--Advertisement--

शपथ के 15 मिनट बाद देशद्रोह के आरोप में अरेस्ट हुई नपा अध्यक्ष, 14 दिन की न्यायिक हिरासत

नगर पालिका अध्यक्ष शहला ताहिर और उनके पति समेत 500 लोगों के खिलाफ 9 जनवरी को देशद्रोह का केस दर्ज है।

Dainik Bhaskar

Jan 17, 2018, 01:53 PM IST
वायरल वीडियो होने के बाद 9 जनवरी को देशद्रोह का केस दर्ज किया गया था। वायरल वीडियो होने के बाद 9 जनवरी को देशद्रोह का केस दर्ज किया गया था।

बरेली. नवाबगंज नगरपालिका अध्यक्ष शहला ताहिर के शपथ के 15 मिनट बाद उन्हें पुलिस ने अरेस्ट कर लिया। गिरफ्तारी के बाद कोर्ट में शहला ताहिर को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। ये है मामला...


- नबाबगंज की नवनिर्वाचित नगर पालिका अध्यक्ष शहला ताहिर और उनके पति समेत 500 लोगों के खिलाफ 9 जनवरी को देशद्रोह का केस दर्ज है। शहला ताहिर बसपा से नगर पालिका अध्यक्ष का चुनाव जीता था। आरोप है, ''शहला के विजय जुलूस में उनके समर्थकों ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए गए थे। जिसका वीडियो वायरल होने के बाद बीजेपी समेत तमाम हिंदू दलों में आक्रोश था।''


23 दिसंबर को निकाला था जुलूस


- शहला ताहिर ने बसपा की सीट पर इलेक्शन में लड़ा था जीत के बाद 23 दिसंबर, 2017 को समर्थकों ने विजय जुलूस निकाला था और पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए गए थे। नारे लगाते का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया था। जिसके बाद विश्व हिन्दू परिषद के एक नेता अखिलेश गंगवार की शिकायत के बाद जुलूस का वीडियो पुलिस ने जांच के लिए राजधानी लखनऊ भेजा था।
- 15 दिन बाद 9 जनवरी, 2018 को जांच रिपोर्ट में नारे लगाए जाने की पुष्टि की गई जिसके बाद नबाबगंज थाने में शहला ताहिर के पति समेत 500 समर्थकों पर देशद्रोह का केस दर्ज किया गया है।

23 दिसंबर को क्यों निकाला गया था जुलूस ?


- 1 दिसंबर, 2017 को निकाय चुनाव की मतगणना के दौरान बसपा की शहला ताहिर और बीजेपी प्रत्याशी प्रेमलता राठौर के समर्थकों के बीच पथराव हुआ था। जिसमे कई लोग घायल हुए।
- बीजेपी समर्थक विजय राठौर ने शहला और उनके पति समेत 27 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी। तब से शहला फरार थीं। 23 दिसंबर को शहला हाइकोर्ट से स्टे लेकर बरेली लौटीं और विजय जुलूस निकाला। इस वीडियो की लखनऊ में जांच कराई गई थी, जिसमें 'पाकिस्तान जिंदाबाद' नारे लगाने वाली बात सही पाई गई थी।
मंत्री ने की थी देशद्रोह की मांग
- मामले में प्रदेश के सिचाई मंत्री धर्मपाल सिंह ने शहला के खिलाफ राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज कराने की अपील आईजी जोन बरेली से की थी।

शपथ के 15 मिनट बाद पुलिस ने अरेस्ट किया। शपथ के 15 मिनट बाद पुलिस ने अरेस्ट किया।
23 दिसंबर को विजय जुलूस के दौरान 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे लगाए गए थे। 23 दिसंबर को विजय जुलूस के दौरान 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे लगाए गए थे।
X
वायरल वीडियो होने के बाद 9 जनवरी को देशद्रोह का केस दर्ज किया गया था।वायरल वीडियो होने के बाद 9 जनवरी को देशद्रोह का केस दर्ज किया गया था।
शपथ के 15 मिनट बाद पुलिस ने अरेस्ट किया।शपथ के 15 मिनट बाद पुलिस ने अरेस्ट किया।
23 दिसंबर को विजय जुलूस के दौरान 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे लगाए गए थे।23 दिसंबर को विजय जुलूस के दौरान 'पाकिस्तान जिंदाबाद' के नारे लगाए गए थे।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..