--Advertisement--

ISI की महिला एजेंट ने शेख अली के दिमाग में घोला था जहर, सामने आया बिहार कनेक्शन

लखनऊ (यूपी). लखनऊ से गिरफ्तार किए गए संदिग्ध आतंकी शेख अली अकबर के तार बिहार से जुड़ रहे हैं।

Dainik Bhaskar

Feb 12, 2018, 11:41 AM IST
संद‍िग्ध आतंकी शेख अली के बैंक संद‍िग्ध आतंकी शेख अली के बैंक

लखनऊ (यूपी). लखनऊ से गिरफ्तार किए गए संदिग्ध आतंकी शेख अली अकबर के तार बिहार से जुड़ रहे हैं। कश्मीरी आतंकियों को हथियार सप्लाई करने वाले अली के अकाउंट की पड़ताल में यह खुलासा हुआ है। उसके बैंक अकाउंट में बिहार से भी रकम ट्रांसफर की गई थी। अब एटीएस टीम बिहार में अली के संपर्कों की पड़ताल में जुट गई है। माना जा रहा है कि जल्द ही अली के कुछ और करीबी एटीएस की गिरफ्त में होंगे।

ISI की महिला एजेंट ने शेख के दिमाग में घोला जहर...

- आतंकियों को असलहा आपूर्ति करने के मामले में अरेस्ट किए गए शेख अली को आतंकी बनाने की आईएसआई ने एक पाकिस्तानी महिला एजेंट को सौंप रखी थी।
- सोशल मीडिया के जरिए ब्रेन वॉश कर शेख को जेहाद की ओर धकेल दिया।
- शेख अली के मोबाइल की पड़ताल व पुलिस कस्टडी रिमांड के दौरान की गई पूछताछ में इस बात का खुलासा हुआ है कि शेख अली अकबर महिला एजेंट के बहकावे में आ गया।
- उसने शेख अली के दिमाग में ऐसा जहर घोला कि वह जेहाद के लिए किसी को भी मारने पर उतारू था।
- एटीएस टीम ने गाजीपुर में शेख अली के आस-पड़ोस व उसके दोस्त महबूब से हुई पूछताछ में पता चला कि उसके इरादे काफी खतरनाक थे।
- बीते कुछ समय से शेख अली बेहद खूंखार हो चुका था, वह आम बातचीत में भी मुसलमानों पर हो रहे कथित अत्याचार और कश्मीर में सेना की कथित ज्यादती के बारे में बात करते हुए भड़क जाता था।


बिहार से होनी थी हथियारों की डिलीवरी


- एटीएस गाजीपुर निवासी शेख अली को पुलिस कस्टडी रिमांड पर लेकर पूछताछ कर रही है।
- बताया जा रहा है कि पूछताछ में अली ने अपने संपर्कों व नेटवर्क के बारे में कई अहम जानकारियां दी हैं, जिनकी तस्दीक की जा रही है।
- वहीं कश्मीर गई एटीएस की टीम ने वहां पकड़े गए चार आतंकियों से पूछताछ में उनके व अली के बीच के संबंधों के बारे में कई राज उगलवाए हैं।
- बताया गया कि शेख अली को बिहार के एक बैंक अकाउंट से भी रुपये ट्रांसफर किए गए थे।
- माना जा रहा है कि शेख अली बिहार के कुछ लोगों से असलहों की डील कर रहा था।
- इन्हीं हथियारों की डिलीवरी होने पर वह उन्हें कश्मीरी आतंकियों तक पहुंचाने वाला था।


कई बैंक अकाउंट राडार पर


- कश्मीर में पकड़े गए आतंकियों के भी बिहार से सीधे तार जुड़े होने की आशंका को नकारा नहीं जा सकता।
- एटीएस अब कुछ अन्य बैंक अकाउंट्स व उनके होल्डर्स को राडार पर लिया है।
- ऐसे सभी अकाउंट्स के एक-एक ट्रांजेक्शन को गहनता से खंगाला जा रहा है।
- दूसरी ओर अली के मोबाइल से मिले नंबरों के जरिये भी कुछ संदिग्धों को चिन्हित किया गया है। बता दें कि, अली के दो मोबाइल फोन में आतंकियों से जुड़े नौ वाट्सएप ग्रुप एक्टिव थे, जिनका वह सक्रिय सदस्य था।
- अली ने जेहाद से जुड़ी कई पोस्ट भी की थीं। वाट्सएप ग्रुप से मिले पाकिस्तानी नंबरों की भी छानबीन की जा रही है।

फोन की सीडीआर में मिला एक शख्स


- एटीएस सूत्रों के मुताबिक, आतंकी शेख अली अकबर के मोबाइल फोन की सीडीआर की पड़ताल में उसके एक अन्य मददगार का पता चला है।
- बताया जा रहा है कि उस शख्स के मोबाइल फोन से अली के अलावा कश्मीर व पाकिस्तान के नंबरों पर कई बार बात की गई।
- सूत्रों की मानें तो एटीएस जल्द उस पर शिकंजा कसने की तैयारी में है। उसके खिलाफ साक्ष्य इकट्ठा किए जा रहे हैं।

X
संद‍िग्ध आतंकी शेख अली के बैंकसंद‍िग्ध आतंकी शेख अली के बैंक
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..