--Advertisement--

होम मिनिस्टर से मिला ये सम्मान, पुलिसवालों ने किया थाने में ऐसा डांस

गुडम्बा थाने के पुलिस कर्मियों ने सम्मानित होने की खुशी में खूब डांस कर मिठाईयां बांटी।

Dainik Bhaskar

Jan 08, 2018, 07:57 PM IST
देश के टॉप 10 थानों में गुडंबा थाने का तीसरा स्थान है। देश के टॉप 10 थानों में गुडंबा थाने का तीसरा स्थान है।

लखनऊ. देश के टॉप-10 थानों में लखनऊ के गुडंबा थाने का तीसरा नंबर है। शनिवार को केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने गुडंबा थाने के इंस्पेक्टर रामसूरत को सम्मानित किया। सोमवार को एसएसपी दीपक कुमार की मौजूदगी में कारोबारी और स्थानीय जनता को सम्मानित किया। पुलिसकर्मियों ने बैंडबाजे की धुन पर खूब डांस किया । बता दें कि 3 जनवरी को गुडम्बा थाने का चयन हुआ था।थाने की हुई थी शानदार सजावट...


-एसएसपी दीपक कुमार ने कहा,"ये खुशी का मौका है देश भर के थानों में से एक लखनऊ का गुडंबा थाने का तीसरा स्थान मिला है। इसके लिए गुडम्बा इंस्पेक्टर राम सूरत सोनकर और थाने की सभी फोर्स को बधाई देता हूं।
पुलिसकर्मियों ने किया डांस
-गुडम्बा थाने के पुलिस कर्मियों ने सम्मानित होने की खुशी में खूब डांस कर मिठाईयां बांटी। एक लाइन में खड़े होकर माला पहनाकर इंस्पेक्टर गुडम्बा राम सूरत सोनकर का स्वागत किया।
-इस मौके पर एसएसपी लखनऊ दीपक कुमार, एएसपी टीजी धीरेंद्र कुमार, सीओ गाजीपुर और लगभग थानों के प्रभारी पहुंच कर गुडंबा इंस्पेक्टर का सम्मान किया।

80 मानकों पर हुई जांच
- ऑल इंडिया डीजी और आईजी कांफ्रेंस में टॉप-10 थानों के सलेक्शन को लेकर चर्चा हई थी। गृह मंत्रालय के निर्देश पर नवंबर-दिसंबर 2017 को थानों का निरीक्षण किया था। क्वालिटी काउंसलिंग ऑफ इंडिया ने सर्वे किया। इसमें लखनऊ के गुडंबा थाने को तीसरा स्थान मिला।


गुडंबा थाने में मिली ये क्वालिटी
- पुलिस स्टेशन में रिकॉर्ड के रखरखाव की बेहतर व्यवस्था मिली।
- साफ-सफाई का अरेजमेंट भी पुलिस स्टेशन में अच्छा मिला ।
-ऑनलाइन जीआरएस, कंप्लेंट को सॉल्व करने में रिकॉर्ड अच्छा मिला।
- पुलिसकर्मियों का जनता को लेकर किए गए व्यवहार को भी ध्यान में रखा गया।


पुलिस स्टेशन में हैं इतना स्टॉफ
- इस थाने में इंस्पेक्टर के अलावा 12 पुरुष दारोगा, एक महिला दारोगा, एक एचसीपी, चार दीवान, 13 महिला कांस्टेबल और 65 पुरुष कांस्टेबल की तैनाती है। इंस्पेक्टर रामसूरत सोनकर ने कहा, "किसी भी टीम को लीड करने वाला लीडर तभी सफल होता है, जब तक उसका पूरा स्टॉफ सहयोग करता है। इस बात को साबित करके हमारी टीम ने दिखा दिया है। सभी लोग इंस्पेक्टर के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करते हैं।"

- गुडंबा थाने के पुलिसकर्मियों ने कहा, "इंस्पेक्टर का आदेश उनके लिए भगवान के आदेश के बराबर होता है। सामान होता है।"

इंस्पेक्टर को दो बार मिल चुका है गैलेंट्री अवार्ड
- गुडंबा थाने के इंस्पेक्टर राम सूरत सोनकर को दो बार गैलेंट्री अवॉर्ड भी मिल चुका है। आगरा में एसओजी प्रभारी के तौर पर रामसूरत सोनकर एनकाउंटर में बदमाशों को मार गिराया था। इस मुठभेड़ में गोली लगने की वजह से घायल भी हो गए थे। वहीं, हाथरस में भी व्यापारी को किडनैप कर ले जा रहे बदमाशों को भी उन्होंने मार गिराया था।
-उस वक्त तत्कालीन राज्यपाल बीएल जोशी ने उन्हें गैलेंट्री अवार्ड से सम्मानित किया था। दूसरी बार उन्हें तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने गैलेंट्री अवॉर्ड से सम्मानित किया था।


police man dance in police station at lucknow
police man dance in police station at lucknow
police man dance in police station at lucknow
police man dance in police station at lucknow
X
देश के टॉप 10 थानों में गुडंबा थाने का तीसरा स्थान है।देश के टॉप 10 थानों में गुडंबा थाने का तीसरा स्थान है।
police man dance in police station at lucknow
police man dance in police station at lucknow
police man dance in police station at lucknow
police man dance in police station at lucknow
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..