--Advertisement--

यहां सगे भाई ने ही करवा दी छोटे भाई के टुकड़ें, बचने के लिए उठाया ये कदम

शाहजहांपुर में एक शख्स ने प्रॉपर्टी के लिए अपने सगे भाई का मर्डर करवा दिया।

Danik Bhaskar | Dec 15, 2017, 06:07 PM IST
शाहजहांपुर में पुलिस ने एक मर् शाहजहांपुर में पुलिस ने एक मर्

शाहजहांपुर(यूपी). यहां गुरुवार को पुलिस ने एक मर्डर का खुलासा कर दिया। प्रॉपर्टी के लालच में पूर्व प्रधान भाई ने 50 हजार रुपए में अपने सगे भाई का मर्डर करवा दिया। हत्यारों ने पहले कुल्हाड़ी से उसकी हत्या की, उसके बाद बॉडी के टुकड़े करके आग लगा दी। जले हुए टुकड़ों को जमीन दफना दिया। आरोपी ने बताया कि ये मर्डर 70 बीघा जमीन के लिए किया गया। जिसने उसे जान से मारने की सुपारी ली, वह मृतक का खास दोस्त था।

ये है पूरा मामला...

- घटना थाना जलालाबाद के डोलापुर गांव की है। यहां के रहने वाले वासुदेव (50) का 4 सितंबर 2017 को अपहरण हो गया था। इनके 5 भाई हैं। एक भाई रामनिवास गांव का पूर्व प्रधान भी रह चुका है।
- वासुदेव की पुश्तैनी खेती पांचों भाइयों मे बांट दी गई, जिसमें करीब 70 बीघा खेती इसके हिस्से में आई है। इसने शादी भी नहीं की थी। वासुदेव अपने बड़े भाई के घर रहकर बच्चों की देखभाल करते थे। जमीन के लालच में रामनिवास ने अपने भाई के जान की ही सुपारी दे दी।

खास दोस्त ने किया मर्डर
- एसपी ग्रामीण सुभाष चंद्र शाक्य के मुताबिक, ''रामनिवास ने हरेवा गांव के रहने वाले अजय के साथ भाई की हत्या का प्लान बनाया। आरोपी भाई ने ये डील 50 हजार रुपए में तय की।
- अजय ने अपने साथी बजरंगी और धीरा के साथ मिलकर मर्डर का प्लान बनाया और एडवांस के तौर पर 5 हजार रुपए भी ले लिया। बता दें, अजय और वासुदेव में गहरी दोस्ती थी।''
- मर्डर के बाद अजय भी गांव से गायब था, शक होने पर सर्विलांस के जरिए उसका पता लगाया गया। फिलहाल आरोपी भाई रामनिवास, समेत अजय और धीरा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। जबकि आरोपी बजरंगी कुशवाहा की गिरफ्तारी के बाद प्रयास किए जा रहे हैं।
- अभियुक्त अजय ने बताया, ''वासुदेव को डोलापुर गांव बुलावाया गया, जहां हम लोग पहले से मौजूद थे। उसके आते ही उसपर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया, जिससे वह लहूलुहान होकर जमीन पर गिर गया।''
- ''उसके ऊपर कई प्रहार करके शव के टुकड़े कर दिए। उसके बॉडी के टुकड़ों में आग लगाकर जमीन में दफना दिया। हत्या करने के बाद 45 हजार रुपए रामनिवास ने दे दिए।