--Advertisement--

मकान मालिक से हुआ था प्यार, पति के 85 लाख रुपए के लिए पत्नी ने उठाया ये कदम

युवक के मर्डर में शामिल तीन लोगों को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया है।

Danik Bhaskar | Jan 25, 2018, 05:18 PM IST
पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को अरेस्ट किया है। पुलिस ने इस मामले में तीन लोगों को अरेस्ट किया है।

अलीगढ़. 13 जनवरी को कुंजलपुर में डेरी व्यापारी मर्डर केस में पुलिस ने तीन लोगों को अरेस्ट किया है। वहीं इस मामले में एक आरोपी फरार है। पुलिस ने घटना में इस्तेमाल स्कॉर्पियो गाड़ी और 325 बोर का तमंचा और पुलिस ने बरामद कर लिया है। अलीगढ़ के एसएसपी राजेश पांडेय ने बताया कि पैसों का मोटिव के साथ साथ अवैध संबंधों का भी एंगल है।

-पुलिस के मुताबिक, दूध का कारोबार करने वाले हरेन्द्र सिंह ने अंजू से साल 2009 में लव मैरिज किया था। शादी के बाद से उसको दो बेटियां हुई। शादी होने के बाद हरेन्द्र और अंजू गहतौली गांव में रहते थे। उसके बाद रामघाट रोड पर मकान बनवाकर रहने लगे।
-अंजू ने बताया- "शराब के नशे में उसका पति मारपीट और गाली-गलौज करता था। इसके बाद मंजू ने ब्यूटी पार्लर का काम शुरु किया। वहां पर हरेन्द्र उसके पास पहुंचकर मारपीट करने लगा। उसके बाद उसने अंजू को घर से बाहर निकाल दिया।"
-उसके बाद अंजू ने अपने दोस्त गर्वित से मदद मांगी। उसके किराए के मकान में रहने लगी। इस बीच दोनों का प्यार परवान चढ़ गया। कुछ दिन बाद जब दादी की मौत के बाद हुई तेरहवीं में अंजू गई, तब वहां हरेन्द्र- अंजू का समझौता हो गया लेकिन हरेन्द्र की शराब पीने की आदत नहीं गई। उसके बाद उसने हरेन्द्र को मारने की योजना बनाई।

- अंजू ने इसके लिए गर्वित की मदद ली। गर्वित ने बंटी और उसके साथियों से हरेन्द्र की जान का सौदा तीन लाख रुपये में कर दिया। उसके बाद हरेन्द्र के आने-जाने के रास्तों की रेकी की गई। 13 जनवरी को कुंजलपुर के पास बदमाशों ने हरेन्द्र की स्कूटी मारकर गिरा दी। उसके बाद ताबड़तोड़ गोलियां बरसा कर उसकी हत्या कर दी।

13 जनवरी को कारोबारी की हत्या हुई थी। 13 जनवरी को कारोबारी की हत्या हुई थी।
महिला को मकान मालिक से प्यार हुआ था। महिला को मकान मालिक से प्यार हुआ था।