--Advertisement--

विरोध-हिंसा के साये में आज रिलीज हो रही है पद्मावत, मेरठ में दिखाया गया पहला शो; नहीं पहुंचे लोग

आज देशभर में रिलीज हो रही है पद्मावत फिल्म।

Danik Bhaskar | Jan 25, 2018, 08:38 AM IST
बेव सिनेमा ने थियेटर के बाहर पोस्चर लगाया है। बेव सिनेमा ने थियेटर के बाहर पोस्चर लगाया है।

लखनऊ. संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावत' का यूपी समेत देशभर में विरोध हो रहा है। यूपी में राजपूत संगठन,करणी सेना और कुछ हिंदू संगठन के लोग इसका विरोध कर रहे हैं। फिल्म पूरे देश में आज रिलीज हो गई है। इससे पहले करणी सेना के प्रमुख लोकेंद्र सिंह कालवी ने कहा- "फिल्म को हम देश में रिलीज नहीं होने देंगे।" राजधानी लखनऊ में कई सिनेमा हाल में लोग नहीं पहुंच रहे हैं। लोगों में भय है। वहीं, नवेल्टी सिनेमा हाल में युवा क्षत्रिय समाज के कार्यकर्ताओं ने पूर्व एमएलसी प्रदीप सिंह के नेतृत्व में गांधीगिरी का रास्ता अपनाते हुए फिल्म का विरोध किया है। वहीं, बुधवार को कानपुर के एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या ने कहा- ''किसी को भी कानून हाथ में लेने की छूट नहीं दी जाएगी।"

लखनऊ में बांटे गए फूल

-लखनऊ में फिल्म के विरोध में करणी सेना के कार्यकर्ता ने विरोध के लिए गांधीगिरी का तरीका अपनाते हुए प्रदर्शन कर रहे लोगों ने सिनेमा हाल के बार फूल बांटे हैं।

- बुधवार को लखनऊ में फिल्म 'पद्मावत' का विरोध कर रहे करणी सेना के वर्कर ने गोमतीनगर के आईनॉक्स मॉल में तोड़फोड़ की कोशिश की। उसके बाद से कई कार्यकर्ता हिरासत में लिए गए। पुलिस इन सभी कार्यकर्ताओं को गोमतीनगर थाने ले गई। उसके बाद करणी सेना के कार्यकर्ता गोमती नगर थाने का घेराव किया। उसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर विरोध कर रहे कार्यकर्ताओं को घसीट-घसीट कर पीटा।

-वेब सिनेमा के बाहर पहुंचे में करणी सेना ने जमकर हंगामा काटा। हालांकि मौके पर पहुंची पुलिस ने सिनेमा घर की सुरक्षा के लिए मेन गेट बंद कर दिया। इस दौरान करणी सेना ने कार्यकर्ताओं और पुलिसकर्मियों के साथ झड़प हो गई।
-वहीं, करणी सेना कार्यकर्ता और पुलिस के बीच हुई झड़प में एक कार्यकर्ता ने पेट्रोल डालकर आत्मदाह करने का प्रयास किया। हालांकि पुलिस ने कार्यकर्ता को हिरासत में ले लिया है।

#वाराणसी

फिल्म पद्मावत के रिलीज होते ही आईपी मॉल के बाहर अंतराष्ट्रीय क्षत्रिय वीरांगना फाउंडेशन की महिला कार्यकर्ता प्रोटेस्ट करते हुए सड़कों पर लेट गईं। महिला कार्यकर्ताओं ने भंसाली मुर्दाबाद के नारे लगाए। इन्हीं लोगों के बीच से धर्मेंद्र नामक युवक ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल आत्मदाह के लिए डाल दिया और चिल्लाता रहा। माचीस लाओ।

-सीओ चेतगंज सतेंद्र तिवारी ने बताया धर्मेंद्र नाम का युवक दो महिलाओं के साथ आया और पानी के बोतल में लिए मिट्टी के तेल को अपने ऊपर डाल लिया। तुरंत हमारी फ़ोर्स ने उसे कस्टडी में ले लिया है। उसके ऊपर मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। महिलाओं को भी थाने भेजा गया गया है।

-वाराणसी के 5 सिनेमाघरों में रिलीज हुई है। फिल्म पर बढ़े विवाद को देखते हुए डीएम के आदेश के बाद सुरक्षा बढ़ाई गई है। सभी 5 सिनेमाघरों में पुलिस बल के साथ पीएसी की गई है तैनात है।


#कानपुर

-सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम होने के बाद भी पीवीआर मालिकों व टाकीजों ने फिल्म दिखाने से इंकार कर दिया। फिल्म देखने आये दर्शकों को भारी निराशा हुई और वह मायूस हो कर घर को लौट गए। कानपुर में साउथ एक्स माल पीवीआर ने सुरक्षा के देखते हुए मूवी दिखाने से इंकार कर दिया। जबकि सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे।
-पीवीआर में पद्मावत की लगभग 800 टिकटें ऑनलाइन बुक हुईं थी। वहीं, विंडो से लगभग 500 टिकटों की बिक्री हुई थी। गुरुवार को जब लोग फिल्म देखने पहुंचे तो उन्हें पता चला की फिल्म आज नहीं दिखाई जाएगी। जिन्होंने ने कैश काउंटर से टिकट खरीदी हैं वह कैश काउंटर से टिकट वापस कर अपने रुपये ले सकते हैं। इसके साथ ही जिन्होंने ऑनलाइन बुकिंग कराई थी उनका पेमेंट ऑनलाइन ही वापस किया जायेगा। पीवीआर मैनेजर हिमांशु प्रधान के मुताबिक में अभी आउट ऑफ़ सिटी हूं। फिल्म कब दिखाई जाएगी इसका फैसला मीटिंग करने के बाद ही लिया जायेगा।

