--Advertisement--

पैदा होने पर उड़ा था मजाक-बन गई Mrs इंडिया इंटरनेशनल, टर्नओवर है 2 Cr.

लखनऊ की रहने वाली तेजस्विनी सिंह दुनिया की 35 खूबसूरत महिलाओं को पीछे छोड़ बनी Mrs इंडिया इंटरनेशनल।

Dainik Bhaskar

Jan 26, 2018, 01:22 PM IST
Mrs india international tejaswini tandon

लखनऊ. राजधानी लखनऊ की रहने वाली तेजस्विनी सिंह (28) ने 21 जनवरी को सिंगापुर में आयोजित ब्यूटी कम्पटीशन में मिस एंड मिसेज इंडिया इंटरनेशनल का खिताब जीता है। मूल रूप से देवरिया डिस्ट्रिक्ट की रहने वाली तेजस्विनी अपनी प्रतिभा के दम पर 35 देशों की खूबसूरत लेडीज को पीछे छोड़ इंटरनेशनल लेवल के कंपटीशन में जीत हासिल की है। ये पेशे से जर्नलिस्ट और हर्बल प्रोडक्ट की निर्माता भी है। इन्होंने DainikBhaskar.com से बात की और अपने एक्सपीरियेंस को शेयर किया।


घर में लड़की पैदा होने उड़ाया गया था मजाक...

- तेजस्विनी बताती है, ''मेरा जन्म 13 दिसम्बर 1989 को फैजाबाद में हुआ था। मूल रूप से देवरिया की रहने वाली हूं। लेकिन अभी लखनऊ में रह रही हूं। पिता श्रीराम सिंह चकबंदी अधिकारी थे। मां निर्मला हाउस वाइफ है। हम 2 बहनें और एक भाई थे। मैं दूसरे नंबर पर थी।''
- ''घर में बेटा-बेटी को लेकर कोई भेदभाव नहीं किया गया। मैं बचपन से ही पढ़ने में बहुत तेज और क्रिएटिव माइंड की रही हूं। हालांकि बड़ी बहन के बाद जब मैं पैदा हुई तो रिश्तेदार निराश हो गए और मेरी फैमिली का मजाक उड़ाने लगे कि एक और बेटी पैदा हो गई।''
- ''मेरे पैरेंट्स ने कभी इस बात की परवाह नहीं की। उन्होंने एक बेटे की तरह हमारा पालन पोषण किया।''

Mrs india international tejaswini tandon

पिता की डेथ के बाद छोड़नी पड़ी थी जॉब


- ''मैंने लखनऊ यूनिवर्सिटी से 2007 में ग्रेजुएशन कम्प्लीट किया। उसी दौरान कानपुर के एक मीडिया हाउस के लिए मेरा कैम्पस सेलेक्शन हो गया। 2008 में मैंने जनर्लिस्ट के तौर पर 15 हजार रुपए सैलरी में जॉब करना शुरू कर दिया था।''
- ''इस दौरान मुझे कई बड़े मीडिया हाउस में काम करने का मौका मिला लेकिन पापा की बीमारी के चलते मुझें अगस्त 2011 में रेग्युलर जॉब छोड़नी पड़ी। पापा की डेथ होने के 3 साल बाद तक किसी से कोई मतलब नहीं रखा।''
- ''हर्बल प्रोडक्ट तो मैंने 14 साल की उम्र में ही हॉस्टल में रहकर बनाना शुरू कर दिया था। कॉलेज से आने के बाद मैं रूम बंदकर डेली प्रोडक्ट बनाने के काम में जुट जाती थी। लेकिन 2011 में पापा के डेथ के बाद इस पर पूरी तरह से काम करना शुरू कर दिया।''
- ''मैंने 3 साल में 70 प्रकार के हर्बल प्रोडक्ट को तैयार किया। आज मेरे बनाए गए हर्बल प्रोडक्ट की मार्किट में काफी अच्छी डिमांड है।''

 

Mrs india international tejaswini tandon

7 हजार रूपए से शुरू किया था काम 


-''मैंने लखनऊ यूनिवर्सिटी से 2007 में ग्रेजुएशन कम्प्लीट किया। उसी दौरान कानपुर के एक मीडिया हाउस के लिए मेरा कैम्पस सेलेक्शन हो गया। 2008 में मैंने जनर्लिस्ट के तौर पर जॉब करना शुरू कर दिया था।''
- ''इस दौरान मुझे कई बड़े मीडिया हाउस में काम करने का मौका मिला लेकिन पापा की बीमारी के चलते मुझें अगस्त 2011 में रेग्युलर जॉब छोड़नी पड़ी। पापा की डेथ होने के 3 साल बाद तक किसी से कोई मतलब नहीं रखा।''
- ''हर्बल प्रोडक्ट तो मैंने 14 साल की उम्र में ही हॉस्टल में रहकर बनाना शुरू कर दिया था। कॉलेज से आने के बाद मैं रूम बंदकर डेली प्रोडक्ट बनाने के काम में जुट जाती थी। लेकिन 2011 में पापा के डेथ के बाद 7 हजार रूपए से मैंने अपना काम करना शुरू कर दिया।''

 

Mrs india international tejaswini tandon

ये अवार्ड कर चुकी है अपने नाम


- तेजस्विनी ने 25 सितम्बर 2016 को मिसेज यूपी ब्यूटी कांटेस्ट में हिस्सा लिया और विनर का अवार्ड जीता था।
- 9 सितम्बर 2017 को फोक टेल्ज सम्मान समारोह में हिस्सा लिया और फोक टेल्ज अवार्ड से सम्मानित किया गया।
- 27 अक्टूबर 2017 को सपा नेता अपर्णा यादव ने वूमैन इम्पावरमेंट अवार्ड से सम्मानित किया था।
- 21 जनवरी को सिंगापुर में आयोजित ब्यूटी कंपटीशन में मिस एंड मिसेज इंडिया इंटरनेशनल का खिताब जीता है।

Mrs india international tejaswini tandon
X
Mrs india international tejaswini tandon
Mrs india international tejaswini tandon
Mrs india international tejaswini tandon
Mrs india international tejaswini tandon
Mrs india international tejaswini tandon
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..