Home | Uttar Pradesh | Lucknow | News | Instructions for CBI inquiry into Noida encounter

विधान परिषद में घिरी सरकार, नोएडा के तीन एनकाउंटर की सीबीआई जांच का इंस्ट्रक्शन

विधान परिषद में समाजवादी पार्टी बहुमत में है।

dainikbhaskar.com| Last Modified - Feb 13, 2018, 06:46 PM IST

1 of
Instructions for CBI inquiry into Noida  encounter
यूपी विधान परिषद। फाइल फोटो

लखनऊ. विपक्षी दलों के कार्य स्थगन ( नियम 105 ) प्रस्ताव पर यूपी विधान परिषद के सभापति रमेश यादव ने गौतमबुद्धनगर के सुमित गुर्जर उर्फ डंबर, शिव कुमार यादव, जितेन्द्र यादव के एनकाउंटर की सीबीआई जांच कराने का योगी आदित्यनाथ सरकार का निर्देश दिया है। विधान परिषद में समाजवादी पार्टी बहुमत में है। बतातें चलें कि सुमित गुर्जर के एनकाउंटर पर गुर्जर समाज के लोगों ने पार्टी लाइन तोड़कर धरना प्रदर्शन किया था।  

 

-यादव जाति के युवक को गोली मारने के विरोध में भी प्रदर्शन हुआ था, जिस पर नोएडा के एसएसपी लव कुमार ने इस वारदात के एनकाउंटर होने से इनकार किया। एक प्रशिक्षु दारोगा को गिरफ्तार करा दिया था।

सपा लायी कार्यस्थगन प्रस्ताव

-विधान परिषद की कार्यवाही शुरू होने पर नेता प्रतिपक्ष अहमद हसन ने 3 फरवरी, 2018 को नोएडा के सेक्टर-122 के पास जितेन्द्र यादव नाम युवक का एनकाउंटर करने के प्रयास का मामला उठाया। इस वारदात में जितेन्द्र को पुलिस ने गोली मार दी थी, जिसका गंभीर हालत में इलाज चल रहा है। हसन ने सुमित व शिव यादव के एनकाउंटर का मुद्दा भी उठाया।   

-कांग्रेस के एमएलसी दीपक सिंह व दिनेश सिंह ने भी इस मुद्दे पर चर्चा कराने की मांग उठाई। बसपा सदस्यों का भी उन्हें समर्थन मिला।

-सदस्यों के हंगामे के बीच राज्यसभा के सभापति रमेश यादव ने कार्यस्थगन अस्वीकार कर दिया मगर नोएडा की सुमित गुर्जर उर्फ डंबर, जितेन्द्र यादव एवं शिव यादव के एनकाउंटर की  सीबीआई से जांच कराने का निर्देश राज्य सरकार को दिया।

 -बसपा के सुनील कुमार चित्तौड़ ने एक जनवरी, 2018 को ग्राम-सेही, थाना-शेरगढ मथुरा में नाबालिग लड़की से दुष्कर्म करने वालों के विरुद्ध अब तक कार्रवाई नहीं होने का मुद्दा कार्यस्थगन के तहत उठाया। अधिष्ठाता जगवीर किशोर जैन ने कार्यस्थगन अस्वीकार कर विवेचनाधिकारी से ऊपर रैंक के अधिकारी को विवेचना सौंपने का सरकार को निर्देश दिया। 

 

नियम-223ः विशेषाधिकार प्रस्ताव 

- शिक्षक दल के ओम प्रकाश शर्मा ने मेरठ में डाक्टरों को शस्त्र लाइसेंस के मसले पर जानबूझकर गलत उत्तर देने के कारण विषेषाधिकार हनन की सूचना दी। राज्यमंत्री डा0 महेन्द्र सिंह ने इस मामले में जवाब देते  हुए कहा कि इस मामले में सभापति का निर्देश सरकार मानेगी। 

-प्रकरण 2016 का है,  सभापति ने दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई का निर्देश दिया। 

 

ध्यानाकर्षण प्रस्ताव कार्यवाही हेतु संदर्भित

  -भाजपा के लक्ष्मण प्रसाद आचार्य ने चन्दौली के व्यासनगर में महर्षि वेद व्यास मंदिर के जीर्णोद्धार कराने तथा पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने की मांग उठाई।

 -सपा के शैलेन्द्र सिंह ने 29 जनवरी, 2018 को सुलतानपुर में दोहरे हत्याकाण्ड में लापरवाही पर एसओ बल्दीराय को निलम्बित करने व अपराधियों को पकड़ने की मांग उठाई।

-बसपा के सुनील कुमार चित्तौड़ ने फतेहपुर के पट्टी शाह स्थित खाता संख्या-266 की आधार वर्ष खतौनी 1366-1368 फसली पर हुये अवैध कब्जे को मुक्त कराने की मांग की। 

- शिक्षक दल के हेम सिंह पुण्डीर ने पश्चिमी यूपी में हाईकोर्ट की बेंच स्थापित करने की मांग की। 

-सपा के डा0 राजपाल कश्यप ने रिजर्व बंदी रक्षकों को सेवा के समस्त लाभ एवं सेवानिवृत्त लाभ इत्यादि दिये जाने की मांग की। 

 .-शिक्षक दल के ध्रुव कुमार त्रिपाठी ने इलाहाबाद के लाउदर रोड़ पर संचालित शराब की दुकान स्थानान्तरित करने की मांग की। 

Instructions for CBI inquiry into Noida  encounter
परिषद में हंगामा करता विपक्षी दल
Instructions for CBI inquiry into Noida  encounter
यूपी विधानसभा। फाइल फोटो
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now