--Advertisement--

लखनऊ में रेल ट्रैक से गायब मिली 77 प्लेट, बड़े हादसे की साजिश हुई नाकाम

रेल ट्रैक से प्लेट के गायब होने की सूचना सुबह 4 बजकर 10 मिनट पर हुई। उसके करीब ढाई घंटे में रेल ट्रैक सामान्य हो गया।

Danik Bhaskar | Dec 03, 2017, 01:04 PM IST

लखनऊ.राजधानी में डॉलीगंज से बादशाहनगर के बीच बने रेल ट्रैक से 77 फिश प्लेट गायब थी । रेल कर्मचारियों को जानकारी रविवार सुबह 4 बजकर 10 मिनट पर हुई। पूर्वोतर रेलवे के पीआरओ आलोक श्रीवास्तव ने कहा, "पटरियों से प्लेट के गायब होने की जानकारी मिलने के बाद इंजीनियरिंग टीम 15 मिनट में मौके पर पहुंच गई। करीब 2.20 में हमने ट्रैक पर सामान्य कर दिया था।" ATS करेगी मामले की जांच

-रेल ट्रैक से क्लिप खोलने के मामले की जांच यूपीएटीएस की टीम करेगी। एटीएस के आईजी असीम अरुण ने कहा, "ये एक बड़ी साजिश हो सकती है। जांच शुरु कर दी गई। शहर के बीच का मामला है। आस-पास के सीसीटीवी के आधार पर छानबीन की जा रही है। सच्चाई जल्द सामने आ जाएगी।

14 फिश प्लेट मौके पर मिली

- पूर्वोतर रेलवे के पीआरओ आलोक श्रीवास्तव ने कहा, "गैंगमैन की सूचना पर जब इंजीनियरिंग की टीम मौके पर पहुंची, तो उसने ट्रैक के आस-पास चेक किया, तो उसे 14 प्लेट मिल गई। जिसके बाद रेल अधिकारी उस ट्रैक को ठीक करने में लगे।

- "जांच में करीब 700 मीटर के एरिया में प्लेट गायब थी। रेल अफसरों का कहना है कि रेल ट्रैक से फिश प्लेट को निकालना इतना आसान नहीं है। इसके लिए प्लानिंग और औजार चाहिए। हमें इसमें आतंकी साजिश नजर आती है। जीआरपी के एक अफसर ने कहा, आतंकी साजिश से इंकार नहीं किया जा सकता है।"

-"इस मामले में रेलवे ने अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी गई है। रेलवे भी अपने लेवल पर फिश प्लेट खुलने की जांच करा रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है- “ये एक बड़ी साजिश थी। रेल कर्मचारियों की सूझबूझ से इसे नाकाम किया गया।"