में मेडल ले आया। देश के सबसे कम उम्र के शूटर हैं। प्रैक्टिस के लिए रोज जाते थे 100 किमी।इन्सपिरेशन- पिता रियल स्टेट कारोबारी हैं। क्रिकेट और बैडमिन्टन में फेल हुआ, लेकिन शूटिंग में मेडल ले आया। देश के सबसे कम उम्र के शूटर हैं। प्रैक्टिस के लिए रोज जाते थे 100 किमी।
इन्सपिरेशन- डीएसपी मोनिका यादव की 6 महीने की वर्किंग हिस्ट्री से ऐसा लगता है कि उनके जैसे डेडिकेटेड ऑफिसर्स को पुलिस फोर्स की काफी जरूरत है।इन्सपिरेशन- डीएसपी मोनिका यादव की 6 महीने की वर्किंग हिस्ट्री से ऐसा लगता है कि उनके जैसे डेडिकेटेड ऑफिसर्स को पुलिस फोर्स की काफी जरूरत है।
Youth day special story
इन्सपिरेशन- मां सिलाई मशीन चलाकर घर का खर्च उठाती हैं। जब सिलेक्शन हुआ तो उसने टीका लगाकर मुझे खेलने भेजा। मां की मेहनत की वजह से मैं सफल रही।इन्सपिरेशन- मां सिलाई मशीन चलाकर घर का खर्च उठाती हैं। जब सिलेक्शन हुआ तो उसने टीका लगाकर मुझे खेलने भेजा। मां की मेहनत की वजह से मैं सफल रही।
इन्सपिरेशन- तीनों दोस्तों को एक ढाबे पर खाना खाते समय यह आइडिया आया। जुलाई 2017 में उन्होंने लखनऊ में आउटलेट शुरू किया।इन्सपिरेशन- तीनों दोस्तों को एक ढाबे पर खाना खाते समय यह आइडिया आया। जुलाई 2017 में उन्होंने लखनऊ में आउटलेट शुरू किया।
इन्सपिरेशन- पिता की मेहनत देखकर उन्होंने 9th क्लास से ठान लिया था कि उन्हें अमेरिका से हायर स्टडीज करनी है। 2014 में यूएस के वेलेसली कॉलेज में एडमिशन लिया।इन्सपिरेशन- पिता की मेहनत देखकर उन्होंने 9th क्लास से ठान लिया था कि उन्हें अमेरिका से हायर स्टडीज करनी है। 2014 में यूएस के वेलेसली कॉलेज में एडमिशन लिया।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..