--Advertisement--

स्कूल कैंपस में तेंदुआ घुसने से हड़कंप, बच्चे- टीचर समेत 60 लोग मौजूद

सूचना मिलने के बाद वन विभाग की टीम मौके पर पहुंच गई है।

Dainik Bhaskar

Jan 13, 2018, 01:31 PM IST
स्कूल में तेंदुआ के घुसने बाद स्कूल में तेंदुआ के घुसने बाद

लखनऊ. 7.30 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद ठाकुरगंज के स्कूल में घुसे तेंदुए को वन विभाग ने पकड़ लिया। अब उच्च अधिकारियों की राय के बाद उसे जंगल में छोड़ा जाएगा। फिलहाल, अभी तेंदुए को लखनऊ के चिडियाघर में रखा गया है। वन विभाग की टीम ने तेंदुए को पकड़ने के लिए ट्रैंकुलाइज गन का इस्तेमाल किया है। बेहोश होने पर उसे पकड़कर पिंजरे में कैद किया। सुबह 10.11 बजे नजर आया तेंदुआ...

- सुबह 10.11 बजे कॉलेज कैंपस में लगे सीसीटीवी में तेंदुआ नजर आया था। ये जानकारी स्कूल की टीचर सिस्टर जोशिया ने स्कूल मैनेजमेंट को दी। सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस और वन विभाग की टीम स्कूल कैंपस में तेंदुए की तलाश शुरु की।

-एक घंटे के तलाश के बाद तेंदुआ स्कूल बिल्डिंग के बेसमेंट में नजर आया। इसके बाद एसपी वेस्ट विकास चंद्र त्रिपाठी ने वन विभाग ने लखनऊ जू प्रशासन को मामले की जानकारी दी। करीब 1.30 घंटे बाद जू प्रशासन 17 लोगों की टीम के साथ स्कूल कैंपस में पहुंचा। इसके बाद जू प्रशासन ने पिंजरे को बेसमेंट की एक गेट के सामने लगा दिया। दूसरे गेट को ब्लॉक कर तीन खिड़कियों के रास्ते तेंदुए को लोहे की रॉड से पुश किया जाने लगा।

-चार घंटे तक ऐसा करने के बाद जब तेंदुआ पिंजरे में नहीं आया, तब बेसमेंट की छत को ड्रिल मशीन से तोड़ा गया। इसके बाद खिड़की से ट्रैकुलाइजर गन से उस पर कई वार किए गए। पांच वार के बाद एक बार तेंदुआ खिड़की की तरफ ऐसा लपका, जैसे वो खिड़की से बाहर आ जाएगा। उसके बाद वन विभाग की टीम ने एक-एक करके दो निशाने लगाए, जिसके बाद तेंदुआ बेहोश हो गया। वन विभाग की टीम के में मेंबर बेहोश तेदुएं के पास पहुंचे। जाल में बांधने के बाद उसे पिंजरे में बांधकर चिड़ियाघर लेकर आए।

दिव्यांग बच्चों के स्कूल में था तेंदुआ

-जानकारी के मुताबिक, ठाकुरगंज इलाके में बना ये सेंट फ्रांसिस स्कूल मूक-बधिर बच्चों का है। इस कैंपस में बच्चे का हॉस्टल है, जिसमें बच्चे रहते हैं। जिस वक्त कैंपस में तेंदुआ घुसा, उस वक्त से स्कूल में बच्चे और टीचर समेत 60 लोग मौजूद हैं। तेंदुआ को देखने के बाद लोगों ने खुद भागकर अपनी जान बचाई। तेदुएं के पकड़े जाने के बाद बच्चों में खुशी की लहर है। बच्चों ने हाथ हिलाकर अपनी खुशी का इजहार किया।

लखनऊ जू में कराएंगे मेडिकल: DFO

- लखनऊ जू के उपनिदेशक उत्कर्ष शुक्ला ने बताया- "तेंदुए को पकड़ने के लिए करीब 7.30 घंटे की मशक्कत के बाद तेंदुए को पकड़ा गया है। 2 डॉट लगने के बाद बेहोशी की हालत में हैं। लखनऊ जू में लेजाकर उसका मेडिकल कराएंगे। उच्च अधिकारी की राय के बाद उसे जंगल में छोड़ा जाएगा।"

X
स्कूल में तेंदुआ के घुसने बाद स्कूल में तेंदुआ के घुसने बाद
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..