Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Robbery In Kakori News And Update In Lucknow

आपबीती: साब, एक गोली चलाता दूसरा बोलता- कहां रखा है रुपया, ऐसी थी रात

वारदात के बाद मौके पर 3 दर्जन से अधि‍क खोखे मिले है।

आदित्य तिवारी | Last Modified - Jan 21, 2018, 09:58 PM IST

  • आपबीती: साब, एक गोली चलाता दूसरा बोलता- कहां रखा है रुपया, ऐसी थी रात
    +3और स्लाइड देखें
    काकोरी में डकैतों ने 2 गांवों में लूटपाट की है।

    लखनऊ. 'साहब, वो 15 से ज्यादा की संख्या में थे, उन्होंने बूट वाले जूते पहन रखे थे। उनके एक हाथ में बन्दूक और एक हाथ में थैला था। सबका मुहं ढका हुआ था। एक गोली चलाता तो दूसरा पूछता, कहां रखा है सोना चांदी और नगद रुपए। वो लंबे कद के थे उनकी बोली भारी थी। सर, जब मैंने 100 नंबर पर फोन किया तो वो उठा ही नहीं।' यह बातें काकोरी के 2 गांव के 5 घरों में पड़ी डकैती के पीड़ितो ने पुलिस के अफसरों को बताई।

    फौजी की टॉपी लगा रखा था...

    - बनियाखेड़ा में रहने वाले पूर्व प्रधान ने कहा, ''रात के 1:30 बजे होंगे पूरा परिवार सो रहे था। दरवाजा से धड़ाम की आवाज के साथ 3 लंबे कद के बदमाश मेरी चारपाई के सामने खड़े थे।''
    - ''मेरे बेटे को एक नए बंदूक के बट से सर पर वार किया और मुझ पीटने लगे। बगल के घर से भी आवाज आई, 10 मिनट के अंदर करीब 7 राउंड गोली की आवाज सुनाई पड़ी।''
    - ''मेरे बगल वाले कमरे में बदमाशों ने फायर करते हुए पूछा- कौन है इसमें, कहां रखा है सामान। साहब, मेरे घर के 2 लोग गम्भीर घायल है, उनके सर पर जो टोपी थी वह फौज जैसी थी।''
    - ''करीब 45 मिनट तक एक दर्जन से ज्यादा बदमाशो ने लूटपाट किया और फायरिंग करते हुए चले गए।''

  • आपबीती: साब, एक गोली चलाता दूसरा बोलता- कहां रखा है रुपया, ऐसी थी रात
    +3और स्लाइड देखें
    लोगों ने बताया कि बदमाश फौजी की टोपी लगाए थे।

    पुलिस देखती बदमाश डकैती डालती रही

    - कटौली गांव में पहुंचे बदमाशो का आलम यह था कि, उन्होंने 150 घर वाले इलाके में प्रधान के बेटे की गोली मार कर हत्या कर दी। कटौली में जब बदमाश डकैती डाल रहे थे तब तक पुलिस बनिया खेड़ा गांव पहुंच चुकी थी।
    - डकैत के फायरिंग करते हुए देख पुलिस भी अपने कदम आगे नहीं बढ़ा पाई। पीड़ित ने बताया, ''पुलिस कभी रात में गश्त करते हुए दिखती नहीं देती है। सूचना देने पर भी डेढ़ 2 घंटे बाद पहुंचती है।''
    - ''गांव के बाहर 4 थानों की पुलिस खड़ी थी, लेकिन वो गांव में आने की हिम्मत नहीं जुटा पाएं।''

  • आपबीती: साब, एक गोली चलाता दूसरा बोलता- कहां रखा है रुपया, ऐसी थी रात
    +3और स्लाइड देखें
    बंदूक की नोक पर की गई डकैती।

