Hindi News »Uttar Pradesh »Lucknow »News» Triple Talaq Victim Emotional Story Of Barabanki

पति दोबारा बनना चाहता था दूल्हा, पत्नी ने किया ऐसा कि रुक गई बरात

DainikBhaskar.com आपको 28 मार्च 2017 की बाराबंकी की ऐसी दर्दनाक स्टोरी सुनाने जा रहा है।

DainikBhaskar.com | Last Modified - Dec 28, 2017, 11:43 AM IST

  • पति दोबारा बनना चाहता था दूल्हा, पत्नी ने किया ऐसा कि रुक गई बरात
    +4और स्लाइड देखें
    28 मार्च की तीन तलाक से पीड़ित आलिया ने फांसी लगा ली थी।

    बाराबंकी.एक बार में तीन तलाक को क्रिमिनल ऑफेंस के दायरे में लाने के लिए सरकार ने गुरुवार को लोकसभा में बिल पेश कर दिया। जिसे 'द मुस्लिम वुमन प्रोटेक्शन ऑफ राइट्स ऑन मैरिज' नाम दिया गया है। ऐसे में DainikBhaskar.com आपको 28 मार्च 2017 की बाराबंकी की ऐसी दर्दनाक स्टोरी सुनाने जा रहा है, जहां एक महिला ने तीन तलाक और अपने पति की दूसरी शादी की खबर सुनकर जान दे दी थी। वो भी उस दिन, जिस दिन उसके पति की बरात निकलनी थी। पेड़ पर लटका मिला था शव...

    - ये मामला यूपी के बाराबंकी जिले के थाना जहांगीराबाद क्षेत्र के ग्राम मंझपुरवा का था। यहां तीन तलाक से पीड़ित आलिया ने फांसी लगा ली। गांव के पास आम के पेड़ से उसका शव लटकता मिला था।
    - महिला को शादी के एक साल बाद ही प्रेमी से पति बने इमरान उर्फ कल्लू ने तलाक दे दिया था और खुद दूसरी शादी करने जा रहा था।
    - तीन तलाक की शिकार आलिया के पिता रफी के मुताबिक, अपने पति के दूसरे निकाह की सूचना से बेटी परेशान थी। 28 मार्च की रात वो घर से गायब हुई और अगले दिन शाम यानी बुधवार को गांव से 300 मीटर दूर आम के पेड़ में उसका शव लटका मिला।

    पति इमरान पर नहीं दिखा कोई असर
    - इस घटना का इमरान उर्फ कल्लू पर कोई असर नहीं दिखा। सुबह आलिया के परिजन उसके जनाजे की तैयारी में जुटे थे, वहीं इमरान दूसरी शादी के लिए बरात ले जाने को उत्साहित दिखाई दे रहा था।
    - इमरान के घरवाले और रिश्तेदार भी आलिया का जनाजा उठने के बाद इमरान की बरात ले जाना चाहते थे।
    - पोस्टमॉर्टम के बाद शाम करीब साढ़े पांच बजे शव गांव पहुंचा तो आलिया के जनाजे में सैकड़ों लोग शामिल हुए। इमरान व उसके परिजन अपने दरवाजे पर डटे रहे थे।
    - पूछने पर इमरान ने शादी की तिथि बढ़ा दिए जाने की बात कही। उसके चेहरे पर आलिया की मौत का कोई पछतावा भी नहीं था।

    आलिया और इमरान का हुआ था प्रेम विवाह
    - आलिया ने पड़ोस में रहने वाले युवक इमरान उर्फ कल्लू से परिवारीजनों की रजामंदी बगैर प्रेम विवाह किया था। पति इमरान आलिया को उसके माता-पिता से मिलने नहीं देता था।
    - लेकिन निकाह के एक साल बाद वो अपनी अम्मी-अब्बू से जुदाई सहन नहीं कर सकी और पति से पूछे बिना उनसे मिलने पहुंच गई। जब वह लौटकर आई तो पति ने मोहब्बत के सारे रिश्ते तोड़कर 'तलाक, तलाक, तलाक' कहकर उसे अपनी जिंदगी से दूर कर दिया।
    - पति से ठुकराई आलिया माता-पिता के साथ रहने लगी थी। इसके बाद कल्लू ने कुर्सी क्षेत्र के अनवारी बेहटा गांव की लड़की से दूसरी शादी तय कर ली।

    आलिया ने दहेज उत्पीड़न और गुजारे का किया था केस
    - पति से ठुकराई आलिया माता-पिता के साथ रहने लगी और दहेज उत्पीड़न के साथ ही गुजारा भत्ते का केस इमरान के खिलाफ किया था।
    - इसके बाद कल्लू ने आलिया के पिता रफीक और भाइयों के खिलाफ मारपीट-जान से मारने की कोशिश का केस दर्ज कराया था।

    क्या कहा था पुलिस ने?
    - थानाध्यक्ष जहांगीराबाद बीपी यादव का कहना था कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में फांसी लगाकर आत्महत्या की पुष्टि हुई है। ये बात सामने आई है कि तलाक के बाद पति की दूसरी शादी का से आलिया परेशान थी। इस वजह से उसने आत्महत्या कर ली।

  • पति दोबारा बनना चाहता था दूल्हा, पत्नी ने किया ऐसा कि रुक गई बरात
    +4और स्लाइड देखें
    इस घटना का इमरान उर्फ कल्लू पर कोई असर नहीं दिखा। आलिया के परिजन उसके जनाजे की तैयारी में जुटे थे, वहीं इमरान दूसरी शादी के लिए बरात ले जाने को उत्साहित दिखाई पड़ा था।
  • पति दोबारा बनना चाहता था दूल्हा, पत्नी ने किया ऐसा कि रुक गई बरात
    +4और स्लाइड देखें
    आलिया और इमरान का मैरि‍ज सर्टिफिकेट।
  • पति दोबारा बनना चाहता था दूल्हा, पत्नी ने किया ऐसा कि रुक गई बरात
    +4और स्लाइड देखें
    आलिया ने पड़ोसी युवक इमरान उर्फ कल्लू से परिवारीजनों की रजामंदी बगैर प्रेम विवाह किया था।
  • पति दोबारा बनना चाहता था दूल्हा, पत्नी ने किया ऐसा कि रुक गई बरात
    +4और स्लाइड देखें
    आलिया की मौत से परिवार वालों का रो-रोकर बुरा हाल था।
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Lucknow News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Triple Talaq Victim Emotional Story Of Barabanki
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×