--Advertisement--

नोएडा मल्टी लेवल मार्केटिंग फ्रॉड केस में अनुभव मित्तल की पत्नी-पिता न्यायिक हिरासत में: कोर्ट

लखनऊ. कोर्ट ने मनी लांड्रिंग के मामले में अनुभव मित्तल की पत्नी-पिता को लिया न्यायिक हिरासत में लिया है।

Dainik Bhaskar

Feb 12, 2018, 08:19 PM IST
स्पेशल कोर्ट ने मामले में अनुभव मित्तल की पत्नी आयुषि अग्रवाल और उसके पिता सुनील मित्तल को न्यायिक हिरासत में लखनऊ जेल भेज दिया है। (अनुभव मित्तल फाइल) स्पेशल कोर्ट ने मामले में अनुभव मित्तल की पत्नी आयुषि अग्रवाल और उसके पिता सुनील मित्तल को न्यायिक हिरासत में लखनऊ जेल भेज दिया है। (अनुभव मित्तल फाइल)

लखनऊ. ईडी की स्पेशल कोर्ट ने नोएडा के मल्टी लेवल मार्केटिंग फ्रॉड से जुड़े मनी लांड्रिंग के एक मामले में अनुभव मित्तल की पत्नी आयुषि अग्रवाल और उसके पिता सुनील मित्तल को न्यायिक हिरासत में लखनऊ जेल भेज दिया है। सोमवार को आयुषि को गाजियाबाद की डासना जेल, जबकि सुनील को गौतमबुद्धनगर की लुक्सर जेल से विशेष अदालत के समक्ष पेश किया गया था। अदालत ने ईडी की उस अर्जी को भी मंजूर कर लिया है, जिसमें आयुषि से पूछताछ की अनुमति मांगी गई थी। अदालत ने ईडी को 15, 16 व 17 फरवरी को आयुषि का लखनऊ जेल में बयान दर्ज करने की की अनुमति दी है। आगे पढ़िए पूरा मामला...


- कोर्ट ने इस मामले में भारत सरकार की सीरियस फ्रॉड इन्वेस्टिगेशन ऑफिस (एसएफआईओ) की टीम को भी लखनऊ जेल में निरुद्ध अभियुक्त अनुभव मित्तल व श्रीधर प्रसाद का बयान दर्ज करने की इजाजत दी है।
- 21, 22 व 23 फरवरी को एसएफआइओ की टीम इन अभियुक्तों का बयान दर्ज कर सकती है। जबकि इस मामले में जमानत पर रिहा अभियुक्त महेश दयाल के विरुद्ध समन जारी करने का आदेश दिया है।
- विशेष अदालत ने यह आदेश एसएफआईओ के असिस्टेंट डायरेक्टर की अर्जी को मंजूर करते हुए दिया है।

- इससे पूर्व ईडी के विशेष वकील कुलदीप श्रीवास्तव ने अदालत के समक्ष एक अर्जी पेश कर आयुषि व सुनील को न्यायिक हिरासत में लेने की मांग की।

- उनका कहना था कि अभियुक्तों पर मल्टी लेवल मार्केटिंग के जरिए 3700 करोड़ के जनधन घोटाले का आरोप है। एक फरवरी, 2017 को एसटीएफ ने अनुभव व दो अन्य अभियुक्तों को गिरफ्तार कर इस मामले का खुलासा किया था व ग्रेटर नोएडा के थाना सुरजपुर में धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

- साथ ही अभियुक्तों की कम्पनी के विभिन्न बैंकों में जमा करीब 599 करोड़ की रकम को भी सीज कर दिया था। अभियुक्तों ने गे्रटर नोएडा के सेक्टर-63 में एब्लेज इंफो सॉल्यूशन्स नाम से एक कम्पनी खोली थी। जो सोशल ट्रेड डॉट बिज के नाम से एक पोर्टल बनाकर मल्टी लेवल मार्केटिंग के जरिए लोगों को सदस्य बनाकर ठगी कर रही थी।

- चार फरवरी, 2017 को ईडी ने भी इस मामले में सूचना दर्ज कर जांच शुरु की थी। 18 फरवरी, 2017 को ईडी के इस मामले में अभियुक्त अनुभव, महेश व श्रीधर को न्यायिक हिरासत में जेल भेजा गया।
- पांच अक्टूबर, 2017 को ईडी ने इस मामले में आयुषि अग्रवाल व सुनील मित्तल के खिलाफ भी आरोप पत्र दाखिल किया। बीते 29 जनवरी को आरोप पत्र पर संज्ञान लेते हुए ईडी की विशेष अदालत ने आयुषि व सुनील को जरिए प्रोडक्शन वारंट जेल से तलब किया था।

अदालत ने ईडी को 15, 16 व 17 फरवरी को आयुषि का लखनऊ जेल में बयान दर्ज करने की की अनुमति दी है। अदालत ने ईडी को 15, 16 व 17 फरवरी को आयुषि का लखनऊ जेल में बयान दर्ज करने की की अनुमति दी है।
X
स्पेशल कोर्ट ने मामले में अनुभव मित्तल की पत्नी आयुषि अग्रवाल और उसके पिता सुनील मित्तल को न्यायिक हिरासत में लखनऊ जेल भेज दिया है। (अनुभव मित्तल फाइल)स्पेशल कोर्ट ने मामले में अनुभव मित्तल की पत्नी आयुषि अग्रवाल और उसके पिता सुनील मित्तल को न्यायिक हिरासत में लखनऊ जेल भेज दिया है। (अनुभव मित्तल फाइल)
अदालत ने ईडी को 15, 16 व 17 फरवरी को आयुषि का लखनऊ जेल में बयान दर्ज करने की की अनुमति दी है।अदालत ने ईडी को 15, 16 व 17 फरवरी को आयुषि का लखनऊ जेल में बयान दर्ज करने की की अनुमति दी है।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..