--Advertisement--

BJP के लिए खास है मंगल और शनिवार का दिन, 11 साल बाद फिर हो रहा शपथ ग्रहण

लखनऊ की पहली मेयर संयुक्ता भाटिया आज शपथ ग्रहण करेंगी।

Danik Bhaskar | Dec 12, 2017, 12:32 PM IST
दिनेश शर्मा ने पहली बार 14 नवंबर, 2006 को शपथ ग्रहण की थी, उस मंगलवार था। (फाइल) दिनेश शर्मा ने पहली बार 14 नवंबर, 2006 को शपथ ग्रहण की थी, उस मंगलवार था। (फाइल)

लखनऊ. नगर निगम, नगर पालिका परिषद और नगर पंचायतों में जीते उम्मीदवारों को आज (14 दिसंबर) को पद और गोपनीयता की शपथ लेंगे। ये शपथ ग्रहण मंगलवार को आयोजित किया गया है। असल में मंगलवार और शनिवार का दिन शपथ ग्रहण के लिए चुना जाना या फिर सदन की पहली बैठक भी मंगलवार को ही बुलाने के पीछे बीते 11 वर्ष से बीजेपी का एक टोटका है।


दिनेश शर्मा ने मंगलवार और शनिवार को ली थी शपथ


-संयुक्ता भाटिया से पहले मौजूदा डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा दो बार मेयर चुने गए थे। पूर्व के महापौर डॉ दिनेश शर्मा ने भी अपने पहले कार्यकाल की शपथ मंगलवार को ही ली थी।
-दिनेश शर्मा ने पहली बार 14 नवंबर, 2006 को शपथ ग्रहण की थी, उस मंगलवार था। हालांकि दूसरी बार दिनेश शर्मा ने 14 जुलाई, 2012 को शपथ ग्रहण की थी उस दिन शनिवार था।
-दिनेश शर्मा ने नगर निगम सदन व कार्यकारिणी समिति की बैठकें भी अधिकतर मंगलवार या फिर शनिवार को ही बुलाते रहे हैं। वहीं, मौजूदा योगी सरकार की अधिकाश कैबिनेट बैठकें भी मंगलवार को ही होती हैं। इसी के मद्देनजर शहर की प्रथम महिला मेयर व पार्षदों का शपथ ग्रहण बीजेपी ने मंगलवार को ही कराना बेहतर माना है।

पहली महिला मेयर भी मान रही हैं ये टोटका


-लखनऊ की पहली महिला मेयर संयुक्ता भाटिया ने भी पार्टी के इस टोटके को मानते हुए मंगलवार को शपथ ग्रहण करेंगी।
-चुनाव प्रचार प्रारंभ करने के पहले व जीत के बाद संयुक्ता भाटिया ने परिवार समेत हनुमान सेतु मंदिर जाकर माथा टेककर उनका आशीर्वाद लिया था।

शपथ ग्रहण के दो माह बाद हो सकती है पहली बैठक


-शपथ ग्रहण समारोह मंगलवार को कराया जा रहा है। इसके बाद करीब दो माह बाद अच्छे दिन शुरू होने पर 'मंगलवार' के दिन ही सदन की पहली बैठक होने की पूरी संभावना व्यक्त की जा रही है।
-पंडित धनंजय मिश्रा ने बताया- "14 दिसंबर (गुरूवार) से खरमास लग रहा है। जो मकर संक्रांति तक चलेगा। इसके बाद शुक्र अस्त हो रहा है जो 3 फरवरी को उदय होगा। चूंकि हिन्दू मान्यता में इस दौरान कोई भी शुभ या मंगल और नया कार्य नहीं किया जाता।" यही वजह है कि सदन की पहली बैठक भी करीब दो माह बाद मंगलवार के ही दिन रखे जाने के पूरे आसार व्यक्त किये जा रहे हैं।


विपक्ष कर सकता है जल्द बैठक की मांग


-हालांकि भाजपा के विरोधी दल कांग्रेस, सपा व बसपा पार्षद सदन की पहली बैठक जल्द बुलाने की मांग कर सकते हैं। वह शपथ ग्रहण समारोह के बाद जल्द से जल्द सदन की बैठक बुलाने की मांग करेंगे।

क्या कहना है विपक्ष का


-वहीं, भाजपा प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा - "बीजेपी हमेशा से हिंदू मायथेलॉजी पर काम करती है। इसके अनुसार हर दिन का अपना अलग महत्व होता है। हर दिन की अपनी अलग मान्यता है। हनुमान जी का सबसे खास महत्व मानती है हमारी पार्टी। मंगलवार को हुआ कार्यक्रम हर किसी के लिए शुभ संदेश लेकर आता है।"

दिनेश शर्मा ने 14 जुलाई, 2012 को शपथ ग्रहण की थी उस दिन शनिवार था। (फाइल) दिनेश शर्मा ने 14 जुलाई, 2012 को शपथ ग्रहण की थी उस दिन शनिवार था। (फाइल)
संयुक्ता भाटिया लखनऊ की पहली महिला मेयर हैं। (फाइल) संयुक्ता भाटिया लखनऊ की पहली महिला मेयर हैं। (फाइल)