--Advertisement--

बुढ़ापे के कारण नहीं बन रहा आधार, वृद्धाश्रम में रहने वालों को नहीं मिल रही सुविधाएं

उंगलियां में झुर्रियां पड़ने के कारण फिगर प्रिंट नहीं हो रहा ट्रेस ।

Danik Bhaskar | Feb 09, 2018, 10:34 AM IST
आधार कार्ड नहीं होने के कारण कई सुविधाओं का लाभ नहीं ले पा रहे हैं ये बुजुर्ग। आधार कार्ड नहीं होने के कारण कई सुविधाओं का लाभ नहीं ले पा रहे हैं ये बुजुर्ग।

बरेली. उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में एक वृद्धाश्रम के बुजुर्गों ने आरोप लगाया है कि आधार कार्ड नहीं होने के कारण उनको मिलने वाली कई सुविधाएं बंद हो गई हैं। एक बुजुर्ग महिला ने कहा कि बुढ़ापे के कारण उनकी उंगलियों में झुर्रिया पड़ गई हैं जिस कारण से मशीन उन्हें ट्रेस नहीं कर पा रही है जिस कारण से उनका आधार कार्ड नहीं बन पा रहा है।

-वृद्धाश्रम में रहने वाली वीरवति का कहना है कि, आधार कार्ड नहीं होने के वहज से उन्हें कोई मदद नहीं मिल पा रही है। यह अच्छा होगा अगर मुझे किसी तरह से सहायता मिल जाए। मेरे पास आधार कार्ड नहीं है, इसलिए मुझे सुविधाएं नहीं मिलीं। मेरे पास कोई दस्तावेज नहीं है और मशीन में मेरे फिंगरप्रिंट ड्रेस नहीं हो रहा है। मेरे पास कोई संसाधन नहीं है। मुझे कोई पेंशन नहीं मिल रही है।

क्या कहना है अधिकारी का?

- बरेली के सामाजिक-कल्याण अधिकारी अशोक दीक्षित ने कहा कि यदि कोई व्यक्ति पेंशन के लिए ऑनलाइन आवेदन करता है तो उससे आधार नंबर के लिए कहा जाता है। कई ऐसे लोग हैं जिनके पास कोई आईडी नहीं है। ऐसे लोगों को नि:शुल्क भोजन और आश्रय प्रदान किया जाता है।


सुप्रीम कोर्ट ने लगाई थी फटकार

-हाल ही में आधआर कार्ड को लेकर सुप्रीम कोर्ट नें यूपी सरकार को फटकार लगाई थी। कोर्ट ने सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकार के हलफनामे पर नाखुशी जाहिर करते हुए यूपी के चीफ सेक्रेटरी से जवाब मांगा था। सुप्रीम कोर्ट ने कहा, मुख्य सचिव को यह जानना चाहिए कि बेघर लोगों के पास अगर आधार कार्ड नही है तो उनका क्या होगा। आपको इस बात की परवाह नहीं कि लोग सर्द रातों में कैसे जीवन काट रहे हैं?

वृद्धाश्रम में रहने वाली वीरवति का कहना है कि मेरे पास कोई दस्तावेज नहीं है। वृद्धाश्रम में रहने वाली वीरवति का कहना है कि मेरे पास कोई दस्तावेज नहीं है।