Home | Uttar Pradesh | Lucknow | News | Clamping with a knife on a child locked in school bathroom

ब्राइटलैंड स्कूल में CLASS-1 के बच्चे को चाकू मार बाथरूम बंद किया, एक लड़की पर शक

घायल बच्चा केजीएमयू के ट्रामा में भर्ती, स्कूल प्रबंधन ने पुलिस को नहीं सूचना

dainikbhaskar.com| Last Modified - Jan 17, 2018, 03:00 PM IST

1 of

लखनऊ. नामचीन स्कूल ब्राइटलैंड में क्लास फर्स्ट के 7 साल का बच्चा घायल हालत में मिला। बच्चे पर धारदार हथियार से वार के बाद स्कूल के बाथरूम में बंद कर दिया गया था। बाथरूम बच्चे की क्लास से 200 मीटर दूर है। घटना का पता तब चला, जब प्रेयर के लिए डिस्पलिन हेड बच्चों को कॉल करने पहुंचे। बाथरूम के पास से गुजरते वक्त दरवाजा पीटने की आवाज आई। स्कूल के डिसिप्लिन हेड अमित सिंह ने बताया, "दरवाजा खोलने पर बच्चा खून से लथपथ मिला। उसके मुंह में लाल रंग का कपड़ा ठूंसा गया था। बच्चे को किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में भर्ती कराया गया।" पुलिस ने बच्चे की फैमिली से मुलाकात की है और जांच शुरू कर दी है।

 

ब्राइटलैंड स्कूल को कारण बताओ नोटिस

-बच्चे को चाकू मारे जाने की वारदात DainikBhaskar.com में चलने के बाद डीआईओएस मुकेश कुमार ने स्कूल को प्रबंधक को नोटिस जारी कर रहा है- क्यों न आपके विद्यालय एवं आपके विरुद्ध विधिक कार्रवाई संपादित करा दी जाए?

-डीआइओएस ने  स्कूल के प्रबंधक व प्राचार्य से 24 घंटे के अंदर पूरे प्रकरण की रिपोर्ट तलब की है।

-एडवाइजरी में कहा गया है-"बच्चों को एन्ड्रावयड फोन पर लाने पर रोक  लगाई जाए।"

 

स्कूल एडमिनिस्ट्रेशन ने पुलिस को इन्फॉर्म नहीं किया- फैमिली

- त्रिवेणी नगर रहने राजेश सिंह हाईकोर्ट में जॉब करते हैं, उनका बेटा ऋतिक ब्राइटलैंड स्कूल में फर्स्ट क्लास का स्टूडेंट है। 

- राजेश का आरोप है, "इस वारदात के बावजूद स्कूल एडमिनिस्ट्रेशन ने पुलिस को इन्फॉर्म नहीं किया। इतना ही नहीं स्कूल एडमिनिस्ट्रेशन ने पुलिस में ना जाने के लिए दबाव बनाया। मामला मीडिया में आने के बाद स्कूल ने पुलिस को जानकारी दी।"

- उन्होंने कहा, "मंगलवार को बच्चे को स्कूल छोड़ने के बाद मैं कोर्ट चला गया था। थोड़ी देर बाद स्कूल से फोन आया कि बच्चे को चोट लग गई है। मैं पत्नी को लेकर स्कूल पहुंचा। जहां पता चला कि बच्चे पर चाकू से हमला किया गया था।"

- उन्होंने चौंकाने वाला आरोप लगाया कि बच्चे को स्कूल की एक लड़की ने हाथपैर बांधकर बाथरूम में बंद किया और चाकू से वार किया। हालांकि, इसकी वजह वे नहीं बता पाए।

 

बच्चे का बड़ा भाई भी 6 महीने से स्कूल नहीं गया

- घायल बच्चे का बड़ा भाई भी इसी स्कूल में 6th क्लास में पढ़ता है।

- पिता ने कहा, "मेरा बड़ा बेटा छह महीने से स्कूल नहीं जा रहा। वह कहता है इस स्कूल नहीं जाऊंगा।"

 

क्या हालत है घायल बच्चे की?

- ट्रामा सेंटर के  इंचार्ज प्रो. संदीप तिवारी का कहना है- "बच्चे के शरीर पर धारदार हथियार से चोट के निशान हैं। उसको कई टांके लगाए गए हैं। दो दिन तक बच्चे को मॉनिटरिंग में रखा जाएगा। 

- पिता ने कहा कि मेरे बेटे के चेहरे और छाती पर वार किया गया है।

 

पुलिस ने घटना पर क्या कहा?

- एसपी ट्रांसगोमती हरेंद्र कुमार ने कहा, " पुलिस गंभीरता से इस मामले की जांच कर रही है। हमने पीड़ित परिवार से मुलाकात की है। घटना मंगलवार की है और बुधवार को स्कूल एडमिनिस्ट्रेशन ने हमें इन्फॉर्म किया है। उन्हें तत्काल सूचना देनी चाहिए थी। हम इस मामले की अच्छी तरह पड़ताल कर रहे हैं।"

 

ब्राइटलैंड स्कूल को नोटिस, सभी एडवाइजरी भेजी गयी

-सरकार की ओर से जारी एडवाइजरी में कहा गया है-"बच्चों को एन्ड्रावयड फोन पर लाने पर रोक  लगाई जाए।"

-गैलरी कक्ष, प्रसाधन कक्षों में एवं अन्य छुपने के स्थानों पर सीसीटीवी लगाया जाए। स्कूल में लगे वाहनों के ड्राइवर, कन्डक्टर का नए सिरे से सत्यापन कराया जाए।

-यह सुनिश्चित किया जाए कोई भी व्यक्ति आर्म्स न ला सके।

-विद्यालय में अनाधिकृत व्यक्तियों के प्रवेश पर सख्ती से रोक लगाई जाए। 

Clamping with a knife on a child locked in school bathroom
इसी स्कूल में मंगलवार को घटना हुई।
Clamping with a knife on a child locked in school bathroom
स्कूल को नोटिस जारी
Clamping with a knife on a child locked in school bathroom
स्कूलों को सतर्कता की सलाह
prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now