Hindi News »Uttar Pradesh News »Lucknow News »News» Accused Arrested Who Threw His Daughter From Train

4 बेटियों को ट्रेन से फेंकने वाले ने कहा- मैंने पी रखी थी, 5वीं को इसलिए न फेंक सका

DainikBhaskar.com | Last Modified - Jan 17, 2018, 06:33 PM IST

बीते साल 24 अक्टूबर को चलती ट्रेन से चार बेटियों को फेंकने वाले पिता को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया।
    • आरोपी पिता ने बताया- परिवार के साथ बिहार से जम्मू बिना टिकट सफर कर रहा था। ट्रेन के एक स्टेशन पर रुकते ही मैंने शराब पी। (इनसेट में आरोपी पिता)

      लखनऊ. राजधानी से 90 किलोमीटर दूर बीते साल 24 अक्टूबर को एक पिता ने चलती ट्रेन से चार बेटियों को फेंक दिया था। करीब आधा-आधा किलोमीटर दूर रेलवे ट्रैक के किनारे चोरों बेटियां बरामद हुई थी। ढाई महीने से फरार चल रहे आरोपी पिता को जीआरपी ने मंगलवार को अरेस्ट किया। पूछताछ में आरोपी ने बताया, ''परिवार के साथ बिहार से जम्मू बिना टिकट सफर कर रहा था। ट्रेन के एक स्टेशन पर रुकते ही मैंने शराब पी। नशे की हालत में एक-एक कर चार बेटियों को फेंक दिया। पांचवीं बेटी पत्नी की गोद में थी, इसलिए उसे नहीं फेंका।'' आगे पढ़िए पूरा मामला...


      - मामला ढाई महीने पहले 24 अक्टूबर 2017 का है। जनपद सीतापुर के अलग-अलग थानाक्षेत्रों में रेलवे ट्रैक के किनारे एक मृत और तीन घायल बहनें बरामद हुईं थी।
      - उपचार के दौरान एक बच्ची को लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर किया गया था। होश में आते ही उसे तीनों की फोटों दिखाई गई। पता चला कि चारों सगी बहनें थीं।
      - आईजी रेलवे विनोद कुमार सिंह ने बताया, ''पिता इंदु अंसारी पत्नी आफरीन और 5 बेटियों के साथ बिहार से जम्मू जा रहा था। उसी वक्त शराब के नशे में उसने चार बेटियों अलबुन खातून (8), मुन्नी खातून (5), रबिया खातून (9) और सलीमा खतून (4) को चलती ट्रेन से फेंक दिया था।''
      - ''पीड़ित पत्नी ने मामले का खुलासा किया था। इसके बाद कई जिलों की जीआरपी और पुलिस इंदु अंसारी की तलाश में लगी रही।''
      - एसपी जीआरपी सौमित्र यादव ने बताया, ''मंगलवार को सर्विलांस के जरिए टीम को जानकारी मिली कि आरोपी अपने गृह जनपद मोतिहारी बिहार से दिल्ली के लिए ट्रेन में सवार हुआ है। लखनऊ जंक्‍शन पर प्लेटफॉर्म पर आते ही उसे गिरफ्तार कर लिया गया।


      नशे की हालत में घटना को दिया अंजाम
      - मूलरूप से बिहार का रहने वाला आरोपी इंदु अंसारी पेशे से मिस्त्री है। पहली पत्नी की मौत के बाद उसने दूसरी शादी आफरीन से की।
      - दोनों पत्नियों से कुल दो बेटे और 5 बेटियां थी। पुलिस की पूछताछ में आरोपी पिता ने बताया, ''मैं परिवार के साथ बिहार से जम्मू बिना टिकट सफर कर रहा था।''
      - ''गोरखपुर में डेढ़ घटना ट्रेन रुकी और मैंने शराब खरीदकर पी। नशे की हालत में एक-एक कर चलती ट्रेन से चार बेटियों को फेंक दिया। पांचवीं बेटी पत्नी की गोद में थी, इसलिए उसे नहीं फेंका।''

      मां ने बताई थी ये सच्चाई
      - वहीं, घटना के बाद पत्नी बेटी हसीना(7) को लेकर मायके (बिहार) पहुंच गई थी। जांच टीम उसे बिहार से सीतापुर लेकर आई। 12 घंटे की पूछताछ में उसने पति के हैवानियत की कहानी सुनाई थी।

      - उसका कहना था, ''वारदात के वक्त सो रही थी। आंख खुलने तक उसके पति ने 4 बेटियों को फेंक दिया था। यह देखकर वो डर गई कि छोटी बेटी हसीना को भी ट्रेन से न फेंक दे, इसीलिए उतर गई।''

    • 4 बेटियों को ट्रेन से फेंकने वाले ने कहा- मैंने पी रखी थी, 5वीं को इसलिए न फेंक सका
      +3और स्लाइड देखें
      आरोपी पिता ने बताया- नशे की हालत में एक-एक कर चार बेटियों को फेंक दिया। (फाइल)
    • 4 बेटियों को ट्रेन से फेंकने वाले ने कहा- मैंने पी रखी थी, 5वीं को इसलिए न फेंक सका
      +3और स्लाइड देखें
      आरोपी पिता ने बताया- पांचवीं बेटी पत्नी की गोद में थी, इसलिए उसे नहीं फेंका।(फाइल)
    • 4 बेटियों को ट्रेन से फेंकने वाले ने कहा- मैंने पी रखी थी, 5वीं को इसलिए न फेंक सका
      +3और स्लाइड देखें
      आधा-आधा किलोमीटर दूर रेलवे ट्रैक के किनारे चोरों बेटियां बरामद हुई थी। जिसमें एक की मौत हो गई थी।
    आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
    दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Lucknow News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
    Web Title: Accused Arrested Who Threw His Daughter From Train
    (News in Hindi from Dainik Bhaskar)

    Stories You May be Interested in

        रिजल्ट शेयर करें:

        More From News

          Trending

          Live Hindi News

          0
          ×