--Advertisement--

बेटे के बाद उठी बाप और मां की अर्थी, एक-एक करके ऐसे हो गई तीनों की मौत

होलिका दहन की रात हसनपुर गांव के लोग जहां जश्न में डूबे थे वहीं एक घर से उठी चीख ने जश्न का रंग फीका कर दिया।

Danik Bhaskar | Mar 03, 2018, 05:44 PM IST

अमेठी (यूपी). होलिका दहन की रात हसनपुर गांव के लोग जहां जश्न में डूबे थे वहीं एक घर से उठी चीख ने जश्न का रंग फीका कर दिया। यहां एक घर में लगी आग इतनी भयानक थी, जिसमें पति-पत्नी और बेटे की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि आग खाना बनाते समय घर में लगी थी। घर पूरी तरह जलकर खाक हो गया है।

होली का उत्सव फिर भी गांव में पसरा मातम
पूरे गांव में मातम की वजह हैं आग में झुलसे एक-एक करके फैमिली के तीन लोगों की मौत होना। पहले बेटे अजुर्न की मौत, फिर बेटे की मौत के सदमें में पिता रामनेवाज की मौत और अब पत्नी कलावती की मौत। एक साथ हुईं 3 मौतों से पूरे गांव में कोहराम मचा है। घर मे मौजूद अनाथ हुई दो बेटियों गीता और आशा का रो-रो कर बुरा हाल है।

फायर ब्रिगेड की टीम की लापरवाही आई सामने
मामले में फायर ब्रिगेड की टीम की लापरवाही की बात सामनें आई है, ग्रामीणों के अनुसार सूचना के घंटों बाद तक फायर ब्रिगेड की टीम आग बुझाने के लिए मौके पर नही पहुंची। कन्ट्रोल रूम में सूचना के बाद फायर ब्रिगेड की टीम आई भी तो प्रेशर इंजन फोर्स फेल होने के कारण बचाव कार्य में देर हो गई और तब तक सारा सामान जल कर राख मे तब्दील हो चुका था।