Home | Uttar Pradesh | Lucknow | News | police revealing murder of woman in lucknow

बिजनेस करने के लिए चाहिए थे पैसे, इसलिए उठा लिया ये कदम

लखनऊ के नाका थाना क्षेत्र में 20 जनवरी को हुई महिला की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया।

DainikBhaskar.com| Last Modified - Feb 06, 2018, 11:08 AM IST

1 of
police revealing murder of woman in lucknow
हार्डवेयर कारोबारी की पत्नी के मर्डर का पुलिस ने किया खुलासा।

लखनऊ. राजधानी के नाका थाना क्षेत्र में बीते 20 जनवरी को व्यापारी की पत्नी हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया। सीसीटीवी की मदद से पकड़ा गया आरोपी सिपाही का बेटा है। एसपी पश्चिमी विकास चंद्र त्रिपाठी ने बताया कि, हत्यारोपी लक्ष्मीकांत गोस्वामी बीते 4 वर्ष से दूकान पर काम कर रहा था। इसके पिता गोसाईगंज जेल में बंदीरक्षक है। आरोपी को बिजनेस करने के लिए पैसे चाहिए थे इसलिए महिला की हत्या की थी। बिजनेस करने के लिए कर रहा था चोरी...


 

- पुलिस की पूछताछ में हत्यारोपी लक्ष्मीकांत ने बताया कि, 20 जनवरी को घर पर कोई नहीं था। मैंने सोचा कि, आज लॉकर से रुपए चोरी करने का अच्छा मौका है। जिसके बाद मैं लॉकर खोल ही रहा था कि तभी बिना मां आ गई और मुझे चोरी करता देख गुस्सा करने लगी।
- फिर मेरे साथ हाथापाई होने लगी। बीना मां सबको बता ना दे इस डर से मैंने उनको चाकू मार दिया। उनकी मौत के बाद मैं डर गया लेकिन मैंने किसी को कुछ नहीं बताया।

 

 

 

सीसीटीवी की मदद से पकड़ा गया आरोपी
- एसपी पश्चिमी विकास चंद्र त्रिपाठी का कहना है कि, आरोपी को पूरे घर की जानकारी थी। वह बीते 4 साल से नौकर है, घटना के दिन दुकान और घर में आने वाले लोगों के बारे में जानकारी कर रहा था।
- 20 जनवरी को जब हत्या की जानकारी पुलिस को हुई तब वह हर मूवमेंट पर नजर बनाए हुए था। पकड़े जाने के बाद आरोपी लक्ष्मीकांत गोस्वामी ने बताया वह बहुत दिनों से अपना बिजनेस करने की सोच रहा था।
- इसके लिए रुपए की जरूरत थी और घर वाले भी मदद नहीं कर रहे थे। घर वाले आए दिन ताने देते थे और दोस्त भी नौकर कहकर चिढ़ाते थे। मैं नौकर रहकर मालिक बनाना चाह रहा था।

 

 

ये था पूरा मामला
- हार्डवेयर कारोबारी राजीव मेहरोत्रा का घर बलरामपुर स्ट्रीट पर है। इंस्पेक्टर नाका परशुराम सिंह के मुताबिक, राजीव ने केस दर्ज कराते हुए बताया कि था उनके दो बच्चे हैं। बेटा शांतनु नोएडा में पढ़ता है जबकि बेटी सृष्टि केंद्रीय विष अनुसंधान संस्थान से शोध कर रही है।
- 20 जनवरी की सुबह ही बेटी घर से चली गई थी, जबकि वह खुद 11 बजे के करीब घर से आर्यनगर स्थित शोरूम जाने के लिए निकले थे।
- साप्ताहिक अवकाश होने के कारण पत्नी बीना घर पर ही थी। इस बीच आलमबाग में रहने वाले बीना के भाई गोपाल आहूजा और बहन प्रभा वैष्णों देवी का प्रसाद लेकर घर आए थे।
- कई बार डोर बेल बजाने पर भी जब दरवाजा नहीं खुला तो बीना के मोबाइल पर कॉल किया लेकिन फोन रिसीव नहीं हुआ था। तब अनहोनी की आशंका में गोपाल ने जीजा राजीव को सूचना दी थी।
- इसके बाद राजीव घर आए और पड़ोसी जीत कुमार की छत से घर के अंदर घुसे। अंदर घुसते ही देखा की दरवाजा खुला पड़ा था औक किचन में बीना का खून से लथपथ शव पड़ा था। 

police revealing murder of woman in lucknow
सीसीटीवी की मदद से पुलिस ने किया आरोपी को गिरफ्तार।
police revealing murder of woman in lucknow
नौकर ने की थी बीना मेहरोत्रा की हत्या, करना चाहता था अपना बिजनेस।
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now