--Advertisement--

NIA ने 2 और हवाला कारोबारियों को UP से पकड़ा, लश्कर-ए-तैयबा से था कनेक्शन

मुजफ्फरनगर में 2 हवाला कारोबारियों को NIA ने अरेस्ट किया गया है।

Danik Bhaskar | Feb 09, 2018, 10:01 AM IST
NIA ने मुजफ्फरनगर से लश्कर की फंडिंग करने वाले 2 को अरेस्ट कर लिया। (फाइल) NIA ने मुजफ्फरनगर से लश्कर की फंडिंग करने वाले 2 को अरेस्ट कर लिया। (फाइल)

लखनऊ. लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी नईम को साढ़े 3 लाख रुपए मुहैया कराने वाले हवाला कारोबारी अब्दुल समद ने पूछताछ में अपने कनेक्शन से जुड़े अहम राज उगले हैं। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने समद से पूछताछ के आधार पर मुजफ्फरनगर से 2 हवाला कारोबारियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। एनआइए ने गुरुवार को मुजफ्फरनगर निवासी सर्राफ दिनेश गर्ग उर्फ अंकित (34) व आदिश कुमार जैन (54) को अरेस्ट किया है।

3 फरवरी को हुई थी छापेमारी...

- उल्लेखनीय है कि एनआइए ने 3 फरवरी को मुजफ्फरनगर में 4 स्थानों पर छापेमारी की थी। उस समय आरोपित दिनेश व आदिश के घरों व दुकानों में भी छानबीन की गई थी।
- दोनों आरोपी फोन के जरिए सऊदी अरब में बैठे भारतीय मूल के कई सोना तस्करों के सीधे संपर्क में थे। तस्करी का सोना खरीदने के साथ ही दोनों हवाला कारोबार में संलिप्त थे।

अधिकारी ने क्या कहा
- एनआइए अधिकारियों ने बताया, ''जांच में सामने आया है कि अब्दुल समद ने आतंकी नईम को साढ़े 3 लाख रुपए मुजफ्फरनगर से पकड़े गए, दोनों आरोपितों के जरिए ही उपलब्ध कराए थे।''
- ''एनआइए ने 3 फरवरी को दिनेश गर्ग उर्फ अंकित के घर से 15 लाख रुपए, नोट गिनने की 2 मशीनें, एक पिस्टल, लैपटॉप व 4 मोबाइल फोन बरामद किए थे।''
- ''वहीं आरोपी आदिश कुमार जैन के घर व दुकान से 32.84 लाख रुपए, चाइना मेड पिस्टल, कई हवाला कारोबारियों के नंबर, सऊदी अरब, कुवैत, यूएई, जापान व अन्य देशों की मुद्रा, 2 लैपटॉप व 3 मोबाइल बरामद किए थे।''
- ''एनआइए आरोपितों से पूछताछ के आधार पर हवाला कारोबार से जुड़े अन्य आरोपितों की तलाश कर रही है। बताया गया कि कई अन्य ऐसे नाम भी सामने आए हैं, जिनके आतंकियों से सीधे कनेक्शन रहे हैं।''
- ''दोनों लश्कर-ए-तैयबा के आतंकियों को हवाला की रकम उपलब्ध कराने में संलिप्त थे। इस मामले में एनआइए द्वारा अब तक 7 आरोपितों की गिरफ्तारी की गई है।''
- ''एनआइए ने पूर्व में औरंगाबाद निवासी आतंकी शेख अब्दुल नईम, गोपालगंज निवासी धन्नू राजा उर्फ बबलू व महरूफ आलम, जम्मू निवासी तौसीफ अहमद मलिक तथा रुड़की निवासी अब्दुल समद को गिरफ्तार किया था।''

जांच में पता चला कि दोनो सऊदी अरब से हवाला के जरिए लश्‍कर तक पैसा पहुंचाया करते थे। (फाइल) जांच में पता चला कि दोनो सऊदी अरब से हवाला के जरिए लश्‍कर तक पैसा पहुंचाया करते थे। (फाइल)