    2 घंटे दहशत में रहा 250 परिवार

    - 19 जनवरी शनिवार रात की रात चिनहट इलाके में 2 घरों में डकैती की वारदात के बाद शनिवार की रात 5 घरों में डकैती वारदात हुई। शनिवार रात 1:30 बजे से लेकर सुबह 4:30 बजे तक राजधानी के काकोरी इलाके में डकैतों का आतंक देखने को मिला।
    - एसएसपी की 8 हजार 500 पुलिसकर्मियों की लंबी फौज के बीच 48 घंटे में राजधानी के दूसरे इलाके में डकैतों का उत्पात देखने को मिला। बेखौफ बदमाशों ने इस बार पुलिस के इकबाल को खुली चुनौती देते हुए 2 घंटे तक 2 गांव के करीब 250 मकान के हजारों लोग दहशत में रहे।
    - बनियाखेड़ा में पूर्व प्रधान समेत तीन घरो में 45 मिनट तक बदमाशों ने बंदूक की नोक और गोलियों की गूंज के बीच लूटपाट की वारदात को अंजाम दिया और कटौली गांव में गोली मारकर प्रधान के बेटे की हत्या कर लूटपाट कर फरार हो गए।
    - काकोरी के गांव के लोगों ने हिम्मत करके पथराव करना शुरू कर दिया। बदमाशों ने इसका जवाब 8-10 राउंड फायरिंग करके दी। घर से लगभग 300 मीटर की दूरी पर आलमारी को तोड़कर उसमें रखे 8 हजार रुपए, झुमकी, पायल और हार ले कर भाग गए।
    - पुलिस को मौके से करीब 3 दर्जन से ज्यादा कारतूस के खोखे मिले है।

  • आपबीती: साब, एक गोली चलाता दूसरा बोलता- कहां रखा है रुपया, ऐसी थी रात
    +3और स्लाइड देखें
    इस दिनदहाड़े डकैती से लोगों की हालत खराब हो रही है।

    डकैतों के निशाने पर रहा ये वीवीआईपी इलाका

    -8 मई 2017 को विवेकखंड एक में प्रापर्टी डीलर चमन लाल दिवाकर व परिवार को बंधक बना करीब 20 लाख रुपये की डकैती की वारदात को अंजाम दिया गया था। वहीं इसके कुछ दिन बाद उसी अंदाज में गोमतीनगर के विरामखंड- 5 के एक घर में परिवार बंधक बना वारदात को अंजाम दिया।
    - वहीं गत सोमवार को डकैतों ने पीजीआई के साउथ सिटी में दंपत्ति को बंधक बना लाखों की डकैती को अंजाम दिया। फिलहाल पुलिस अभी तक डकैतों तक नहीं पहुंच सकी है।
    - 13 जुलाई 2017 को गोमतीनगर के विवेक खंड 1/128 में गिरीश पाण्डेय (80) के घर में बदमाशों ने बुधवार रात 3 बजे धावा बोला। गिरीश के 2 बेटे और एक बेटी है। बेटी कल्पना की शादी दिल्ली में हुई है और वो बुधवार को ही मायके आई थी। बेटा सुशांत एक प्राइवेट कंपनी में काम करता है।
    - विवेक खंड में बेखौफ बदमाशों ने एक परिवार के 11 लोगों को बंधक बनाकर लूट-पाट की।
    - बता दें, 11 जुलाई 2017 इससे पहले साउथ सिटी सी ब्लाक निवासी साउथ सिटी में एचएएल में सुपरवाइजर देवेंद्र सिंह नेगी के घर सोमवार रात सात-आठ बदमाशों ने धावा बोला था।
    - बदमाशों ने देवेंद्र व डीआरएम ऑफिस में लेखा सहायक उनकी पत्नी साधना को बंधक बनाकर बर्बरता से पीटा था और 50 हजार रुपए व गहने लूट लिए थे।
    -19 जनवरी 2018 की रात चिनहट के दीनानाथ के घर डाका डालकर उनकी दो बेटियों को उठा ले गए थे। भाग रहे बदमाशो ने दूसरे गांव में डकैती डालने का प्रयास किया लेकिन सफल नहीं हुए थे।

आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Lucknow News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Robbery In Kakori News And Update In Lucknow
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×