--Advertisement--

बेटे की चाह में महिला ने उठाया ये कदम, बोली- तांत्र‍िक के कहने पर किया

शाहजहांपुर में एक महिला, तांत्र‍िक के कहने पर एक बच्चे को जान से मार दी।

Danik Bhaskar | Dec 08, 2017, 03:51 PM IST
शाहजहांपुर में एक महिला अपने 2 शाहजहांपुर में एक महिला अपने 2

शाहजहांपुर (यूपी). यहां एक महिला ने संतान पाने के लिए एक मासूम बच्चे की बली चढ़ा दी। पुलिस ने आरोपियों को अरेस्ट कर मामले का खुलासा कर दिया है। आरोपी महिला ने बताया, ''तांत्रिक मौलाना ने कहा था, बच्चा चहिए है तो एक बच्चे की बली चढ़ा दो, उसके बाद बच्चे के बाएं गाल पर काटकर उसका खून मुंह के अंदर लेना है।'' फिलहाल पुलिस ने तीनों आरोपियों को जेल भेज दिया है।

ये है पूरा मामला...

- दरअसल आरोपी धनदेवी (28) अपने ममेरे भाई सुनील और उसके दूर के रिश्ते का मामा सूरज तीनों थाना रौजा में रह रहे थे। महिला की शादी पीलीभीत के थाना बीसलपुर में धर्मपाल से 7 साल पहले हुई थी, लेकिन उसकी कोई संतान नहीं थी।
- आरोपी महिला ने बताया, ''शादी के 7 साल बाद भी मेरी कोई संतान नहीं है। करीब 2 महीने पहले पीलीभीत के रहने वाले एक मौलाना के संपर्क में आई। उसने दवा दी लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ।''
- ''उसके बाद उसने कहा, 'बच्चा पाने के लिए एक बच्चे की बली देना होगी।' बच्चे की चाह में पड़ोसी ब्रजेश कुमार के बेटे लालदास (10) को बहाकर घर ले आई।''
- ''घर में उसे एक कमरे मे बंदकर रजाई के अंदर दबा दिया, जिससे उसकी चीख बाहर नहीं आ सकी। रात के करीब 12 बजे मैं, ममेरा भाई और मामा तीनों ने मिलकर मासूम की बली दे दी।''
- ''तांत्रिक ने बली देने का तरीका भी बताया था। कहा था, रस्सी से गला घोंटकर उसकी हत्या करना और उसके बाद उसके बाएं गाल पर दातों से काटना और काटने के बाद निकले खून को मुहं में लेना। ऐसा करने से संतान की प्राप्ति हो जाएगी।''
- ''बली के बाद रात में ही बच्चे की डेडबॉडी को घर के बाहर चारपाई पर डाल दिया था। जिससे मेरे ऊपर किसी को शक न हो।''

पुलिस ने क्या कहा
- एसपी सिटी दिनेश त्रिपाठी ने कहा, ''2 दिन पहले जमुका गांव में बच्चे की डेडबॉडी मिली थी। मृतक के पिता की तहरीर पर अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच की जा रही थी।''
- ''घर के आसपास के रहने वाले लोगों से पूछताछ की, जिसमें धनदेवी की बात संदिग्ध लग रही थी। सख्ती से पूछताछ करने पर उसने जुर्म कबूल कर लिया। बच्चे की चाहत में महिला ने अपने 2 साथियों के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया। तांत्रिक के इशारे पर बली दी गई है उसकी भी जांच की जा रही है।''