--Advertisement--

सुल्तानपुर: हिस्ट्रीशीटर के डर से 2 दिन तक नहीं खुला स्कूल, अब बच्चों को पढ़ा रहे हैं शिक्षामित्र

टीचर के स्कूल नहीं आने की वजह से बच्चों की पढ़ाई नहीं हो रही है। इस मामले में शिक्षक संघ ने गिरफ्तारी की मांग की है।

Dainik Bhaskar

Dec 20, 2017, 01:25 PM IST
गांव के युवक अरविंद कुमार दूबे ने उनसे रंगदारी मांगी। विरोध करने पर प्रिंसिपल अशर्फीलाल को बच्चों के सामने पीटा गया फिर तमंचा निकालकर जान से मारने की धमकी दी। गांव के युवक अरविंद कुमार दूबे ने उनसे रंगदारी मांगी। विरोध करने पर प्रिंसिपल अशर्फीलाल को बच्चों के सामने पीटा गया फिर तमंचा निकालकर जान से मारने की धमकी दी।

सुल्तानपुर. जिले के चेती दूबे गांव में बना प्राइमरी स्कूल हिस्ट्रीशीटर के डर की वजह से दो दिन तक बंद रहा। टीचर के स्कूल नहीं आने की वजह से दो दिनों तक बच्चों की पढ़ाई नहीं हुई। इस मामले में शिक्षक संघ ने हिस्ट्रीशीटर के गिरफ्तारी की मांग की है। ये है मामला....

- मामला 14 दिसंबर का है। गांव के युवक अरविंद कुमार दूबे ने उनसे रंगदारी मांगी। विरोध करने पर प्रिंसिपल अशर्फीलाल को बच्चों के सामने पीटा गया फिर तमंचा निकालकर जान से मारने की धमकी दी। जब प्रिंसिपल के बचाव में साथी टीचर वरुण सिंह आए , तब उन्हें भी डराया धमकाया गया।


पुलिस ने दर्ज की FIR
इस घटना के बाद प्रिंसिपल ने बल्दीराय थाने में केस दर्ज कराया है। डर की वजह से अशर्फीलाल और वरुण सिंह ने दो दिन से स्कूल आना बंद कर दिया है। इस वजह से बच्चों की पढ़ाई रुक गई है। एसओ एसपी सिंह ने कहा, " इस मामले में केस दर्ज किया गया है। पुलिस संदेह के आधार पर दबिश दे रही है।जिस युवक पर आरोप लगा है, वो पुलिस के रिकॉर्ड में हिस्ट्रीशीटर है।"

बच्चों को पढ़ा रहे हैं शिक्षामित्र

-एबीएसए रमन सिंह के आदेश पर आज से शिक्षामित्रों ने स्कूल में पढ़ाना शुरु कर दिया है। स्कूल में तैनात शिक्षक अशर्फीलाल को जूनियर विद्यालय जूड़ा पट्टी और वरुण सिंह को विसावा के प्राइमरी स्कूल भेज दिया गया है।

हिस्ट्रीशीटर की वजह से गांव के स्कूल के दो टीचर स्कूल नहीं जा रहे हैं। हिस्ट्रीशीटर की वजह से गांव के स्कूल के दो टीचर स्कूल नहीं जा रहे हैं।
X
गांव के युवक अरविंद कुमार दूबे ने उनसे रंगदारी मांगी। विरोध करने पर प्रिंसिपल अशर्फीलाल को बच्चों के सामने पीटा गया फिर तमंचा निकालकर जान से मारने की धमकी दी।गांव के युवक अरविंद कुमार दूबे ने उनसे रंगदारी मांगी। विरोध करने पर प्रिंसिपल अशर्फीलाल को बच्चों के सामने पीटा गया फिर तमंचा निकालकर जान से मारने की धमकी दी।
हिस्ट्रीशीटर की वजह से गांव के स्कूल के दो टीचर स्कूल नहीं जा रहे हैं।हिस्ट्रीशीटर की वजह से गांव के स्कूल के दो टीचर स्कूल नहीं जा रहे हैं।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..