--Advertisement--

कभी इस लड़की को जहर देने के लिए पिता ने जोड़े थे हाथ, अब ऐसे जीती है लाइफ

लखनऊ. सलमान खान की कथ‍ित गर्लफ्रेंड यूल‍िया वंतूर 28 जनवरी को लखनऊ स्थ‍ित श‍िरोज हैंगआउट आईं थीं।

Dainik Bhaskar

Jan 29, 2018, 10:30 PM IST
भोजपुरी फिल्मों में काम कर चुक भोजपुरी फिल्मों में काम कर चुक

लखनऊ. सलमान खान की कथ‍ित गर्लफ्रेंड यूल‍िया वंतूर 28 जनवरी को लखनऊ स्थ‍ित श‍िरोज हैंगआउट आईं थीं। जहां उन्होंने सभी एसिड सर्वाइवर्स से मुलाकात की। इन्हीं में एक सर्वाइवर रुपाली भी शामिल थी। DainikBhaskar.com आपको भोजपुरी फिल्मों में काम कर चुकी रुपाली के श‍िरोज पहुंचने तक के सफर के बारे में बताने जा रहा है।

सोते समय कमरे में घुसा था आरोपी और...

- 23 साल की रूपाली कहती हैं, ''2013 में मैंने एक सिंगिंग कॉम्पटीशन में पार्टिसिपेट किया था। उसी दौरान मेरी मुलाकात अजय पुजारी से हुई। अजय फिल्म और एल्बम प्रोड्यूस करता था।''

- ''3-4 मुलाकात के बाद से वह मुझे पसंद करने लगा, लेकिन मैं उसे बिलकुल भी पसंद नहीं करती थी, क्योंकि मैं किसी और से प्यार करती थी। अजय ने मुझे शादी करने के लिए भी प्रपोज किया, लेकिन मैंने मना कर दिया।''

- ''एक दिन वह धमकी देते हुए बोला, तुम्हे अपने चेहरे पर बहुत घमंड है। तुम्हारा ऐसा हाल करूंगा कि अपना चेहरा किसी को दिखाने लायक नहीं बचोगी। तब मैंने उसकी बातों पर ध्यान नहीं दिया।''

- ''28 जुलाई 2015 को मैं एक फिल्म की शूटिंग से लौटकर अपने रूम में सो रही थी। मेरे खाने में पहले से ही नींद की दवा मिला दी गई थी। अजय रात 2 बजे मेरे कमरे में आया और मेरे ऊपर एसिड से हमला कर भाग गया।''

- ''एसिड हमले के बाद मुझे तेज जलन हो रही थी। मैं फर्श पर बैठ जोर से चीख रही थी। उस टाइम मेरे दोस्तों ने कहा, मैं रोने का नाटक कर रही हूं या किसी भूत-प्रेत ने मुझे पकड़ लिया है। सभी ने मेरा मजाक उड़ाया। कोई मेरे पास नहीं आ रहा था।''

- ''काफी देर बाद भी जब रोना बंद नहीं हुआ। मेरे चेहरा खराब होने लगा। तब आनन-फानन में दोस्तों ने मेरे ऊपर 2 बाल्टी पानी डाल दिया, लेकिन तब तक मेरी बॉडी झुलस चुकी थी।''

- ''मेरा चेहरा देख उन्हें बाद में पता चला कि मेरे ऊपर एसिड से हमला हुआ है। मैंने दोस्तों को बताया कि मेरे खाने में नींद की दवा मिला दी गई थी, मैं हल्के नशे में थी। लेकिन मैंने अजय को रूम की लाइट ऑफ करते देखा था।''

- ''मेरी कंडीशन तब ऐसी नहीं थी कि मैं बेड से उठकर कुछ कर पाऊं। दोस्त भी अजय को दोषी मानने को तैयार नहीं थे।''

जब डॉक्टर से इसके पिता ने कहा था, इसे जहर देकर मार दो

- ''मैं हॉस्पिटल में जिन्दगी और मौत से लड़ रही थी, तब मेरे शराबी पिता ने डॉक्टर के आगे गिडगिड़ाते हुए कहा था, इसे जहर देकर खत्म कर दीजिए। घर लेकर गया तो बड़ी बदनामी होगी।''

- ''तब मेरे पिता को डॉक्टर ने फटकार लगाते हुए कहा था, अगर तुम्हारी जगह ये मेरी बेटी होती तो मैं इसे छोड़ने की जगह इसका साथ देता। इसके अपराधी को सजा दिलाता।''

- ''पिता को डॉक्टर की बात बहुत बुरी लगी। उसके बाद से वे मुझे हॉस्पिटल में कभी देखने नहीं आए। एक साल तक इलाज के बाद जब मैं घर जाने लगी, तो पिता ने घर आने से मना कर दिया। उसके बाद से मैं कभी घर नहीं गई और लखनऊ स्थ‍ित श‍िरोज हैंगआउट चली आई।''

- ''एक साल बाद एक्स सीएम अखिलेश यादव ने 5 लाख रुपए की मदद की। ये बात जब पिता को पता चली तो मम्मी को पीटने लगे। उन्हें लगता था मां को पिटता देख मैं डर जाउंगी और उन्हें पैसे दे दूंगी, लेकिन मैंने ऐसा नहीं किया।''

- ''ठीक होने के बाद मैंने अजय के ख‍िलाफ केस किया। जेल के अंदर से वो मुझे फोन कर केस वापस लेने की धमकी देता था। कोर्ट में जज के सामने बताया गया कि मेरे ऊपर एसिड से कोई हमला नहीं हुआ। मैं लालटेन से जल गई थी।''

- ''आख‍िरकार एक साल बाद कोर्ट ने सबूत के अभाव में अजय को जेल से रिहा कर दिया।''

साथ काम करते-करते हो गया प्यार, कर ली कोर्ट मैरिज

- रुपाली के हसबैंड कुलदीप बताते हैं, मैं लखीमपुर का रहने वाला हूं। 4 सिंतबर 2016 को मैं लखनऊ के शीरोज हैंगआउट में नौकरी के लिए आया था।

- उस दौरान मेरी मुलाकात रुपाली से हुई और हमारे बीच अच्छी दोस्ती हो गई। जब मैंने रुपाली के दास्तां सुनी, तो उससे शादी करने का फैसला कर लिया। इसके बाद हमने गाजीपुर में कोर्ट मैरिज कर ली।

- रूपाली इस समय प्रेग्नेंट है। उसकी देखरेख के लिए मैंने अपनी जॉब छोड़ दी है। हम लखनऊ में किराए पर कमरा लेकर रहते हैं। हम अपनी लाइफ में खुश हैं।

X
भोजपुरी फिल्मों में काम कर चुकभोजपुरी फिल्मों में काम कर चुक
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..