#चंदौली

-क्षत्रिय संघ ने फ़िल्म पद्मावत के विरोध में मुग़लसराय में संजय लीला भंसाली का पुतला फूंका जबकि जिले के एक मात्र मल्टीप्लेक्स सुबह से ही फिल्म का प्रदर्शन किया जा रहा है।

#आगरा

-फिल्म पद्मावत को लेकर बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन शुरू कर दिया है। भगवान टॉकीज हाईवे स्थित एसआरके मॉल पर गोरिल्ला तरीके से सिनेमा हॉल का घेराव किया है। पुलिस और कार्यकर्ताओं के खिलाफ झड़प के बाद नारेबाजी हो रही है। कार्यकर्ताओं ने कहा कि हम आस्था से खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं करेंगे।


मेरठ में चला पहला शो

-भारी विरोध के बाद मुज़फ्फरनगर में पद्मावत का एक शो चलाया गया है। जिले के चंद्र सिनेमा हॉल में कड़ी सुरक्षा के बीच पद्मावत का 6 से 9 का पहला शो चलाया गया है। लेकिन विवाद के चलते पद्मावत के पहले शो में भीड़ देखने को नहीं मिली। भय के चलते कुछ लोग ही इस फिल्म को देखने के लिए पहुंचे। चंदा सिनेमा मैनेजर आशिफ़ ने बताया की पद्मावत फ़िल्म चल रही है। 6 से 9 का शो है और इस शो में 42 दर्शक आये हैं। वहीं, पुलिस अधिकारियों का कहना है कि पर्याप्त सुरक्षा दी जाएगी।

#मथुरा

- बुधवार को मथुरा जिले में भी फिल्म पद्मावत का विरोध देखने को मिला। यहां राजपूत संगठनों ने खुलेआम हथियार लहराते हुए आगजनी की और ट्रेन रोक दी। कार्यकर्ताओं ने दिल्ली-मुंबई ट्रैक को बाधित किया है। कार्यकर्ताओं ने भूतेस्वर स्टेशन के पास ट्रेन रोक दी है। वहीं, कार्यकर्ताओं ने फिल्म न दिखाने की चेतावनी दी है।

#इलाहाबाद

-फिल्म का विरोध लगातार जारी है। मंगलवार देर रात हिन्दू संगठन के लोगों ने कीडगंज इलाके के पायल सिनेमा हाल को निशाना बनाया और जमकर तोड़फोड़ की। पत्थरबाजी की घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई।

# फिरोजाबाद

-यहां बुधवार को करणी सेना और हिंदू वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने 'पद्मावत' फिल्म के डायरेक्टर संजय लीला भंसाली की अर्थी निकाली। गांधी पार्क चौराहे पर जाकर फिल्म डायरेक्टर संजय लीला भंसाली का पुतला दहन किया। साथ ही जूते से शव यात्रा पर भंसाली का फोटो रख पीटा। फिल्म 'पद्मावत' और भंसाली के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाए। कार्यकर्ताओं का कहना है, ''हम इस फिल्म को यहां चलने नहीं देंगे। हिन्दू संगठन इसका पूरी तरह से विरोध करते हैं।''

लॉ एंड ऑर्डर बनाए रखने के लिए मिले निर्देश

- फिल्म पद्मावत के रिलीज होने के बाद लॉ एंड ऑर्डर बनाए रखने के लिए सर्तकता बरतने के निर्देश दिए है। जिले के सभी सिनेमाहॉल, मॉल, मल्टीप्लेक्स की सुरक्षा को लेकर उनके मैनेजरों, मालिकों के साथ बैठक की जाए।
-संभावित घटनाओं को लेकर लेकर पुलिस अफसर इलाके का दौरा करते रहे। किसी तरह बवाल की स्थिति ना बने, इसके लिए कोशिश करें।
-एलआईयू के अफसर और कर्मचारी शरारती तत्वों पर कड़ी नजर रखें।
-धरना/प्रदर्शन, ज्ञापन, रोड जाम, तोड़फोड़, आगजनी जैसी घटनाओं को लेकर सतर्कता बरती जाए।
-जिन संगठनों के फिल्म के प्रदर्शन का विरोध किया जाना संभावित है। उनसे पूर्व में संवाद स्थापित कर लिया जाए, ताकि शांतिपूर्ण स्थिति बनी रहे।

फिल्म को लेकर विवाद क्या है?

- राजस्थान में करणी सेना, बीजेपी लीडर्स और हिंदूवादी संगठनों ने इतिहास से छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। राजपूत करणी सेना का मानना है कि ​इस फिल्म में पद्मिनी और खिलजी के बीच सीन फिल्माए जाने से उनकी भावनाओं को ठेस पहुंची। फिल्म में रानी पद्मावती को भी घूमर डांस करते दिखाया गया है। जबकि राजपूत राजघरानों में रानियां घूमर नहीं करती थीं।

- हालांकि, भंसाली साफ कर चुके हैं कि ये ड्रीम सीक्वेंस फिल्म में है ही नहीं।

लखनऊ में करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने कहा कि जिन लोगों ने टिकट के लिए पैसे खर्च किए हैं, उन्हें वे हर्जाना देंगे। लखनऊ में करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने कहा कि जिन लोगों ने टिकट के लिए पैसे खर्च किए हैं, उन्हें वे हर्जाना देंगे।
फाइल । फाइल ।
लखनऊ में करणी सेना फिल्म का विरोध कर रही है। लखनऊ में करणी सेना फिल्म का विरोध कर रही है।
मथुरा में  कार्यकर्ताओं ने फिल्म के विरोध में ट्रेन रोक दी। मथुरा में कार्यकर्ताओं ने फिल्म के विरोध में ट्रेन रोक दी।