--Advertisement--

तड़पती बच्ची को छोड़ SDM के पैरों में गिरी ये मां, फिर हुआ कुछ एेसा

बच्ची को कुछ दिन पहले नगरपालिका के डंपर ने कुचल दिया था

Danik Bhaskar | Jan 20, 2018, 05:59 PM IST
बच्ची के इलाज के लिए महिला एसडीएम के पैरों में गिर गई। बच्ची के इलाज के लिए महिला एसडीएम के पैरों में गिर गई।

शाहजहांपुर. यूपी के शाहजहांपुर में शनिवार को एक मां रो-रोकर अधिकारी के पैरों में गिर गई। दरअसल, उसकी बच्ची को कुछ दिन पहले नगरपालिका के डंपर ने कुचल दिया था। गरीबी के चलते बच्ची का इलाज नहीं हो पा रहा था और दर्द से तड़प रही थी। वहीं, परिजन बच्ची को ने इलाज की गुहार लगाने डीएम ऑफिस पहुंचे थे, जहां अधिकारी को देखकर मां पैरों मे गिर गई और इलाज की गुहार लगाई। अधिकारी ने दिया मदद का आश्वासन...


- मामला यहां के कोतवाली थाना क्षेत्र का है। घायल बच्ची के भाई राजीव ने बताया कि 10 दिन पहले नगरपालिका विभाग का डंपर कूड़ा उठाने मोहल्ले में गया था।
- इस दौरान उसकी बहन संध्या (6) घर के बाहर खेल रही थी। तभी डंपर चला रहा ड्राइवर अमित कुमार फोन पर बात करते हुए मेरी बहन पर गाड़ी चढ़ा दी। घटना में उसके दोनों पैर फट गए थे।
- वहीं, ड्राइवर अमित और नगरपालिका चैयरमेन बच्ची के इलाज की पूरी जिम्मेदारी ली। साथ ही, एफआईआर नहीं कराने को कहा था।

- इस दौरान उन्होंने इलाज के लिए सिर्फ 10 हजार रुपए दिए थे। लेकिन वह पैसे भी जिला अस्पताल में ही खर्च हो गए और डॉक्टरों ने बच्ची को लखनऊ रेफर कर दिया।

- पैसे न होने के कारण वहां के डाक्टरों ने इलाज करने से मना कर दिया। जिसके बाद बच्ची को लेकर हम लोग घर चले आए और उसे रोज दर्द से तड़पता देखना पड़ता है।

एसडीएम के पैरों में गिरी मां
- शनिवार को पीड़ित बच्ची की मां और भाई उसे लेकर जिला कलेक्ट्रेट पहुंचे थे। वह डीएम से उसके इलाज की गुहार लगा रहे थे की तभी एसडीएम सदर राम जी मिश्रा वहां पहुंचे।
- इस दौरान बच्ची की मां एसडीएम के पैरो में गिरकर रोने लगी और बच्ची के इलाज की गुहार लगाने लगी। जिसके बाद एसडीएम राम जी मिश्रा ने अपनी गाड़ी से बच्ची को जिला अस्पताल भेज और सीएमओ को बच्ची का ठीक से इलाज करने के निर्देश भी दिए।

क्या कहते हैं अधिकारी
- एसडीएम सदर राम जी मिश्रा का कहना है, "मामला अभी उनके संज्ञान में आया है, बच्ची गरीब परिवार से है। सीएमओ को बच्ची के अच्छे इलाज के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही, नगरपालिका ईओ से ड्राईवर के उपर कड़ी कार्यवाई के आदेश दिए गए है। ड्राइवर पर एफआईआर हो चुकी है।"

पीड़ित बच्ची की मां और भाई उसे लेकर जिला कलेक्ट्रेट पहुंचे थे। पीड़ित बच्ची की मां और भाई उसे लेकर जिला कलेक्ट्रेट पहुंचे थे।
10 दिन पहले नगरपालिका के डंपर ने बच्ची को कुचल दिया था। 10 दिन पहले नगरपालिका के डंपर ने बच्ची को कुचल दिया था।
घटना में बच्ची के  दोनों पैर फट गए थे। घटना में बच्ची के दोनों पैर फट गए थे।
एसडीएम ने दिया इलाज का आश्वासन। एसडीएम ने दिया इलाज का आश्वासन।