--Advertisement--

आगरा एक्सप्रेसवे पर 'टॉल ब्रेक', अब लगेगा टैक्स, जाने किस गाड़ी कितना टॉल शुल्क

मंगलवार से ही लगेगा टॉल टैक्स लगना शुरू होगा

Danik Bhaskar | Jan 15, 2018, 08:23 PM IST
19 जनवरी की आधी रात से लखनऊ-आगरा 19 जनवरी की आधी रात से लखनऊ-आगरा

लखनऊ. आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर फ्री में फर्राटा नहीं भर सकेंगे। 302 किलोमीटर लंबे इस एक्सप्रेस-वे पर 19 जनवरी की आधी रात से टॉल टैक्स लगना शुरू हो गया है। इसके लिए यूपी एक्सप्रेसवेज औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीडा) आदेश जारी कर दिया। इस मार्ग पर चार पहिया वाहनों से 570 रुपये प्रति गाड़ी से टॉल टैक्स लिया जाएगा। यूपीडा को उम्मीद है कि एक्सप्रेस-वे से रोजाना एक करोड़ रुपये से ज्यादा का टैक्स हासिल होगा। ... पढ़ें किस गाड़ी पर कितना टैक्स

टॉल टैक्स की दरें

-कार,जीप, वैन या हल्के वाहन -570 रुपए प्रति वाहन
हल्के व्यवसायिक वाहन यान, हल्के माल यान मिनी बस-905 रुपये प्रति वाहन
-बस या ट्रक - 1815 रुपए प्रति वाहन
-12 टायर, भारी वाहन - 2785 रुपए प्रति वाहन
-विशाल आकार वाहन - 3575 रुपए प्रति वाहन

6 महीने के लिए 25 फीसदी छूट

-चार पहिया वाहनों से इस एक्सप्रेस-वे पर 760 रुपये तक टॉल वसूला जाना था। सरकार ने फिलहाल इस पर 25 प्रतिशत की छूट देते हुए इसे 570 रुपये कर दिया है। हल्के माल वाहन या मिनी बस से 1205 रुपये के बजाय 905 रुपये लिए जाएंगे। छह महीने बाद अगर छूट बंद हुई तो बस-ट्रक का टॉल करीब 600 रुपये और बड़े-भारी मशीनरी वाले वाहनों का टॉल हजार से 1200 रुपये के बीच बढ़ जाएगा।

जितनी दूरी, उतना टैक्स
-अगर कोई लखनऊ से आगरा के बीच किसी जगह पर एक्सप्रेस-वे से उतरता है, तो उससे एक्सप्रेस-वे के एंट्री पॉइंट पर उस जगह तक का टॉल लिया जाएगा।
-अगर कोई जमा किए गए टॉल से आगे जाता है तो जहां वह एक्सप्रेस-वे छोड़ेगा। वहां उससे बकाया वसूला जाएगा। इसके लिए एक्सप्रेस-वे पर दो मेन टॉल प्लाजा और 7 इंटरचेंज हैं।

जानिए, कहां है आपका इंटरचेंज
-हरदोई, उन्नाव के लोग बांगरमऊ के इंटरचेंज से एक्सप्रेस-वे पर चढ़ सकेंगे। इसके बाद कानपुर और कन्नौज में एक-एक इंटरचेंज है। तिरवां का इंटरचेंज फर्रूखाबाद, मूंज का इंटरचेंज इटावा, करहल का इंटरचेंज मैनपुरी और बटेसर का इंटरचेंज आगरा और फिरोजाबाद को जोड़ेगा।

दोपहिया वाहनों पर भी प्रस्तावित है टैक्स

-आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर चलने वाले दोपहिया वाहनों से भी टैक्स वसूलने की तैयारी है।

-एक अधिकारी ने कहा-" एक्सप्रेस-वे पर चलने वाले दोपहिया वाहनों पर भी टैक्स प्रस्तावित है।"
- एक्सप्रेस-वे पर भीड़ रोकने के लिए दोपहिया वाहनों पर टॉल टैक्स का संकेत दिया गया है।

एक्सप्रेस-वे पर बनेंगी 9 पुलिस चौकियां

-एक्सप्रेस-वे पर चलने वाले यात्रियों की सुरक्षा के लिए 9 पुलिस चौकियां बनाई जाएंगी।

- डॉयल-100 की गाड़ियां पेट्रोलिंग करेंगी। रिटायर्ड पुलिस कर्मचारियों को लगाया जाएगा।
-इसके अलावा एक्सप्रेस-वे पर एक नोडल अधिकारी तैनात किया जाएगा।

ट्रक वालों को मिलेगी मुफ्त चाय

-एक्सप्रेस-वे से गुजरने वाले ट्रक ड्राइवरों को रात के समय एक चाय फ्री दी जाएगी।
- चाय का इंतजाम यूपीडा करेगा। ताकि गाड़ी चलाते समय ड्राइवरों को नींद न आए और हादसों पर लगाम कसी जा सके।

एक्सप्रेस वे की खासियतें

-यह देश का सबसे लंबा 6 लेन वाला एक्सप्रेस-वे है, जिसका आठ लेन तक विस्तार हो सकता है।
-इस एक्सप्रेसवे पर बने पुल, पुलिया, अंडरपास और अन्य स्ट्रचर आठ लेन के है।
- गंगा, यमुना नदी पर आठ लेन पुल है। यह एडवांस ट्रैफिक मैनेजमेंट से तैयार है।
- इस पर लड़ाकू विमानों के उतरने के लिए 3.3 किलोमीटर की हवाई पट्टी बनाई गई है।

अखिलेश बवनाई थी ये सड़क

-अखिलेश यादव ने 302 किलोमीटर के इस एक्सप्रेसवे को 22 महीने में बनवा दिया था। 21 नवंबर 2016 को इसका उद्घाटन किया था।

-ये एक्सप्रेस-वे आगरा, फिरोजाबाद, मैनपुरी, इटावा, औरैया, कन्नौज, हरदोई, कानपुर नगर और उन्नाव होते हुए लखनऊ तक आता है।
-एक्सप्रेस-वे परियोजना की खास बात ये है कि 10 जिलों के 232 गांवों में लगभग 3500 हेक्टेयर भूमि 30 हजार 456 किसानों से आपसी सहमति से बिना किसी विवाद के खरीदी गई है।