--Advertisement--

पहले से थी प्लानिंग,साजिश के तहत निकाले गए रेल ट्रैक से क्लिप : NER डीआरएम

इस मामले की जांच यूपी ATS कर रही है। रविवार को रेल ट्रैक से क्लिप निकाले गए थे।

Danik Bhaskar | Dec 04, 2017, 04:13 PM IST

लखनऊ.डॉलीगंज से बादशाहनगर के बीच रेल ट्रैक से क्लिप गायब होने के मामले में NER की डीआरएम विजय लक्ष्मी ने कहा, "ये एक सोची समझी वारदात है। अपराधी लंबे वक्त से इसकी प्लानिंग कर रहे थे। ये घटना एक बड़ी घटना है। हमारा एक ही मकसद है कि जल्द से जल्द इस घटना का खुलासा हो।" पहली नजर में दिखती है साजिश....


- NER डीआरएम विजय लक्ष्मी ने कहा, "पहली नजर में ये घटना साजिश नजर आ रही है। हम सभी चीजों को जोड़कर देख रहे हैं। स्लीपर की फिटिंग निकाल ली जाती है। निश्चित तौर पर एक्सीडेंट हो सकता था। हमने पूरी जिम्मेदारी के साथ काम किया। ये सभी जांच का मामला है। कौन इनवॉल्व होगा, ये सब देखना है। मैंने पहली बार ऐसा देखा, इतनी संख्या में क्लिप्स निकाले गए।"

रविवार को निकाली गई थी क्लिप

- रविवार को राजधानी में डॉलीगंज से बादशाहनगर के बीच बने रेल ट्रैक से क्लिप्स निकाली गई थी। रेल कर्मचारियों को जानकारी रविवार सुबह 4 बजकर 10 मिनट पर हुई।

यूपी ATS ने शुरु की जांच
- रेल ट्रैक से क्लिप खोलने के मामले की जांच यूपीएटीएस की टीम करेगी। एटीएस के आईजी असीम अरुण ने कहा, "ये एक बड़ी साजिश हो सकती है। जांच शुरु कर दी गई। शहर के बीच का मामला है। आस-पास के सीसीटीवी के आधार पर छानबीन की जा रही है। सच्चाई जल्द सामने आ जाएगी।